विज्ञापन

सेक्टर 17 में यूको बैंक में शार्ट सर्किट से लगी जबरदस्त आग ने लापरवाही की खोली पोल

Chandigarh Updated Sun, 17 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
चंडीगढ़। सेक्टर 17 स्थित यूको बैंक के टॉप फ्लोर पर शार्ट सर्किट की वजह से शनिवार सुबह जबरदस्त आग लग गई। इस आग में 25 कंप्यूटर, 15 एसी और बैंक रिकार्ड समेत आधा आफिस जलकर राख हो गया। इस दौरान बैंक में लगे अग्निशमन उपकरण नहीं चले और बैंक के अंदर और बाहर जगह-जगह तारों के गुच्छे झूल रहे थे, जिससे बड़ा हादसा हो सकता था। इससे साफ हो गया कि हम इन घटनाओं से बचने को लेकर कितने लापरवाह हैं।
विज्ञापन

फायर सेफ्टी डिपार्टमेंट भी केवल नोटिस जारी करके अपने कर्तव्य से पल्ला झाड़ लेता है और हम भी उन नोटिसों को रद्दी में डाल देते हैं। अब प्रशासन ने इन लापरवाह बिल्डिंग मालिकों को फाइनल नोटिस देकर सीलिंग की चेतावनी दी है। अमर उजाला सेक्टर 17 में इस तरह की लापरवाही को 7 जून के अंक में प्रकाशित करके पहले ही प्रशासन और लोगों को चेता चुका है।
एक घंटे में पाया आग पर काबू
सेक्टर 17 स्थित शोरूम नं. 55-57 स्थित यूको बैंक में तैनात पंजाब पुलिस के कमांडो राजिंदर सिंह ने बताया कि शनिवार सुबह साढ़े सात बजे बैक के टॉप फ्लोर पर आग की लपटें दिखाई दी। सूचना पर फायर विभाग की छह गाड़ियां मौके पर पहुंची। इतने में सीनियर बैंक मैनेजर एमएल शर्मा मौके पर पहुंचे और उन्होंने बताया कि टॉप फ्लोर पर पंजाब और हरियाणा सर्किल के अधिकारी बैठते हैं। आग लगने के समय टॉप फ्लोर पर कोई मौजूद नहीं था। शर्मा ने बताया कि टॉप फ्लोर पर आग लगने से आधा हिस्सा जल गया, जबकि मेन सर्वर रूम, सीनियर मैनेजर का कैबिन बच गया।

आंशिक काम हुआ प्रभावित
यूको बैंक की सेक्टर 17 ब्रांच की एटीएम सेवा बाधित हुई। कंप्यूटर सिस्टम ठप होने की वजह से सेक्टर 22 और मोहाली ब्रांच की मदद से काम चलाया गया।

बैंक में लगे फायर उपकरण नहीं चले
फायर अधिकार जगदीप ने यूको बैंक में लगी पाइप से आग बुझाने के लिए पानी लेना चाहा तो पानी बाहर आया ही नहीं। इसके अलावा आग बुझाने वाले अग्निशमन यंत्र भी एक्सपायर हो चुके थे। फायर आफिसर ने बताया कि यूको बैंक को डेढ़ महीने पहले ही फायर सेफ्टी उपकरणों को चेक करवाने केलिए नोटिस जारी किया गया था।

सोमवार को करेंगे बैंक में जांच
आग लगने के समय बैंक में पानी की पाइपों में पानी नहीं आया। आग बुझाने वाले अग्निशमन यंत्र भी एक्सपायरी थे। सोमवार को बैंक में जाकर फायर सेफ्टी उपकरणों की जांच की जाएगी। बैंक में आग शार्ट सर्किट से लगी है।
- एमएल शर्मा, फायर आफिसर सेक्टर 17

और बड़ा हो सकता था हादसा
यूको बैंक में आग लगने के दौरान एसी के फटने से धमाके भी हुए। बैंक परिसर में ज्वलनशील पदार्थ भी रखे गए थे। आग लगने की वजह से वायरिंग की तारें इधर उधर झूलने लगीं और फॉल्स सीलिंग जलकर खाक होकर जमीन पर गिर गई। यदि जल्द ही आग पर काबू न पाया जाता तो हादसा बड़ा हो सकता था। फायर आफिसर एमएल शर्मा ने बताया कि प्राथमिक जांच में पता चला है कि बैंक में आग शार्ट सर्किट से लगी है।


एक-दूसरे पर थोप रहे जिम्मेदारी
चंडीगढ़। सेक्टर 17 स्थित यूको बैंक के बाहर लटक रहे बिजली के तारों को लेकर बिजली विभाग और बैंक प्रशासन एक-दूसरे पर जिम्मेदारी थोप रहा है। बिजली के नंगे तारों और इंटरनल वायरिंग के बारे में बिजली विभाग के एक्सईएन सुभाष सैनी ने कहा कि इस बाबत शिकायतें मिलने पर बिल्डिंग की जांच की जाती है। इंटरनल वायरिंग की जांच का काम उनका नहीं है और मीटर की जांच में पाया गया है कि वह ठीक तरीके से काम कर रहा है। वहीं, बैंक के जीएम बी वेंकटरामणा ने कहा कि फायर सेफ्टी के लिए सभी कर्मियों को पंद्रह दिन पहले निर्देश दिए गए थे। हरियाणा जोनल ऑफिस की बिल्डिंग को हाल ही में ही तैयार किया था। वायरिंग भी पुरानी नहीं थी, लेकिन बैंकों के बाहर लटकती तारों पर निगरानी रखने का काम विभाग का है।


अब नहीं माने तो बिल्डिंग करेंगे सील
चीफ फायर ऑफिसर कम ज्वायंट कमिश्नर राकेश गुप्ता ने कहा कि बैंक स्कवायर में संचालित होने वाली तमाम बिल्डिंगों को वायरिंग के अलावा अग्निशमन के पुख्ता इंतजाम के निर्देश दिए गए थे। बावजूद इसके कई परिसरों में नियमों की अनेदखी की जा रही है। अब उन्हें फाइनल नोटिस भेजा जाएगा और इसकी अनदेखी करने वालों की बिल्डिंग सील भी की जा सकती है।


200 फायर कर्मियों की जरूरत
फायर विभाग के पास करीब 300 कर्मचारी हैं। करीब 200 कर्मचारियों के स्टाफ की और जरूरत है। इस वजह से भी रुटीन चेकिंग नहीं हो पाती
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us