बीमे से दोगुना मुआवजा

Chandigarh Updated Wed, 19 Dec 2012 05:30 AM IST
चंडीगढ़। चंडीगढ़ ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग (सीटीयू) की बसों का बीमा न होना सरकारी खजाने पर भारी पड़ रहा है। तीन साल में 126 मामलों में सीटीयू मुआवजे के तौर पर लगभग 3 करोड़ 73 लाख रुपये का भुगतान कर चुकी है, जबकि यदि बसों का बीमा करवाया जाता तो दो करोड़ से ज्यादा रुपये बचाए जा सकते थे।
सीटीयू की ओर से छात्रा अनुपमा की बस के नीचे आकर मौत होने के मामले में मंगलवार को उपभोक्ता फोरम में शपथ पत्र दाखिल करके यह जानकारी दी गई। अनुपमा के परिजनों के वकील की ओर से पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए सीटीयू ने कहा कि 3 साल में कुल 126 मामलों में 3 करोड़ 73 लाख 70 हजार 622 रुपये मुआवजे का भुगतान किया गया है। 29 नवंबर को हुई सुनवाई में सीटीयू ने कहा था कि सरकारी वाहनों को बीमे से छूट मिली है। इस वजह से बीमा न होने के कारण सीटीयू को खुद ही मुआवजा भुगतना पड़ता है। अनुपमा के परिजनों ने सीटीयू और पीजीआई पर 85 लाख रुपये का दावा किया हुआ है।

बचत से सुधरते हालात
सीटीयू द्वारा बजट की कमी का अकसर रोना रोया जाता है। यदि बीमा करवाकर दो करोड़ रुपये बचाए जाते तो इनसे 7-8 नई बसें खरीदी जा सकती, नए स्पेयर पार्ट मंगवाकर खराब बसों को चलाया जा सकता। वहीं, जर्जर बस स्टैंड की हालत सुधारी जा सकती है।

बीमा करवाते तो होती मोटी बचत
सीटीयू बसें - 417
थर्ड पार्टी बीमा - 12 हजार प्रति बस
कुल खर्च - डेढ़ करोड़ रुपये तीन साल में
तीन साल में हादसे - 126
अदा मुआवजा - 3 करोड़ 73 लाख तीन साल में
बीमे के बाद बचत - दो करोड़ से ज्यादा


इस माह 46 बसें और हो जाएंगी कंडम
चंडीगढ़। सीटीयू पिछले एक साल से कंडम हुई 98 बसों की खरीद भी अभी नहीं कर सकी है कि 29 दिसंबर को डिपो नंबर तीन की 46 बसें और कंडम हो जाएंगी। नए साल में सीटीयू के लिए बढ़ेगी परेशानी, अभी कंडम 98 बसें। इसी के स्थान पर खरीदी जानी है। इसके अलावा 2013 में भी 100 से अधिक बसें बेड़े से हटेंगी। फिलहाल स्टेट ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी (एसटीए) ने 50 बसों की पासिंग रोक दी है। यही स्थिति रही तो इस महीने के आखिरी तक करीब डेढ़ सौ बसों के पहिये रुक जाएंगे। हालात यह है कि स्कूलों के लिए लांग रूट की बसें चलाई जा रही हैं। ऐसे में लांग रूट ठप पड़ रहा है। सीटीयू सूत्रों के अनुसार हरिद्वार, दिल्ली, अमृतसर और लुधियाना आदि रूटों पर बसें कम कर दी गई हैं। सीटीयू महाप्रबंधक एसपी परमार ने बताया कि कंडम हुई बसों की जगह नई बसें खरीदी जा रही हैं। जो बसें ठीक हालत में होगी, उनकी समय सीमा बढ़ाई जाएगी।

Spotlight

Most Read

National

पुरुष के वेश में करती थी लूटपाट, गिरफ्तारी के बाद सुलझे नौ मामले

महिला लड़कों के ड्रेस में लूटपाट को अंजाम देती थी। अपने चेहरे को ढंकने के लिए वह मुंह पर कपड़ा बांधती थी और फिर गॉगल्स लगा लेती थी।

20 जनवरी 2018

Related Videos

NTPC में निकली हैं लिमिटेड नौकरियां, जल्द से जल्द करें अप्लाई

करियर प्लस के इस बुलेटिन में हम आपको देंगे जानकारी लेटेस्ट सरकारी नौकरियों की, करेंट अफेयर्स के बारे में जिनके बारे में आपसे सरकारी नौकरियों की परीक्षाओं या इंटरव्यू में सवाल पूछे जा सकते हैं और साथ ही आपको जानकारी देंगे एक खास शख्सियत के बारे में।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper