अकाली नेता की हत्या के मामले में युवक को उमक्रैद

Chandigarh Updated Wed, 18 Jul 2012 12:00 PM IST
चंडीगढ़। अकाली नेता तृप्तदीप सिंह उर्फ टिप्पा की सेक्टर 9 में गोली मारकर हत्या करने के मामले में अदालत ने मंगलवार को मुक्तसर निवासी बलविंदर सिंह उर्फ मिंकल बजाज को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश शालिनी नागपाल की अदालत ने बलविंदर सिंह पर 25 हजार रुपये जुर्माना भी किया।
13 जुलाई 2010 को दायर मामले के अनुसार मुक्तसर निवासी अकाली नेता तृप्तदीप सिंह उर्फ टिप्पा को सेक्टर 9 स्थित मार्केट में दिनदहाड़े गाली मार दी गई थी। पुलिस ने घायल टिप्पा को पीजीआई में दाखिल करवाया था। घायल टिप्पा ने अपनी महिला मित्र परमजीत कौर और बहन किरण कौर को फोन कर मिंकल बजाज के बारे में बताया था। दो घंटे बाद टिप्पा ने पीजीआई में दम तोड़ दिया था। 15 दिन बाद 28 जुलाई को पुलिस ने पंजाब इंजीनियरिंग कालेज के पास नाका लगाकर मिंकल बजाज को दबोच लिया था। पुलिस ने उसके पास से प्वाइंट 32 बोर का पिस्टल बरामद किया था। जंाच में सामने आया था कि मिंकल बजाज ने अकाली नेता टिप्पा की हत्या रंजिश के चलते की थी। पुलिस के मुताबिक मिंकल बजाज की बहन का मुक्तसर जिले में कुछ लोगों ने एमएमएस बना लिया था। इसी इलाके में एमएमएस फैलाने का आरोप टिप्पा पर लगा था। पुलिस ने तृप्तदीप सिंह समेत अन्य युवकाें को गिरफ्तार किया था। मगर बाद में पुलिस ने अदालत को सौंपी चार्जशीट में तृप्तदीप सिंह को क्लीन चिट दे दी थी। अभियोजन पक्ष के मुताबिक तृप्तदीप की हत्या केपीछे यही कारण था। अदालत ने तृप्तदीप सिंह द्वारा मरने से पहले दिए गए बयानों के आधार पर मिंकल बजाज को दोषी करार दिया है।
उम्रकैद की सजा मिलने केबाद मिंकल बजाज ने कहा कि मैं सजा के खिलाफ हाईकोर्ट में अपील करूंगा। उसने कहा कि जो पिस्टल उसके पास से बरामद हुई उससे तृप्तदीप की हत्या नहीं हुई। घटना वाले दिन 4:42 मिनट पर सब इंस्पेक्टर धर्मसिंह ने तृप्तदीप सिंह को अनफिट बताया था जबकि 4:30 मिनट पर परमजीत कौर का कहना है कितृप्तदीप सिंह ने गोली मारने वाले के बारे में उन्हें सारी जानकारी दी। उसने कहा कि सभी के बयान अलग-अलग पाए गए हैं। मैं अपील करूंगा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

FILM REVIEW: राजपूतों की गौरवगाथा है पद्मावत, रणवीर सिंह ने निभाया अलाउद्दीन ख़िलजी का दमदार रोल

संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावत 25 फरवरी को रिलीज हो रही है। लेकिन उससे पहले उन्होंने अपनी फिल्म की स्पेशल स्क्रीनिंग की। आइए आपको बताते हैं कि कैसे रही ये फिल्म...

24 जनवरी 2018