विज्ञापन

मध्यप्रदेश: बड़ा बदलाव कर कांग्रेस ने मैदान में उतारे नए चेहरे, शिवराज का इनसे होगा मुकाबला

जितेंद्र भारद्वाज, नई दिल्ली  Updated Thu, 08 Nov 2018 06:30 PM IST
NEW CANDIDATES CONTEST AGAINST BJP MINISTERS IN MADHYA PRADESH
विज्ञापन
ख़बर सुनें
मध्यप्रदेश का चुनावी घमासान चरम की तरफ अग्रसर है। कांग्रेस और भाजपा, दोनों पार्टियों ने अधिकांश सीटों पर अपने-अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। भाजपा ने अपने हैवीवेट और शिवराज सरकार में मंत्री रहे 20 विधायकों को दोबारा से मौक़ा दे दिया है। दूसरी ओर कांग्रेस पार्टी ने एक ख़ास रणनीति के तहत भाजपा के इन उम्मीदवारों के सामने 12 नए चेहरों के बाद अब 7 नामों का और एलान कर दिया है। ये एक बड़ा बदलाव है, बता दें कि बुदनी सीट जो खुद सीएम शिवराज सिंह चौहान की है वहां भी कांग्रेस ने अपने उम्मीदवार के नाम का एलान कर दिया है। वहीं इंदौर-1 और इंदौर-2 से भी कांग्रेस ने अपने टिकट बदले हैं। इंदौर-1 में कांग्रेस ने इस बार संजय शुक्ला पर दांव खेला है। जिसके चलते प्रीति अग्निहोत्री का टिकट कटा है। वहीं कांग्रेस ने इस बार इंदौर-2 की सीट पर मोहन सिंह सेंगर को मौका दिया है। 
विज्ञापन
बता दें कि गत सप्ताह मीडिया में आई एक ख़ुफ़िया रिपोर्ट ने भाजपा को हैरत में डाल दिया था। रिपोर्ट में कथित तौर पर इस बात का ज़िक्र किया गया था कि शिवराज सरकार के कई मंत्री विधानसभा चुनाव हार सकते हैं।

इसी वजह से कांग्रेस पार्टी ने भाजपा के मंत्री रहे विधायकों को कड़ी टक्कर देने के लिए नए उम्मीदवारों पर दाव खेला है। कांग्रेस पार्टी के नेता कमलनाथ का दावा है कि उनके उम्मीदवार अप्रत्याशित जीत हासिल करेंगे।

भाजपा के मंत्री रहे अधिकांश प्रत्याशी इस बार अपनी सीट बचाने में कामयाब नहीं होंगे। कांग्रेस पार्टी के अनेक उम्मीदवारों ने शिवराज सरकार की जनविरोधी नीतियों के ख़िलाफ़, विशेष तौर पर किसानों के ऊपर हुए अत्याचार को जनता के बीच लेकर गए हैं। कमलनाथ का कहना है कि भाजपा के मंत्री ही नहीं, बल्कि अधिकांश विधायक भी हार की कगार पर हैं।



भाजपा के मंत्री रहे उम्मीदवारों के सामने कांग्रेस पार्टी के चेहरे...

रुस्तम सिंह, पब्लिक हेल्थ और फ़ेमिली वेलफेयर मंत्री 
2013 में रूस्तम को मुरैना सीट पर 56744 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के दिनेश को 21801 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने रघुराज सिंह कसाना को टिकट दी है।

लाल सिंह आर्य, राज्य मंत्री 
2013 में लाल सिंह को गोहद सीट पर 51711 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के मेवाराम जाटव को 31897 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने रणबीर जाटव को टिकट दी है।

जयभान सिंह पवैया, उच्च शिक्षा मंत्री  
2013 में जयभान को ग्वालियर सीट पर 74769 वोट मिले थे। कांग्रेस पार्टी के प्रधुमन को 59208 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने फिर से प्रधुमन को मौक़ा दिया है।

नारायण सिंह कुशवाह, रेनुएबल एनर्जी मंत्री  
2013 में नारायण को ग्वालियर दक्षिण सीट पर 68627 वोट मिले थे। कांग्रेस पार्टी के रमेश अग्रवाल को 52360 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने प्रवीण पाठक को मौक़ा दिया है।

नरोत्तम मिश्रा, जल संसाधन एवं संसदीय कार्यमंत्री 
2013 में नरोत्तम को दतिया सीट पर 57438 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के राजेंद्र भारती को 45357 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने फिर से भारती को मौक़ा दे दिया है।

यशोदाराजे सिंधिया, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री  
2013 में सिंधिया को शिवपुरी सीट पर 76330 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के वीरेंद्र रघुवंशी को 65185 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने सिद्धार्थ लाडा को मौक़ा दिया है।

जयंत मलैया, वित्त मंत्री  
2013 में जयंत को दमोह सीट पर 72534 वोट मिले थे। कांग्रेस पार्टी के चंद्रभान को 67581 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने राहुल सिंह को मौक़ा दिया है।

ओमप्रकाश ध्रुवे, खाद्य आपूर्ति मंत्री  
2013 में ओमप्रकाश को शाहपुरा सीट पर 76796 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के गंगाबाई को 44115 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने भूपेन्द्र मारावी को मौक़ा दिया है।

गौरीशंकर बिसेन, कृषि विभाग के मंत्री  
2013 में गौरीशंकर को बालाघाट सीट पर 71993 वोट मिले थे। कांग्रेस पार्टी के उमेद को 5786 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने विशेषवर भगत को अवसर दिया है।

सुरेंद्र पटवा, राज्य मंत्री  
2013 में सुरेंद्र को भोजपुर सीट पर 80491 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के सुरेश पचौरी को 60342 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने फिर से सुरेश को चुनाव मैदान में उतारा है।

रामपाल सिंह,, लोक कार्य मंत्री  
2013 में रामपाल को सिलवानी सीट पर 68926 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के देवेन्द्र पटेल को 51848 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने फिर से पटेल को मौक़ा दिया है।

विश्वास सारंग, राज्य मंत्री  
2013 में विश्वास को नरेला सीट पर 98472 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के सुनील सूद को 71502 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने महेंद्र चौहान को टिकट दी है।

दीपक कैलाश जोशी, राज्य मंत्री  
2013 में दीपक को हतपिपलिया सीट पर 68824 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के राजेंद्र सिंह बघेल को 62649 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने मनोज चौधरी को मौक़ा दिया है।

अर्चना चिटनिस, महिला एवं बाल विकास मंत्री
2013 में अर्चना को बुरहानपुर सीट पर 104424 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के अजय रघुवंशी को 81599 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने रविंद्र महाजन को मौक़ा दिया है।

भूपेन्द्र सिंह, गृह एवं परिवहन मंत्री  
2013 में भूपेन्द्र को खुरई सीट पर 62127 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के अरुणोदेय चौबे को 56043 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने दोबारा से चौबे को ही मैदान में उतार है।

अंतर सिंह आर्य, पशुपालन एवं जेल मंत्री 
2013 में अंतर सिंह को सेंधवा सीट पर 88821 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के दयाराम पटेल को 63135 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने ग्यारसी लाल रावत को मौक़ा दिया है।

पारस चंद्र जैन, एनर्जी विभाग के मंत्री
2013 में पारस को उज्जैन नॉर्थ सीट पर 72815 वोट मिले थे।कांग्रेस पार्टी के विवेक यादव को 47966 मत हासिल हुए थे। इस बार कांग्रेस पार्टी ने राजेंद्र भारती को मौक़ा दिया है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश: बीजेपी का प्रचार रथ दुर्घटनाग्रस्त, एक कार्यकर्ता की मौत, तीन घायल

लोकनिर्माण विभाग के मंत्री रामपाल सिंह का चुनाव प्रचार करके लौट रहा बीजेपी का प्रचार रथ वाहन पेड़ से टकराकर पलट गया। हादसे में एक बीजेपी कार्यकर्ता की मौत हो गई जबकि तीन लोग घायल हो गए हैं।

18 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

सत्ता का सेमीफाइनल: जानिए क्या है हरदा की जनता का मूड

सत्ता के सेमीफाइनल के अगले पड़ाव में अमर उजाला डॉट कॉम की टीम पहुंची हरदा और जाना आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर क्या है यहां की जनता का मूड।

18 नवंबर 2018

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree