ग्रिड की मार से लगातार दूसरे दिन पानी को तरसे चंडीगढ़वासी

Chandigarh Updated Wed, 01 Aug 2012 12:00 PM IST
चंडीगढ़। लगातार दूसरे दिन ग्रिड फेल होने से मंगलवार दिन में ट्राइसिटी में रेल यात्रियों और मरीजों के साथ ही लगभग हर वर्ग को दिक्कत का सामना करना पड़ा। दो दिन ग्रिड फेल होने का सबसे ज्यादा असर ट्राइसिटी के उद्योग पर पड़ा है जिसको 48 घंटे से जरूरी बिजली नहीं मिल सकी। इसके अलावा बत्ती गुल होने से पानी की सप्लाई लगातार दूसरे दिन प्रभावित हुई। चंडीगढ़ के लोगों को सबसे ज्यादा दिक्क्त पानी के लिए हुई। ऊपरी मंजिलों पर तो दो दिन से पानी की एक भी बूंद नहीं पहुंची। बिजल गुल होते ही चंडीगढ़ की ट्रैफिक लाइट ऑफ हो गईं जिससे मध्यमार्ग और अंदर के रास्तों के लाइट प्वाइंट पर अफरातफरी का माहौल बन गया। ट्रैफिक लाइट में बैटरी बैकअप न होने से पूरे पांच घंटे सड़कों पर जाम की स्थिति बनी रही।
मंगलवार को चंडीगढ़ के कई हिस्सों में चार से पांच घंटे बिजली गुल रही दोपहर लगभग एक बजे बिजली गुल होने के बाद हर तरफ अफरा-तफरी सी मच गई। जनरल अस्पताल-16 में दोपहर 1 बजे के बाद उन मरीजों की सर्जरी टाल दी गई, जिनकी अति आवश्यक नहीं थी। बिजली न होने से वार्ड में भी मरीज बेहाल रहे। अस्पतालों में लिफ्टें बंद हो गईं। बिजली विभाग के दावे के मुताबिक जिन सेक्टरों में किशनगढ़ और धूलकोट से बिजली की सप्लाई होती है वहां शाम साढ़े चार बजे तक बिजली आ गई जबकि जिन सेक्टरों में मोहाली से बिजली की सप्लाई होती है वहां शाम साढ़े पांच बजे के बाद बिजली आई। इनमें अधिकतर दक्षिणी सेक्टर थे। दक्षिणी सेक्टरों के लोगों को लगभग साढ़े चार घंटा बिना बिजली के रहना पड़ा। शाम को साढ़े पांच बजे बिजली आने के कुछ देर बाद कुछ सेक्टरों में फिर से बिजली गुल हो गई। चंडीगढ़ के बिजली विभाग के एसई एमपी सिंह ने कहा कि शाम 5.30 बजे तक शहर के सभी हिस्सों में बिजली बहाल कर दी गई थी। ट्रेनों को डीजल इंजन लगाकर रवाना किया गया।
पीजीआई के न्यू ओपीडी में दोपहर एक बजे के बाद कुछ देर तक मरीजों का सीटी स्कैन, एमआरआई और अल्ट्रासाउंड नहीं हो सका। पीजीआई के एडवांस पीडियाट्रिक सेंटर (एपीसी) में जनरेटर खराब होने से कुछ देर दिक्कत आई। हालाकि कुछ देर बाद इसे ठीक कर लिया गया।
पीजीआई प्रवक्ता ने भी माना कि अधिक लोड होने की वजह से हाई कैपिसिटी मशीनें नहीं ऑपरेट की जा सकीं। उधर, सेक्टर-16 के सामान्य अस्पताल में भी दोपहर बाद मरीजों को तरह-तरह की परेशानियां झेलनी पड़ीं। इमरजेंसी सहित वार्डों में जनरेटर की मदद से पंखे तो चल रहे थे, लेकिन एसी बंद रहे। इस दौरान बाहर के पंखे बंद होने से तीमारदारों को बाहर ही सैर करना पड़ा। जीएमसीएच में बैक अप ठीक होने की वजह से मरीजों को दिक्कतें पेश नहीं आईं, लेकिन इस दौरान कई वार्डों के बाहर के पंखे बंद करने पड़े।
.............
ऊंचाहार और पश्चिम लेट पहुंचीं
चंडीगढ़। नार्दर्न ग्रिड फेल हो जाने से जहां मंगलवार को कई ट्रेनें लेट पहुंचीं, वहीं सोमवार को नार्दर्न ग्रिड के फेल होने का असर भी मंगवलार को ट्रेनों पर दिखा। इलाहाबाद से आने वाली ऊंचाहार एक्सप्रेस मंगलवार को अपने निर्धारित समय से लगभग 8.30 घंटे देरी से पहुंची। यह ट्रेन शाम 5.40 पर चंडीगढ़ पहुंची। मुंबई से चंडीगढ़ आने वाली पश्चिम एक्सप्रेस भी लगभग ढाई घंटा देरी से चंडीगढ़ पहुंची। यह ट्रेन शाम 6.15 बजे चंडीगढ़ पहुंची। नई दिल्ली से शाम को चंडीगढ़ आने वाली जनशताब्दी एक्सप्रेस लगभग तीन घंटा देरी से चंडीगढ़ पहुंची। शताब्दी एक्सप्रेस 15 मिनट देरी से आई। अंबाला-नंगलडैम पैसेंजर भी तीन घंटा देरी से चंडीगढ़ आई। चंडीगढ़ से शाम को सभी ट्रेनों को अपने निर्धारित समय पर रवाना किया गया। शाम को ऊंचाहार एक्सप्रेस और चंडीगढ़-लखनऊ एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय पर गई। इन दोनों ट्रेनों में डीजल इंजन लगाया गया। नई दिल्ली जाने वाली हिमालयन क्वीन एक्सप्रेस 15 मिनट देरी से गई। शाम को नई दिल्ली जाने वाली शताब्दी एक्सप्रेस अपने समय पर रवाना हुई। ब्यूरो

Spotlight

Most Read

Unnao

ट्रक में भिड़ी कार, एक की मौत

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर शाहपुर तोंदा गांव के सामने ट्रक के अचानक ब्रेक लेने से पीछे आ रही तेज रफ्तार कार पीछे घुस गई। हादसे में चालक की मौत हो गई। साथी गंभीर रूप से घायल हो गया।

21 जनवरी 2018

Related Videos

रविवार के दिन मौज-मस्ती के बीच इन चीजों से रहें दूर

जानना चाहते हैं कि रविवार को लग रहा है कौन सा नक्षत्र, दिन के किस पहर में करने हैं शुभ काम और कितने बजे होगा सोमवार का सूर्योदय? देखिए, पंचांग गुरुवार 21 जनवरी 2018।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper