हाईवे पर क्राइम कंट्रोल के लिए पुलिस मुस्तैद

औरैया, उत्तर प्रदेश Updated Thu, 07 Dec 2017 12:04 AM IST
Police constable for crime control on highway
Kalka-Shimla Highway
हाईवे पर बढ़ती अपराध की वारदातों पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस सतर्क हो गई है। चालीस किलोमीटर के हाईवे को चार जोन में बांटा गया है। हाईवे पर क्राइम कंट्रोल के लिए अजीतमल व औरैया सीओ पर जिम्मेदारी है। यह टीमें दिन-रात हाईवे के राहगीरों की सुरक्षा के लिए मुस्तैद रहेंगी।

नेशनल हाईवे पर बढ़ती आपराधिक वारदातों पर अंकुश लगाए जाने के लिए पुलिस ने तैयारी शुरू कर दी है।  क्राइम कंट्रोल करने के लिए एसपी संजीव त्यागी ने हाईवे को चार जोन में बांटा है। पहला जोन कानपुर देहात की सीमा से औरैया नगर तक है। दूसरा औरैया नगर से हाईवे रोड ग्राम करमपुर तक है। पहले व दूसरे जोन की जिम्मेदारी सीओ सिटी को सौंपी गई है। जबकि करमपुर से अजीतमल कस्बे को तीसरे व अजीतमल से इटावा जनपद की सीमा तक चौथे जोन में विभाजित किया गया है।

तीसरे व चौथे जोन की जिम्मेदारी सीओ अजीतमल को है। वहीं जोन वार सुरक्षा के इंतजाम भी किए गए हैं। जोन 1 व 2 के अप व डाउन ट्रैक पर दो-दो चीता मोबाइल तैनात किए गए हैं। जबकि 3 व 4 के अप व डाउन ट्रैक पर एक-एक कोबरा पुलिसकर्मी मुस्तैद किए गए हैं। जनरल पुलिस की 9 टीमें बनाई गई हैं, जो दिन व रात में हाईवे के राहगीरों की सुरक्षा के लिए मुस्तैद रहेंगी। साथ ही संदिग्ध परिस्थितियों में हाईवे से गुजरने वाले कार सवार व बाइक सवारों से भी पूछताछ की जाएगी।

मौजूद रहेंगी दो गाड़ियां
औरैया। एएसपी आरके सक्सेना ने बताया हाईवे पर क्राइम कंट्रोल के लिए ब्रज वाहन की तर्ज पर दो गाड़ियां लगाई जाएगी, जो हाईवे की सुरक्षा के लिए ही होगी। इन गाड़ियों में असलहों से लैस आधा दर्जन पुलिसकर्मी होंगे। अगर किसी प्रकार की कोई अनहोनी घटना होती है तो उन्हीं की जिम्मेदारी होगी।

वारदातों पर अंकुश लगाने के प्रयास
हाईवे पर क्राइम कंट्रोल के लिए पुलिस पूरी तरह से प्रयास कर रही है। बढ़ती वारदातों को देखते हुए हाईवे को चार जोन में विभाजित किया गया है, इससे आपराधिक घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सकता है। -संजीव त्यागी, एसपी

हादसों में कमी के लिए 2020 तक इंतजार
औरैया। जिले की खस्ताहाल सड़कों को दुरुस्त कराने व सड़क हादसों में कमी लाने के लिए सड़क सुरक्षा योजना के तहत सड़कों को बनाए जाने का निर्णय लिया है। सबसे ज्यादा लोगों की जाने सड़क हादसों में ही जाती है। जल्द ही इस योजना के तहत कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

सड़क हादसों में हो रहे इजाफे में कमी लाने को विभाग लाख जतन कर ले, लेकिन सड़क की हालत इस पर भारी पड़ रही है। हादसों में कमी लाने के लिए जिला प्रशासन भी हाथ-पैर मारने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। इसके लिए सड़क निर्माण में हो रही देरी भी आड़े आ रही है। जिले के जर्जर हालत में पड़े मार्गाें को दुरुस्त कराए जाने के लिए प्रशासन ने शासन को पत्र भेजा है। अधिकतर हाईवे पर लोगों की जानें जाती हैं।

हाईवे पर प्रतिदिन कोई न कोई दुर्घटना होती है। सड़क हादसे कम हो इसके लिए सड़क सुरक्षा योजना बनाई गई है। तैयार किए गए प्लान पर अभी 2020 तक इंतजार करना होगा। एएसपी आरके सक्सेना ने बताया पिछले साल बैठक में सड़क सुरक्षा योजना के तहत जर्जर हालत में पड़े मार्गाें को दुरुस्त कराए जाने के लिए शासन को पत्र भेजा गया है। इसके अलावा लोगों को यातायात नियमों के बारे में जागरूक किया जाएगा। तभी सड़क हादसों में कमी आएगी।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

लालू की नई मुसीबत, चाईबासा कोषागार मामले में आज आएगा फैसला

चारा घोटाला मामले में रांची की स्पेशल सीबीआई कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगी। स्पेशल कोर्ट जज एस एस प्रसाद इस मामले में फैसला देंगे।

24 जनवरी 2018

Related Videos

‘पद्मावत’ का रिव्यू : फर्स्ट डे-फर्स्ट शो से पहले देखिए

'पद्मावत' की रिलीज से पहले प्रोड्यूसर-डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने मीडिया के लिए प्रेस शो रखा जिसे देखने के बाद जर्नलिस्ट्स ने क्या रिव्यू दिया ‘पद्मावत’ पर वो आपको दिखाते हैं सिर्फ अमर उजाला टीवी पर।

24 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper