बेडरूम में मिली फिजा की लाश

Chandigarh Updated Tue, 07 Aug 2012 12:00 PM IST
मोहाली। हरियाणा के पूर्व उप मुख्यमंत्री चंद्रमोहन से निकाह के बाद सुर्खियों में आईं अनुराधा बाली उर्फ फिजा की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। सोमवार सुबह उनका शव सेक्टर 48सी स्थित घर के ग्राउंड फ्लोर पर बने बेडरूम में मिला। लाश गल चुकी थी। इसीसे अंदाजा लगाया जा रहा है कि मौत चार से पांच दिन पहले हुई। पुलिस को घर से कोई सुसाइड नोट या लूटपाट की किसी कोशिश के कोई संकेत नहीं मिले हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही यह गुत्थी सुलझेगी कि यह नैचुरल डेथ है, सुसाइड है या फिर कत्ल। इस हाई प्रोफाइल मामले में एसएसपी गुरप्रीत सिंह भुल्लर समेत तमाम आला अफसर जांच के लिए पहुंचे।
चाचा के आने पर पता चला
सेक्टर 17 चंडीगढ़ में इलेक्ट्रॉनिक्स का काम करने वाले फिजा के चाचा सतपाल सुबह पौने दस बजे घर पहुंचे। घर के मेन गेट और उसके विंडोगेट पर ताला नहीं था। घर से काफी बदबू आ रही थी। इसलिए उन्होंने थाना फेज 11 पुलिस को सूचित किया। पुलिस दरवाजे को धक्का दिया तो वह खुल गया। अंदर बेड पर फिजा की लाश पड़ी थी। जोकि काफी फूल चुकी थी। बेड से लटके बाएं हाथ और पैर से फ्ल्यूड निकल कर जमीन पर पड़ा था। पैरों में पायल, हाथ में अंगूठी व कड़ा था। लाश पर कीड़े रेंग रहे थे। ड्राइंग रूम के टेबल पर व्हिस्की का खाली क्वार्टर, एक गिलास, सिगरेट का पैक व एक रेस्टोरेंट का पैकिंग बॉक्स पड़ा था। घर का सारा सामान ज्यों का त्यों था, नीचे और फर्स्ट फ्लोर पर बनाए मंदिरों में पैसे भी वैसे ही पड़े थे। फिंगर प्रिंट्स एक्सपर्ट्स ने भी घटनास्थल से सैंपल लिए हैं। फिलहाल पुलिस के हाथ कोई सुराग नहीं लगा, करीब दो बजे पुलिस ने फिजा का शव पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भेजा। फिजा के माता-पिता का पहले ही निधन हो चुका है, उसकी छोटी बहन मोनिका बदहवास हालत में अपने पति के साथ मौके पर पहुंची थी।

एक अगस्त के बाद किसी ने नहीं देखा
हरियाणा की पूर्व एडिशन एडवोकेट जनरल फिजा की आखिरी बात अपने चाचा सतपाल से एक अगस्त को हुई थी। तब फिजा ने अगले दिन रखड़ी पर आने के लिए कहा था। उसके बाद से कोई फोन नहीं आया। मोहल्ले वालों ने भी एक अगस्त को ही फिजा को आखिरी बार देखा था। पुराने अखबार भी बाहर ही पड़े थे। फिजा के घर में पहले नौकरानी व गार्ड रहते थे, पर वे भी कई दिनों से नहीं दिखे। फिजा घर में अकेली रहती थी, आसपास वालों से खास बोलचाल नहीं थी, इसलिए किसी को भी उसके बारे में कुछ नहीं पता था।
कोट
मौके से न तो कोई सुसाइड नोट बरामद हुआ है, न ही पूरे घर में किसी की मूवमेंट के निशान हैं। लाश चार-पांच दिन पुरानी होने की आशंका है। मंगलवार को पोस्टमार्टम से ही कुछ खुलासा होगा कि यह नैचुरल डेथ, सुसाइड या हत्या है।
दर्शन सिंह मान, डीएसपी सिटी-2

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मध्यप्रदेश: कांग्रेस ने लहराया परचम, 24 में से 20 वॉर्ड पर कब्जा

मध्यप्रदेश के राघोगढ़ में हुए नगर पालिका चुनाव में कांग्रेस को 20 वार्डों में जीत हासिल हुई है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

गणतंत्र दिवस परेड में पहली बार दिखेगा ‘रुद्र’ का जलवा

भारतीय वायुसेना की शान रुद्र पूरी तरह तैयार है गणतंत्र दिवस पर अपना जलवा दिखाने के लिए। पहली बार ये देश के सामने आने वाला है। देश में ही बने रुद्र ने अपने अंदर ढेरों खूबियां समेटी हुई है।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper