विज्ञापन
विज्ञापन

ग्रिड की मार से लगातार दूसरे दिन पानी को तरसे चंडीगढ़वासी

Chandigarh Updated Wed, 01 Aug 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
चंडीगढ़। लगातार दूसरे दिन ग्रिड फेल होने से मंगलवार दिन में ट्राइसिटी में रेल यात्रियों और मरीजों के साथ ही लगभग हर वर्ग को दिक्कत का सामना करना पड़ा। दो दिन ग्रिड फेल होने का सबसे ज्यादा असर ट्राइसिटी के उद्योग पर पड़ा है जिसको 48 घंटे से जरूरी बिजली नहीं मिल सकी। इसके अलावा बत्ती गुल होने से पानी की सप्लाई लगातार दूसरे दिन प्रभावित हुई। चंडीगढ़ के लोगों को सबसे ज्यादा दिक्क्त पानी के लिए हुई। ऊपरी मंजिलों पर तो दो दिन से पानी की एक भी बूंद नहीं पहुंची। बिजल गुल होते ही चंडीगढ़ की ट्रैफिक लाइट ऑफ हो गईं जिससे मध्यमार्ग और अंदर के रास्तों के लाइट प्वाइंट पर अफरातफरी का माहौल बन गया। ट्रैफिक लाइट में बैटरी बैकअप न होने से पूरे पांच घंटे सड़कों पर जाम की स्थिति बनी रही।
विज्ञापन
विज्ञापन
मंगलवार को चंडीगढ़ के कई हिस्सों में चार से पांच घंटे बिजली गुल रही दोपहर लगभग एक बजे बिजली गुल होने के बाद हर तरफ अफरा-तफरी सी मच गई। जनरल अस्पताल-16 में दोपहर 1 बजे के बाद उन मरीजों की सर्जरी टाल दी गई, जिनकी अति आवश्यक नहीं थी। बिजली न होने से वार्ड में भी मरीज बेहाल रहे। अस्पतालों में लिफ्टें बंद हो गईं। बिजली विभाग के दावे के मुताबिक जिन सेक्टरों में किशनगढ़ और धूलकोट से बिजली की सप्लाई होती है वहां शाम साढ़े चार बजे तक बिजली आ गई जबकि जिन सेक्टरों में मोहाली से बिजली की सप्लाई होती है वहां शाम साढ़े पांच बजे के बाद बिजली आई। इनमें अधिकतर दक्षिणी सेक्टर थे। दक्षिणी सेक्टरों के लोगों को लगभग साढ़े चार घंटा बिना बिजली के रहना पड़ा। शाम को साढ़े पांच बजे बिजली आने के कुछ देर बाद कुछ सेक्टरों में फिर से बिजली गुल हो गई। चंडीगढ़ के बिजली विभाग के एसई एमपी सिंह ने कहा कि शाम 5.30 बजे तक शहर के सभी हिस्सों में बिजली बहाल कर दी गई थी। ट्रेनों को डीजल इंजन लगाकर रवाना किया गया।
पीजीआई के न्यू ओपीडी में दोपहर एक बजे के बाद कुछ देर तक मरीजों का सीटी स्कैन, एमआरआई और अल्ट्रासाउंड नहीं हो सका। पीजीआई के एडवांस पीडियाट्रिक सेंटर (एपीसी) में जनरेटर खराब होने से कुछ देर दिक्कत आई। हालाकि कुछ देर बाद इसे ठीक कर लिया गया।
पीजीआई प्रवक्ता ने भी माना कि अधिक लोड होने की वजह से हाई कैपिसिटी मशीनें नहीं ऑपरेट की जा सकीं। उधर, सेक्टर-16 के सामान्य अस्पताल में भी दोपहर बाद मरीजों को तरह-तरह की परेशानियां झेलनी पड़ीं। इमरजेंसी सहित वार्डों में जनरेटर की मदद से पंखे तो चल रहे थे, लेकिन एसी बंद रहे। इस दौरान बाहर के पंखे बंद होने से तीमारदारों को बाहर ही सैर करना पड़ा। जीएमसीएच में बैक अप ठीक होने की वजह से मरीजों को दिक्कतें पेश नहीं आईं, लेकिन इस दौरान कई वार्डों के बाहर के पंखे बंद करने पड़े।
.............
ऊंचाहार और पश्चिम लेट पहुंचीं
चंडीगढ़। नार्दर्न ग्रिड फेल हो जाने से जहां मंगलवार को कई ट्रेनें लेट पहुंचीं, वहीं सोमवार को नार्दर्न ग्रिड के फेल होने का असर भी मंगवलार को ट्रेनों पर दिखा। इलाहाबाद से आने वाली ऊंचाहार एक्सप्रेस मंगलवार को अपने निर्धारित समय से लगभग 8.30 घंटे देरी से पहुंची। यह ट्रेन शाम 5.40 पर चंडीगढ़ पहुंची। मुंबई से चंडीगढ़ आने वाली पश्चिम एक्सप्रेस भी लगभग ढाई घंटा देरी से चंडीगढ़ पहुंची। यह ट्रेन शाम 6.15 बजे चंडीगढ़ पहुंची। नई दिल्ली से शाम को चंडीगढ़ आने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस लगभग तीन घंटा देरी से चंडीगढ़ पहुंची। शताब्दी एक्सप्रेस 15 मिनट देरी से आई। अंबाला-नंगलडैम पैसेंजर भी तीन घंटा देरी से चंडीगढ़ आई। चंडीगढ़ से शाम को सभी ट्रेनों को अपने निर्धारित समय पर रवाना किया गया। शाम को ऊंचाहार एक्सप्रेस और चंडीगढ़-लखनऊ एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय पर गई। इन दोनों ट्रेनों में डीजल इंजन लगाया गया। नई दिल्ली जाने वाली हिमालयन क्वीन एक्सप्रेस 15 मिनट देरी से गई। शाम को नई दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस अपने समय पर रवाना हुई। ब्यूरो

Recommended

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्
Astrology

शनि जयंती (03 जून 2019, सोमवार) के अवसर पर शनि शिंगणापुर में शनि को प्रसन्न करने के लिए तेल अभिषेकम्

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से
Astrology

कैसे होगा करियर, कैसा चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार ! जानिए विश्वप्रसिद्व ज्योतिषाचार्यो से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

लोकसभा चुनाव 2019 (lok sabha chunav 2019) के नतीजों में किसने मारी बाजी? फिर एक बार मोदी सरकार या कांग्रेस की चुनावी नैया हुई पार? सपा-बसपा ने किया यूपी में सूपड़ा साफ या भाजपा का दम रहा बरकरार? सिर्फ नतीजे नहीं, नतीजों के पीछे की पूरी तस्वीर, वजह और विश्लेषण। 23 मई को सबसे सटीक नतीजों  (lok sabha chunav result 2019) के लिए आपको आना है सिर्फ एक जगह- amarujala.com  Hindi news वेबसाइट पर.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी का संबोधन, लोकसभा चुनाव को बताया समाज को एक करने का जरिया

कैबिनेट गठन के लिए एनडीए की बैठक में पीएम मोदी का संबोधन। मोदी ने सहयोगी दलों से एकता से कार्य करने की अपील की।

25 मई 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree