सिंचाई के पानी कनेक्शन का बिल बढ़ा दिया चार गुना

Chandigarh Updated Mon, 25 Jun 2012 12:00 PM IST
चंडीगढ़। शहर की हरियाली पर भी ‘महंगाई’ का खतरा मंडरा रहा है। नगर निगम ने बागवानी के लिए प्रयोग होने वाले पानी का रेट चार गुना बढ़ा दिया है। पहले इसके लिए भी सामान्य दरें ही ली जा रही थी। अब पीने के पानी का रेट 2 रुपये प्रति किलोलीटर (प्रथम स्लैब) है तो बागवानी कनेक्शन पर 8 रुपये प्रति किलोलीटर लिए जा रहे हैं। प्रथम स्लैब की सीमा 15000 किलोलीटर पानी की है।
शहर के हर वीआईपी को बागवानी का शौक है। हर सेक्टर में कनाल और उससे ऊपर एरिया के मकान हैं। नगर निगम की ओर से 20 साल पहले ग्रीन सिटी बनाने के लिए एक कनाल एवं एक कनाल से ज्यादा क्षेत्रफल में रहने वाले लोगों को बागवानी के लिए प्रोत्साहित करने के लिए अलग से पानी का कनेक्शन दिया गया था। इस समय कुल पानी के 1 लाख 45 हजार कनेक्शन हैं। शहर में लगभग 20 हजार लोग बागवानी करते हैं, जिन पर इस फैसले का असर होगा।

चुपके से प्रस्ताव करवाया पास
पानी के रेट बढ़ाने की नोटीफिकेशन पिछले साल हुई थी, लेकिन बढ़े हुए रेट शहरवासियों से पिछले माह से चार्ज करने शुरू किए गए हैं। इस पानी का रेट चुपके से बढ़ाकर सदन में प्रस्ताव भी पास करवा लिया गया। सदन में जब यह प्रस्ताव आया तो पार्षदों का भी इस पर ध्यान नहीं गया और प्रस्ताव पास करके शहरवासियों पर बोझ डाल दिया गया।

टरशरी वाटर की जल्द दें सप्लाई
फासवेक चेयरमैन पीसी सांघी ने कहा कि यह बागवानी करने वाले लोगों के लिए बड़ा झटका है। इस समय करीब 15 से 20 हजार से ज्यादा लोग बागवानी करते हैं। नगर निगम की बागवानी आदि कामों के लिए पूरे शहर में पिछले साल टरशरी वाटर की सप्लाई करने की योजना थी, लेकिन अभी तक कनेक्शन नहीं दिए जा सके। उनका कहना है जब तक टरशरी वाटर की सप्लाई घरों तक नहीं पहुंच जाती, तब तक बागवानी के लिए प्रयोग होने वाले पानी के रेट नहीं बढ़ाए जाने चाहिए। सेक्टर-18 की रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनील चोपड़ा ने कहा कि ऐसे में कौन बागवानी करेगा। नगर निगम को चाहिए कि जब तक टरशरी वाटर की सप्लाई घरों तक न पहुंचे तब तक राहत दी जाए।

सिर्फ 300 कनेक्शन टरशरी वाटर के
इस समय शहर में सिर्फ 300 कनेक्शन टरशरी वाटर के हैं। वाटर सप्लाई कमेटी के चेयरमैन मुकेश बस्सी का कहना है कि जनस्वास्थ्य विभाग की ओर से चीफ इंजीनियर को एक हजार नए कनेक्शन की मंजूरी लेने के लिए प्रस्ताव भेजा गया है। पूरे शहर में तकरीबन टरशरी वाटर की सप्लाई के लिए पाइप डालने का काम पूरा हो चुका है। इस समय 7 एमजीडी टरशरी वाटर उपलब्ध हो रहा है। उनका कहना है कि लोगों को टरशरी वाटर के कनेक्शन लेने के लिए जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। इस पानी पर काफी नॉमिनल रेट चार्ज किया जाएगा।

कमिश्नर ने किया दौरा
शनिवार को नगर निगम के कमिश्नर ने शहर में उन जगहों का दौरा किया, जहां पर टरशरी वाटर की सप्लाई चालू है। इस समय नगर निगम बड़े पार्कों में इस वाटर से सिंचाई कर रहा है। मालूम हो पिछले दिनों चंद पार्कों में सैर करने वालों की यह भी शिकायत थी कि इस पानी से दुर्गंध आती है और इसे और ज्यादा साफ करने की जरूरत है।

क्या होता है टरशरी वाटर
जो पानी प्रयोग होने के बाद सीवरेज के माध्यम से ट्रीटमेंट प्लांट में जाता है और उसे केमिकल और मशीनों के माध्यम से साफ करके फिर से प्रयोग करने लायक बनाया जाता है, वह टरशरी वाटर है। यह पानी पूरी तरह पीने के लायक तो नहीं होता लेकिन इसे सिंचाई और वाहन धोने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी पुलिस भर्ती को लेकर युवाओं में जोश, पहले ही दिन रिकॉर्ड रजिस्ट्रेशन

यूपी पुलिस में 22 जनवरी से शुरू हुआ फॉर्म भरने का सिलसिला पहले दिन रिकॉर्ड नंबरों तक पहुंच गया।

23 जनवरी 2018

Related Videos

बॉलीवुड के इन सुपरस्टार्स की पहली फिल्म का लुक कर देगा आपको हैरान, वीडियो

आज भले ही बॉलीवुड के सुपरस्टार्स सबके दिलों पर राज करते हों लेकिन अपने करियर की शुरुआत में ये भी आम लड़कों की तरह ही थे।

23 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper