'My Result Plus

पांच साल में चंडीगढ़ को बदले की तैयारी

Chandigarh Updated Fri, 28 Dec 2012 05:30 AM IST
ख़बर सुनें
चंडीगढ़। अगले पांच साल में चंडीगढ़ को बदलने के लिए प्रशासन ने तैयारी कर ली है। वीरवार को नई दिल्ली में विज्ञान भवन में हुई राष्ट्रीय विकास परिषद की 57 वीं बैठक में प्रशासक शिवराज पाटिल ने अगले पांच सालों में चंडीगढ़ की मुख्य जरूरतों के बारे में बताया। प्रशासन ने 12 वीं पंच वर्षीय योजना के लिए 5530.79 करोड़ रुपये मांगे हैं। यह राशि 11 वीं पंच वर्षीय योजना में मंजूर हुई राशि से 132 प्रतिशत अधिक है। 11 वीं योजना चंडीगढ़ को 2380 करोड़ रुपये मिले थे। नई योजना में सबसे अधिक राशि 2062.63 करोड़ रुपये शहरी विकास के लिए मांगी गई है। इसमें से 238.85 करोड़ रुपये वित्त वर्ष 2012-13 के लिए पहले ही मिल चुके हैं।
पाटिल ने कहा कि 11 वीं पंच वर्षीय योजना में चंडीगढ़ को जो राशि मिली थी उसका 99 फीसदी खर्च किया जा चुका है। चंडीगढ़ में सौर ऊर्जा को प्रमोट किया जा रहा है। लोगों और खासकर महिलाओं की सुरक्षा के लिए पुलिस फोर्स को और मजबूत करने की जरूरत है।

कोट

चंडीगढ़ एक प्रशासनिक शहर है और इसकी तुलना नई दिल्ली या वाशिंगटन डीसी से की जा सकती है। चंडीगढ़ पंजाब और हरियाणा को प्रशासनिक सुविधाएं देता है। आशा करते हैं कि 12 वीं पंच वर्षीय योजना में चंडीगढ़ को समय पर फंड मिल जाएंगे।
-शिवराज पाटिल, प्रशासक चंडीगढ़

पांच साल की यह जरूरतें गिनाईं
-दूसरे राज्यों से आने वाले ट्रैफिक को नियंत्रित करने के लिए रिंग रोड और बाय-पास रोड बनाए जाने हैं।
-पार्कि ंग की दिक्कत दूर करने के लिए अंडरग्राउंड और ओवरग्राउंड पार्किंग बनानी हैं।
-बढ़ती जरूरतों के मुताबिक नए स्कूल, कालेज व अन्य शिक्षण संस्थान खोले जाने हैं।
-मेडिकल सुविधाओं को बढ़ाने की बहुत जरूरत है।
-बसों की संख्या बढ़ाई जानी है और ट्राइसिटी के लोगों को क्वालिटी अर्बन ट्रांसपोर्ट सुविधा दी जानी है।
-राजीव आवास योजना के तहत चंडीगढ़ को स्लम फ्री बनाना है। पुनर्वास योजना के तहत 25 हजार मकानों का निर्माण पूरा कराना है।
-पीने के पानी के लिए उचित प्रबंध करना है और इसके लिए प्रोजेक्ट तैयार हो रहा है।
-मेट्रो की प्रोजेक्ट रिपोर्ट बन चुकी है और इसके लिए पंच वर्षीय योजना में प्रावधान किया गया है।
-चंडीगढ़ के संरक्षण की जरूरत है।
-शहर में सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने की जरूरत है।




12 वीं पंच वर्षीय योजना
(करोड़ रुपये में)

शिक्षा 774.62
ट्रांसपोर्ट 466.81
मेडिकल एंड पब्लिक हेल्थ 678.33
शहरी विकास 2062.63
हाउसिंग 284.04
वाटर सप्लाई एंड सेनिटेशन 205.41
स्पोर्ट्स एंड यूथ सर्विसेज 107.92
तकनीकी शिक्षा 134.84
ग्रामीण विकास 28
ऊर्जा 431.72
साइंस एंड टेक्नोलाजी 98.60


पांच साल में क्या-क्या नया बनेगा
-नए सचिवालय की बिल्डिंग
-म्यूजियम एंड आर्ट गैलरी में कला भवन
-सेक्टर-34 मे नेहरू सेंटर ऑफ परफार्मिंग आर्ट्स
-आठ अंडरपास का निर्माण
-नए आईटीआई की स्थापना
-18 नए स्कूलों का निर्माण
-गर्ल्स कालेजों में नए हॉस्टलों का निर्माण
-नई एनसीसी बिल्डिंग का निर्माण
-विद्या सदन का निर्माण
-आईएसबीटी में मल्टीलैवल पार्किंग
-मनीमाजरा, पीजीआई, डड्डूमाजरा और सेक्टर-31 में चार नए बस स्टैंड बनाना
-सेक्टर-34 में नया सीनियर सिटीजन होम का निर्माण

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Kanpur

उन्नावः 15 दिनों तक बंधक बनाकर किया गैंगरेप, 48 घंटे बाद भी आरोपी सपा नेता पुलिस की पकड़ से दूर

उन्नाव जिले के शुक्लागंज में कोतवाली अंतर्गत रहने वाली 15 वर्षीय पीड़िता ने एसपी के यहां गुहार लगाई थी जिसमें गंगाघाट पुलिस ने एक सपा नेता समेत तीन अन्य के खिलाफ  गैंगरेप की धारा में रिपोर्ट दर्ज की थी।

22 अप्रैल 2018

Related Videos

हाथरस में एक और मासूम बनी शिकार समेत शाम की दस बड़ी खबरें

अमर उजाला टीवी पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें दिन में चार बार LIVE देख सकते हैं, हमारे LIVE बुलेटिन्स हैं - यूपी न्यूज सुबह 9 बजे, न्यूज ऑवर दोपहर 1 बजे, यूपी न्यूज शाम 7 बजे।

22 अप्रैल 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen