विज्ञापन
विज्ञापन

सब कुछ ईश्वर की देन है

Yashwant Vyas Updated Sun, 29 Jul 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
यह मूढ़ मानव का तर्क है कि अच्छाई उसने की और बुराई प्रभु के कारण हुआ है। अगर हम कोई सफलता अर्जित करते हैं, तो उसका श्रेय भी उसी तरह ईश्वर को देना चाहिए, जिस तरह विफलता पर प्रभु को कोसते हैं। एक बार एक संत एक गांव से गुजर रहे थे।
विज्ञापन
विज्ञापन
उन्होंने लहलहाते हुए गेहूं के पौधों को देखकर कहा, भगवान की कृपा से इस बार फसल बहुत अच्छी हुई है। किसान ने यह सुना, तो वह बोला, साधु बाबा, इसमें भगवान की कृपा कहां से आ टपकी। मैंने खून-पसीना एक कर खेत जोता, बीज बोया और पानी देता रहा। मेरे परिश्रम के कारण ही खेत लहलहा रहा है। संत ने यह बोल सुने और मुसकराते हुए आगे बढ़ गए।

कुछ दिन बाद संत उसी रास्ते से लौट रहे थे। उन्होंने देखा कि गेहूं के पौधे झुलसे पड़े हैं। किसान से सहानुभूति व्यक्त करते हुए उन्होंने पूछा, भैया, हरे-भरे खेतों को क्या हो गया? किसान ने कहा, महाराज, मुझे भगवान ने तबाह कर दिया। तमाम फसल को कीड़ा चट कर गया।

यह सुनते ही संत ने कहा, भैया, पिछले दिनों तो तुम खेतों को लहलहाते हुए देखकर कह रहे थे कि भगवान की कृपा क्या होती है! अब बेचारे भगवान को इस तबाही का दोष क्यों देते हो? अपने प्रारब्ध या प्रकृति के प्रकोप को दोषी क्यों नहीं मानते? यह सुनकर किसान समझ गया कि कुछ पाने के लिए परिश्रम के साथ-साथ भगवान अर्थात प्रकृति की मेहरबानी भी जरूरी है।

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

विवाह में आ रहीं अड़चनों और बाधाओं को दूर करने का पाएं समाधान विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
ज्योतिष समाधान

विवाह में आ रहीं अड़चनों और बाधाओं को दूर करने का पाएं समाधान विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Opinion

क्या ईरान से अमेरिका का बढ़ता तनाव युद्ध में बदलेगा, उकसाने की हो रही कोशिश

अमेरिका जब पहले ही यमन के निरर्थक युद्ध में फंसा हुआ है, तब सऊदी अरब के उकसावे पर ईरान पर उसके हमला करने के भीषण नतीजे होंगे।

21 मई 2019

विज्ञापन

18 मई के दिन चुनावी हलचल का पूरा लेखाजोखा, चुनावी सरगर्मियों के बीच पीएम मोदी पहुंचे केदारनाथ धाम

लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर देश में राजनीतिक माहौल गरमा गया है। किसको टिकट मिला, किसका टिकट कटा, कौन सा नेता बना आयाराम गयाराम, किसने कहां की जनसभा,रैलियों और भाषणों में क्या कहा.. देखिए पूरे दिन की चुनावी हलचल का लेखाजोखा।

22 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election