मनसा देवी मंदिर में तेंदुए की दहशत

Chandigarh Updated Fri, 08 Jun 2012 12:00 PM IST
पंचकूला। श्री माता मनसा देवी मंदिर परिसर में बुधवार रात तेंदुआ घुसने की सूचना से दहशत फैल गई। सूचना मिलने के बाद आसपास के लोग घरों में दुबक गए और सवेरे तक बाहर नहीं निकले। पुलिस और वाइल्ड लाइफ के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर सर्च अभियान चलाया। वाइल्ड लाइफ के इंस्पेक्टर जयवीर सिंह के अनुसार वीरवार अलसुबह तक चले सर्च अभियान में तेंदुए के पंजे के निशान नहीं मिले हैं। लोगों में इतनी दहशत थी कि मंदिर की सुरक्षा में तैनात होमगार्डों ने खुद को मंदिर की ग्रिल के अंदर कैद कर लिया।
मनसा देवी मंदिर में स्थित सती मंदिर के पुजारी प्रवीण शास्त्री ने बताया कि साढे़ आठ बजे वे मंदिर बंद कर रहे थे। इस बीच उन्हें नाले के पास कुत्तों के भौंकने की आवाज सुनाई दी। मंदिर से झांककर देखा तो उन्हें तेंदुआ दिखाई दिया। वे डर गए और कर्मचारियों और सेवादारों की जानकारी दी। रात करीब साढे़ बारह बजे मनसा देवी मंदिर के वीवीआईपी गेट पर तैनात होमगार्ड राजकुमार अपने अन्य साथी के साथ चाय लेने के लिए जा रहा था। दोनों ने मुख्य द्वार को जाने वाले गेट में लगी चेन हटाई, तभी पास लगे रुद्राक्ष के पेड़ से किसी जानवर के छलांग लगाने की आवाज सुनाई दी। एकाएक हुई घटना से दोनों चौंक गए। उन्होंने बताया कि तेंदुए ने नल के पास पानी पिया और दहाड़ भी लगाई। सिक्योरिटी गार्ड ने पुलिस और वाइल्ड लाइफ विभाग को सूचना दे दी। सूचना मिलते ही एमडीसी थाने की एडिशनल एसएचओ अरुणा और महिला सेल की इंस्पेक्टर मनजीत कौर ने आकर तेंदुए की तलाश की। वाइल्ड लाइफ के इंस्पेक्टर जयवीर सिंह ने अपने कर्मचारियों के साथ मंदिर परिसर में सर्च अभियान चलाया। पुलिस की पीसीआर एमडीसी के सेक्टरों में भी तेंदुए की तलाश करती रही।

पानी या शिकार की तलाश में आते हैं
वाइल्ड लाइफ के इंस्पेक्टर जयवीर सिंह ने बताया कि सूचना के आधार पर मनसा देवी मंदिर परिसर में तलाश की गई थी, लेकिन तेंदुए के पंजों के निशान नहीं मिले हैं। इस क्षेत्र में कई तेंदुए हैं। संभावना है कि कोई तेंदुआ पानी या फिर किसी शिकार की तलाश में मंदिर में आ गया होगा। इससे पहले जनवरी में इसी क्षेत्र में एक मादा तेंदुए ने दो शावकों को जन्म दिया था।

पहले भी आबादी में आए हैं
29 दिसंबर 2011 को भी पंचकूला के सेक्टर 10 की कोठी में एक तेंदुआ घुस आया था, जिसे बेहोश करके पकड़ने के बाद मोरनी के जंगलों में छोड़ दिया गया। इससे पहले बरवाला में भी ऐसी घटना हुई थी।
जनवरी में भी वाटर कंजरवेशन विभाग के पास तेंदुआ दिखाई दिया था। तब उसके पंजों के निशान के बाद पिंजरा लगाया गया था, लेकिन उसे काबू नहीं किया जा सका था।


मंदिर में रेलिंग टूटी, लाइटें नहीं
पंचकूला। श्री माता मनसा देवी मंदिर के आसपास पर्याप्त रोशनी नहीं होने के कारण श्रद्धालुओं के साथ ही सुरक्षा में तैनात सिक्योरिटी गार्डों में दहशत का माहौल बना हुआ है। मंदिर परिसर में तो लाइटें ठीक लगी हुई हैं, लेकिन सती मंदिर और पटियाला मंदिर के आसपास अंधेरा रहने के कारण लोग असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। बुधवार को तेंदुए की सूचना के बाद श्रद्धालु मंदिर के पार्क में बैठने से गुरेज कर रहे हैं। ड्यूटी पर तैनात सिपाही और होमगार्ड ने बताया कि अक्सर जंगली जानवर मंदिर में आते रहते हैं। इसके अलावा मंदिर परिसर के बाहर लगी रेलिंग भी कई जगह से टूट गई है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Lucknow

मुख्यमंत्री योगी ने इंवेस्टर्स समिट की सफलता पर जताई खुशी, कहा- 33 लाख को मिलेगा रोजगार

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इंवेस्टर्स समिट में चार लाख अट्ठाइस हजार करोड़ रुपये के एमओयू साइन हो चुके है जबकि चार लाख के और प्रस्ताव हमारे पास हैं।

22 फरवरी 2018

Related Videos

देसी होकर भी विदेशी हैं ये कलाकार

बॉलीवुड में धमाल मचाने वाली कुछ एक्टर्स ऐसे हैं जो विदेशी हैं। जिनके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे। शायद हो सकता है इस लिस्ट में आपके फेवरट एक्टर भी हो जिसे आप सोच रहे हैं कि वह भारत में जन्मे और पले-बढ़े हैं।

22 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen