एंबुलेंस में सवारी, लोडिंग ऑटो में बच्चे

Chandigarh Updated Fri, 20 Jul 2012 12:00 PM IST
चंडीगढ़। छोटे-छोटे बच्चों को स्कूल ले जाने वाले ऑटो चालक किस कदर उनकी जिंदगी से खिलवाड़ करते हैं इसका नमूना वीरवार को उस समय देखने को मिला जब स्टेट ट्रांसपोर्ट अथारिटी के अफसर चेकिंग के लिए निकले। सिटी ब्यूटीफुल की ये हालत कि लोडिंग कैरियर में ढूंसकर बच्चे भरे मिले और एंबुलेंस में सवारियां ढोते चालक पकड़ा गया।
स्टेट ट्रांसपोर्ट आथरिटी (एसटीए) ने वीरवार को शहर में विशेष अभियान चलाकर 24 वाहनों का चालान किया। उन्होंने जब एक एंबुलेंस को रोका तो उसमें सवारियां भरी मिलीं। एक लोडिंग वाहन (गुड्स कैरियर) को जब्त किया गया, जिसमें अवैध रूप से 23 स्कूली बच्चे ले जाए जा रहे थे। एसटीए के मोटर व्हीकल इंसपेक्टर रविंदर सिंह सैनी ने बताया कि गुड्स कैरियर में स्कूली बच्चे भर कर ले जाने को बर्दाष्त नहीं किया जाएगा। एसटीए ने अपने वाहन से सेक्टर-38 के स्कूल में बच्चों को पहुंचाया गया। ये सभी बच्चे सेक्टर-52 से सेक्टर-38 के स्कूल में पढ़ाई के लिए लाए जा रहे थे। सेक्टर-40 में लगे एसटीए के नाके पर वाहनों को रोककर जांच की गई। जांच में गलत पाए जानेवालों के चालान किए गए और वाहनों को इम्पाउंड किया गया।
रविंदर सिंह सैनी ने बताया कि इस तरह के अभियान शहर के विभिन्न भागों में चलते रहेंगे।
..लेकिन यहां नहीं गई नजर
सेक्टर-35, 42, 43 सहित अन्य जगहों पर थ्रीव्हीलर में ओवर लोडिंग करके बच्चों को खुलेआम ले जाया जाता रहा, लेकिन इसे चेक करने न पुलिस और न एसटीए का कोई अफसर आया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

दावोस में 'क्रिस्टल अवॉर्ड' मिलने के बाद सुपरस्टार शाहरुख खान ने रखी 'तीन तलाक' पर अपनी राय

दावोस में 'विश्व आर्थिक मंच' सम्मेलन में बच्चों और एसिड अटैक सर्वाइवर्स के लिए काम करने के लिए क्रिस्टल अवॉर्ड से नवाजे गए बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान..

24 जनवरी 2018