विज्ञापन

बंसल बिछाएंगे दादा को राष्ट्रपति बनाने की बिसात

Chandigarh Updated Sat, 16 Jun 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
चंडीगढ़। साफ छवि और सभी को साथ लेकर चलने की खासियत ने चंडीगढ़ के सांसद और केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री पवन बंसल को राष्ट्रपति चुनाव में अहम जिम्मेदारी दिला दी है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने वित्तमंत्री प्रणब मुखर्जी को रायसीना हिल्स तक पहुंचाने की जिम्मेदारी बंसल को सौंपी है। प्रणव दा के चुनाव संयोजक के रूप में बंसल पर यूपीए के भीतर और बाहर के दलों को साथ लाने और भारी वोटों से दादा को जिताने का दायित्व होगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
वैसे इतना बड़ा दायित्व सौंपे जाने पर खुद बंसल ने सिर्फ इतना कहा कि पार्टी की मुखिया ने उन पर भरोसा जताया, यह उनके लिए गर्व की बात है। यूपीए-2 के दौरान बंसल को इससे पहले भी कई बार मुश्किल हालात से सरकार को उबारने के मिशन में लगाया जाता रहा है। पिछले साल अनशन से पहले बाबा रामदेव से बात करने से लेकर लोकपाल विधेयक पर अन्ना हजारे से बातचीत करने तक का काम उन्हें सौंपा गया। इसके अलावा उत्तर प्रदेश में नए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के शपथ समारोह में जाकर सपा की यूपीए से नजदीकी बढ़ाने का दायित्व भी बंसल ने ही निभाया। इसके अलावा यूपीए-टू का रिपोर्ट कार्ड पेश करने के लिए आयोजित कार्यक्रम की सफल मेजबानी करके भी वाहवाही लूटी।
बंसल अपना यह दायित्व किस खूबी से निभाएंगे इसकी बानगी इससे मिलती है कि प्रणब की उम्मीदवारी घोषित होते ही संसदीय कार्य मंत्री ने ऐलान कर दिया कि मुखर्जी तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी से भी बात करेंगे। इस बयान के कुछ देर बाद प्रणब ने ममता को छोटी बहन बताते हुए उन्हें मनाने की बात कह डाली। इतना ही नहीं यूपीए के उम्मीदवार को आपस में झगड़ते सपा-बसपा, राजद-जदयू से समर्थन की घोषणाओं या संकेत भी मिलने शुरू हो गए हैं।

जिस भरोसे के साथ पार्टी ने मुझे राष्ट्रपति चुनाव की जिम्मेदारी सौंपी है, वह मेरे लिए गर्व की बात है। मेरा प्रयास रहेगा कि मैं उन उम्मीदों पर खरा उतरूं।
पवन बंसल, राष्ट्रपति चुनाव में यूपीए के संयोजक


बंसल जी दूरदर्शी और विश्वासपात्र हैं
सोनिया गांधी की ओर से राष्ट्रपति चुनाव के लिए जिम्मेदारी सौंपे जाने का फैसला पवन बंसल के विश्वासपात्र होने और उनकी दूरदर्शिता में भरोसा दिखाता है। बंसल साहब न सिर्फ कम बोलते हैं, बल्कि सूझबूझ के साथ सबको सुनते भी हैं। उन्हें यह जिम्मेदारी मिलने शहर के लिए भी गौरव की बात है।
-आरके साबू, उद्योगपति, पूर्व रोटरी इंटरनेशनल प्रेसीडेंट

ही इज लीडिंग पर्सन इन कांग्रेस
बंसल साहब निश्चित रूप से इस जिम्मेदारी के लायक हैं। ही इज लीडिंग पर्सन इन कांग्रेस पार्टी। इसीलिए उन्हें इतनी बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। शहर के लोगों को निश्चित ही इस पर फख्र होना चाहिए।
-प्रताप अग्रवाल, सीआईआई के पूर्व चेयरमैन

Recommended

सवाल करियर का हो या फिर हो नौकरी से जुड़ा, पाएं पूरा समाधान जाने-माने ज्योतिषी से
ज्योतिष समाधान

सवाल करियर का हो या फिर हो नौकरी से जुड़ा, पाएं पूरा समाधान जाने-माने ज्योतिषी से

आप भी बन सकते हैं हिस्सा साहित्य के सबसे बड़े उत्सव "जश्न-ए-अदब" का-  यहाँ register करें-
Register Now

आप भी बन सकते हैं हिस्सा साहित्य के सबसे बड़े उत्सव "जश्न-ए-अदब" का- यहाँ register करें-

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

श्रीदेवी के गुजरने के बाद कपूर परिवार में आए ये बदलाव

24 फरवरी 2018 को श्रीदेवी की मौत हुई। श्रीदेवी को गुजरे 1 साल होने वाला है और वक्त के साथ उनके परिवार की जिंदगी में भी कई बदलाव आए। श्रीदेवी की मौत के बाद जहां अर्जुन कपूर और जाह्नवी के रिश्ते भी सही हुए।

23 फरवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree