विज्ञापन
विज्ञापन

कट्टरपंथ को सख्त संदेश: जिन महिलाओं ने बुर्का पहनने का विरोध किया, उन पर तेजाब फेंके गए

तवलीन सिंह Updated Mon, 12 Aug 2019 01:02 AM IST
Jammu kashmir
Jammu kashmir - फोटो : PTI
ख़बर सुनें
कश्मीर घाटी में आगे क्या होगा, कहना मुश्किल है। लेकिन एक चीज जो अभी से साफ दिखने लग गई है, वह यह कि अब वहां इस्लामी खिलाफत की स्थापना के बारे में सोचना असंभव है। अनुच्छेद 370 के हटाए जाने का और कोई लाभ मिले या न मिले, इतना बहुत है कि देश के अंदर एक इस्लामी राज्य नहीं बन सकेगा।
विज्ञापन
बुरहान वानी ने अपने हर वीडियो में स्पष्ट किया था कि उसकी लड़ाई कश्मीर की आजादी के लिए नहीं, कश्मीर में शरीयत लाने के लिए, इस्लाम के लिए है। वानी जिस जेहादी संस्था का सरगना था, उस हिज्बुल मुजाहिदीन को पाकिस्तान ने कश्मीर में ‘आजादी’ के आंदोलन का चरित्र बदलने के मकसद से बनाया था।

यासीन मलिक के जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट ने सिर्फ कश्मीर में ‘आजादी’ हासिल करने के लिए आंदोलन शुरू किया था। पर आंदोलन शुरू होने के कुछ ही महीने बाद उसका नेतृत्व हिज्बुल मुजाहिदीन ने अपने हाथों में लिया और यह साबित किया कि उसके पास न सिर्फ बेहतर हत्यारे और जेहादी सिपाही हैं, बल्कि पाकिस्तान की छत्रछाया भी है। हिज्बुल मुजाहिदीन की अगुवाई में कश्मीर घाटी की शक्ल पूरी तरह बदल गई है।

जिस कश्मीर में कभी बुर्के नहीं दिखते थे, वहां आज एक भी औरत बेनकाब नहीं दिखती। शुरू में जिन महिलाओं ने बुर्का पहनने का विरोध किया, उन पर तेजाब फेंके गए। साथ में सिनेमा घर, शराब की दुकानें और पांच सितारा होटलों में बार जबर्दस्ती बंद किए गए। धीरे-धीरे कश्मीरी इस्लाम का उदार चेहरा कट्टरपंथी बनता गया। कश्मीर के स्कूलों में बच्चियां भी अब नकाबपोश दिखती हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

डिजिटल मीडिया में करियर की संभावनाओं पर नि:शुल्क काउंसलिंग का आयोजन
TAMS

डिजिटल मीडिया में करियर की संभावनाओं पर नि:शुल्क काउंसलिंग का आयोजन

घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति
Astrology Services

घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Opinion

कश्मीर की लड़ाई जलालाबाद और काबुल में!

पाकिस्तान के दो अधूरे एजेंडे हैं-एक, कश्मीर को हथियाना और दूसरा, काबुल में कमजोर सरकार। पाकिस्तान के ये अधूरे एजेंडे एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं, इसलिए भारत को कूटनीति का सहारा लेना होगा।

17 सितंबर 2019

विज्ञापन

महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस की पत्नी ट्विटर पर हुईं ट्रोल, पीएम मोदी को बताया 'राष्ट्रपिता'

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की पत्नी ट्विटर पर जमकर ट्रोल हो रही हैं। अमृता फडणवीस ने ट्विटर पर प्रधानमंत्री मोदी को उनके जन्मदिन की बधाई दी, लेकिन इस बधाई संदेश में उन्होने पीएम मोदी को राष्ट्रपिता बता दिया।

17 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree