विज्ञापन
विज्ञापन

अमेरिका से तकरार चीन को चाहिए नए बाजार : अर्थव्यवस्था की सेहत दांव पर है

कीथ  ब्रैशर Updated Sun, 28 Jul 2019 12:57 AM IST
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर
ख़बर सुनें
चीन में असंख्य फैक्टरियां हैं, जो बेशुमार चीजें बनाती हैं। हालांकि अमेरिका के साथ छिड़े व्यापार युद्ध के कारण उसका सबसे बड़ा उपभोक्ता अब उससे पहले जैसी चीजें नहीं खरीदता। ऐसे में, चीन नए खरीदार ढूंढ रहा है। इसी सप्ताह उसने एशिया-प्रशांत क्षेत्र में मुक्त व्यापार क्षेत्र स्थापित करने की अपनी कोशिशें फिर शुरू कीं। अगर वह अपने उद्देश्य में सफल होता है, तो यह समझौता उसके लिए ऑस्ट्रेलिया से भारत तक मुक्त व्यापार क्षेत्र खोल देगा। वह चीन, जापान और दक्षिण कोरिया में व्यापार शुल्क कम करने के सिलसिले में भी बात कर रहा है।
विज्ञापन
चीनी अर्थव्यवस्था की सेहत दांव पर है। पिछले सप्ताह उसकी आर्थिक विकास दर पिछले तीन दशक में सबसे कम दर्ज की गई। इसकी एक वजह यह है कि ट्रंप प्रशासन के साथ चल रहे व्यापार युद्ध के कारण उसका निर्यात क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। इससे बचने के लिए चीन स्थित विदेशी कंपनियां अब दूसरे देशों में चले जाना चाहती हैं। चूंकि निकट भविष्य में इस समस्या का समाधान नहीं दिखता, ऐसे में चीन को हर हाल में अपनी उत्पादित वस्तुओं के लिए नया बाजार चाहिए। 

ग्वांग्झू स्थित जिनान यूनिवर्सिटी में इंटरनेशनल रिलेशन्स के प्रोफेसर चेन डिंगडिंग कहते हैं, 'अमेरिका की जगह लेना मुश्किल है, पर आपको कोशिश करनी होगी और अपने में विविधता लानी होगी। हम हमेशा के लिए अमेरिका पर निर्भर रहना नहीं चाहते।' पर चीन के लिए दूसरे देशों से व्यापारिक समझौता करना आसान काम नहीं है। वह जिन देशों के साथ नए कारोबारी रिश्ते बनाना चाहता है, वे देश चीन के इरादे के प्रति चिंतित हैं। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन
Oppo Reno2

OPPO के Big Diwali Big Offers से होगी आपकी दिवाली खूबसूरत और रौशन

कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि  व्  सर्वांगीण कल्याण  की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

कराएं दिवाली की रात लक्ष्मी कुबेर यज्ञ, होगी अपार धन, समृद्धि व् सर्वांगीण कल्याण की प्राप्ति : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Blog

हरियाणा चुनाव 2019ः किन इलाकों में किन मुद्दों पर आमने-सामने है भाजपा-कांग्रेस?

2019 के लोकसभा चुनाव परिणाम और राष्ट्रवादी चुनावी मुद्दों की भारी जीत ने विश्लेषकों को चुप करा दिया है। कोई भी कुछ बोलने को तैयार नहीं है, क्योंकि नरेंद्र मोदी के चुनावी करिश्मा से सारे डरते हैं।

19 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

सेना प्रमुख बिपिन रावत का बयान, FATF की ब्लैकलिस्ट की चेतावनी के बाद भारी दबाव में है पाकिस्तान

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि वित्तीय कार्रवाई कार्यबल यानि फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की चेतावनी से पाकिस्तान पर दबाव बढ़ेगा और वो आतंकवादी गतिविधियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए मजबूर होगा।

19 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree