मोनिका को न्याय के लिए निकाला कैंडल मार्च

Chandigarh Updated Mon, 22 Oct 2012 12:00 PM IST
चंडीगढ़। मोनिका अमर रहे। उनके हत्यारों पर कार्रवाई कौन करेगा? क्यों नहीं हुई सभी आरोपियों की गिरफ्तारी? कुछ ऐसे ही नारों के साथ रविवार को बड़ी संख्या में लोगों ने टीचर मोनिका की मौत में न्याय की मांग लेकर कैंडल मार्च निकाला। यह मार्च शाम साढ़े छह बजे सेक्टर-15 स्थित (मकान नंबर-3325) मोनिका के मायके घर से शुरू हुआ। इसमें न्यू पब्लिक स्कूल के टीचर, कई स्वयंसेवी संगठन, छात्र संगठनों के सदस्य और परिजन शामिल थे। प्रदर्शन के दौरान मोनिका का बेटा कृष मां की तस्वीर लेकर चल रहा था।
करीब सात बजे मार्च करती हुई भीड़ सेक्टर-17 स्थित प्लाजा में पहुंची। यहां फाउंटेन के इर्द-गिर्द कैंडल जलाकर मोनिका के लिए न्याय की गुहार लगाते हुए उनकी आत्मा की शांति के लिए दुआएं मांगी। यहां करीब 20 मिनट तक रुकने के लिए बाद सेक्टर-21 के लिए सभी रवाना हुए। मोनिका के भाई अमित जिंदल ने कहा कि उन्होंने अपनी बहन को खो दिया है और पुलिस इसे आत्महत्या करार दे रही है। सेक्टर-21 स्थित मोनिका के ससुराल(मकान नंबर-2100) के बाहर पहुंचकर लोगों ने कैंडल मार्च का समापन किया। वहां करीब एक घंटे तक प्रदर्शन किया।

नौकर को समझाया
सेक्टर-21 स्थित ससुराल घर में जब कैंडल मार्च के साथ लोग पहुंचे तो घर का फाटक बंद था। बरामदे में नौकर बैठा था। लोगों ने घर की चारदीवारी पर मोमबत्तियां लगा दीं। तभी मोनिका की बहन इंदु ने बाहर से चिल्लाकर नौकर से कहा कि तू चुप्प क्यों बैठा है। तू चाहे तो मोनिका को न्याय मिल सकता है। तेरे एक सच बोलने से उसकी आत्मा को शांति मिल जाएगी। इतने में एक छात्र की मां चारदीवारी कूदकर नौकर के पास जाकर उसे समझाने लगीं कि तुम्हें पुलिस के पास जाकर सच बोलना चाहिए। भीड़ को देखकर नौकर सहम गया और इतना ही बोला कि मेरा कमरा तो बाहर है, मुझे कुछ नहीं पता। भीड़ में लोग चिल्ला रहे थे पुलिस इस नौकर को गिरफ्तार कर पूछताछ क्यों नहीं करती।

पड़ोसियों को डोरबेल बजाकर बुलाया
कैंडल मार्च में आए लोगों ने सेक्टर-21 में आसपास के घरों के लोगों को डोरबेल बजाकर बाहर आने को कहा। मोनिका की मां सरला देवी चिल्लाकर कह रही थीं कि आप भी देखो हमारी बेटी को यहां मार दिया गया है।
------------
जेठानी फरार हुईं
रविवार को मोनिका के परिजनों ने पुलिस को सूचना दी कि मोनिका की जेठानी चंडीगढ़ में है। पुलिस ने तुरंत छापेमारी की, लेकिन तब तक आरोपी फरार हो चुकी थी। इस मामले के जांच अधिकारी ने मोनिका के जेठ और जेठानी के विदेश में होने की बात कही थी।

क्या था मामला
15 अक्तूबर की सुबह मोनिका की सेक्टर-21 में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। उनके चेहरे और शरीर पर चोट के कई निशान थे। ससुराल वालों ने मौत को आत्महत्या बताया था और पुलिस ने यही मामला दर्ज किया। दूसरी ओर परिजनों ने ससुराल वालों पर मोनिका की हत्या का आरोप लगाया था। पुलिस ने इस मामले में मोनिका के पति, देवर और सास-ससुर को हत्या के लिए मजबूर करने के आरोप में गिरफ्तार किया।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

गरीबी की वजह से इस शख्स ने शुरू किया था मिट्टी खाना, अब लग गई लत

गरीबी की वजह से झारखंड के कारु पासवान ने मिट्टी खानी शुरू की थी।

19 जनवरी 2018

Related Videos

साल 2018 के पहले स्टेज शो में ही सपना चौधरी ने लगाई 'आग', देखिए

साल 2018 में भी सपना चौधरी का जलवा बरकरार है। आज हम आपको उनकी साल 2018 की पहली स्टेज परफॉर्मेंस दिखाने जा रहे हैं। सपना ने 2018 का पहले स्टेज शो मध्य प्रदेश के मुरैना में किया। यहां उन्होंने अपने कई गानों पर डांस कर लोगों का दिल जीता।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper