विज्ञापन
विज्ञापन

म्हारी छोरियां छोरों से कम हैं के...

Arvind Kumarअरविंद अरविंद Updated Tue, 17 Sep 2019 07:12 AM IST
अब वो दिन लद गए जब महिलाओं की पहचान चूल्हे से शुरू हो कर घर की दहलीज़ तक ही खत्म हो जाती थी
अब वो दिन लद गए जब महिलाओं की पहचान चूल्हे से शुरू हो कर घर की दहलीज़ तक ही खत्म हो जाती थी - फोटो : Pixabay
ख़बर सुनें
पढ़ाई हो या खेल, प्रोग्राम की कोडिंग हो या जहाज उड़ाना, आज आपको हर क्षेत्र में नारी शक्ति की उपस्तिथि दिख ही जाएगी। अब वो दिन लद गए जब महिलाओं की पहचान चूल्हे से शुरू हो कर घर की दहलीज़ तक ही खत्म हो जाती थी। आज महिलाएं हर क्षेत्र में अपनी एक अलग पहचान बना रही हैं, चाहे बुद्धिमत्ता हो या शारीरिक शक्ति, हर जगह वह सफलताओ के परचम लहरा रही हैं।
विज्ञापन
हर साल के सीबीएसई के दसवीं और बारहवीं के परिणाम अब भी उसी परिपाटी मे आते हैं कि इस साल भी लडकियों ने लड़कों से बाज़ी मारी। हर साल लड़कियों के पास होने का प्रतिशत लड़कों से ज्यादा ही रहता है। जबकि ज्यादातर लड़कियों को अब भी उतने मौके और संसाधन उपलब्ध नहीं होते जितने की लड़को को होते हैं, उन्हें पढाई के साथ साथ घर की जिम्मेदारी भी उठानी पड़ती है, तब भी हर ज़िम्मेदारी को निभाते हुए उपलब्ध अवसरों में भी लड़को को पीछे छोड़ रखा है।

सोचिये कितनी बड़ी बात है न की जब पूरे देश में साक्षरता दर लड़कों की ज्यादा है लेकिन अपनी लगन और मेहनत से परिणाम प्रतिशत में लड़कियां हमेशा आगे रहती हैं। गाहे बगाहे लोग कहते रहते हैं आज की महिलाएं पुरुषों के साथ कंधें से कंधा मिलाकर चल रही हैं, लेकिन सच्चाई यह है की महिलाएं आज पुरुषों से काफी आगे हैं। जहां एक तरफ वो घर पर आदर्शवादी मां, बहु  बेटी, बहन और पत्नी की जिम्मेदारी निभा रही हैं, वही घर से बाहर निकल कर बोर्ड मीटिंग भी उतने ही आत्मविश्वास और सफलता से करती है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

Recommended

आखिर भारतीयों को क्यो पसंद है रमी खेलना?
Junglee Rummy

आखिर भारतीयों को क्यो पसंद है रमी खेलना?

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा और घर बैठें पाएं प्रसाद : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा और घर बैठें पाएं प्रसाद : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Opinion

अर्थव्यवस्था का एक आयाम यह भी

देखभाल अर्थव्यवस्था ऐसी प्रणाली है, जिसमें देखभाल के शारीरिक, भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक पहलुओं को पूरा करने की गतिविधियां शामिल होती हैं।

22 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

कमलेश तिवारी हत्याकांड में ATS को मिली कामयाबी, दोनों मुख्य आरोपी गिरफ्तार

कमलेश तिवारी हत्याकांड में फरार दोनों आरोपियों को गुजरात एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया है. दोनों आरोपियों के नाम अश्फाक और मुईनुद्दीन है.

22 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree