बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
मंगलवार को इन 4 राशिवालों की पलटेगी किस्मत, जेब में आएगा पैसा
Myjyotish

मंगलवार को इन 4 राशिवालों की पलटेगी किस्मत, जेब में आएगा पैसा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

गर्व : चंडीगढ़ की शूटर गौरी श्योराण बनीं ग्लोबल एंबेसडर, अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर मिला सम्मान

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर चंडीगढ़ की शूटर गौरी श्योराण को इंटरनेशनल वुमन क्लब ने 2021 का ग्लोबल एंबेसडर नियुक्त किया है। एक ऑनलाइन कार्यक्रम में चेक...

18 अप्रैल 2021

विज्ञापन
Digital Edition

कांग्रेस की कलह: नवजोत सिद्धू को मिल रहा था ये बड़ा पद लेकिन नहीं माने, अमरिंदर सिंह के अधीन काम करने को तैयार नहीं

पंजाब कांग्रेस का विवाद सुलझाने के लिए विधायक नवजोत सिंह सिद्धू को उपमुख्यमंत्री का पद देने की अटकलों पर विराम लग गया है। सूत्रों के अनुसार, नवजोत सिद्धू पहले पार्टी हाईकमान और फिर तीन सदस्यीय कमेटी को साफ कर आए हैं कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के अधीन किसी भी पद पर काम करना असंभव है। सूत्रों से पता चला है कि सिद्धू जब तीन सदस्यीय कमेटी के सामने पेश हुए तो उन्होंने मुख्यमंत्री कैप्टन का कच्चा-चिट्ठा ही नहीं खोला, बल्कि पंजाब में अफसरशाही द्वारा सरकार चलाए जाने के भी अनेक उदाहरण पेश करते हुए कई अफसरों तक के नाम गिना डाले, जो सीधे तौर पर सरकार चला रहे हैं। उन्होंने कमेटी को यह भी बताया था कि पंजाब में कांग्रेस विधायकों, नेताओं और कार्यकर्ताओं की सरकार में कोई सुनवाई नहीं है। राज्य में इस समय भी बादल परिवार का ही राज चल रहा है और उनकी सुविधा के अनुसार ही कैप्टन सरकार फैसले ले रही है।
... और पढ़ें
नवजोत सिंह सिद्धू, कैप्टन अमरिंदर सिंह। नवजोत सिंह सिद्धू, कैप्टन अमरिंदर सिंह।

आराम की उम्र में करनी पड़ी खुदकुशी: हिसार में बुजुर्ग दंपती ने जगह खाकर जान दी, सुसाइड नोट में लिखी ये वजह

लघु सचिवालय के कोर्ट परिसर के मेन गेट के पास बनी पार्किंग में सोमवार को गांव खेड़ी बर्की निवासी 63 वर्षीय ज्ञानचंद और उनकी पत्नी 57 वर्षीय कमलेश ने जहर निगल लिया। गंभीर अवस्था में दोनों को एंबुलेंस की मदद से इलाज के लिए हिसार के नागरिक अस्पताल भेजा गया, जहां से उन्हें अग्रोहा रेफर किया गया। वहां से परिजन उन्हें हिसार के सपड़ा अस्पताल ले गए। वहां से उन्हें हिसार के चूड़ामणी अस्पताल ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान दोनों ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने दोनों के पास से सुसाइड नोट भी बरामद किया है। 

यह लिखा सुसाइड नोट में
सुसाइड नोट में लिखा है कि उनके बेटे अनिल के ससुराल वाले उन्हें परेशान कर रहे थे। इस कारण उन्होंने जहर निगला। उन्होंने सुसाइड नोट में बेटे अनिल के ससुरालजनों के नाम भी लिखे हैं। मामले में पुलिस ने बताया कि उनके छोटे बेटे अनिल के ससुराल वाले दहेज के एक मामले को लेकर उन्हें तंग करते थे। उसी संबंध में वे आज एसपी कार्यालय भी आए थे। एसपी कार्यालय पहुंचने से पहले दोनों ने जहर निगल लिया। मामले में पुलिस ने बताया कि दोनों के शव को कब्जे में ले लिया है। पोस्टमार्टम के लिए हिसार नागरिक अस्पताल के शवगृह में भिजवाया है। 

पुलिस ने दी जानकारी 
पुलिस ने बताया कि गांव खेड़ी बर्की निवासी ज्ञानचंद ने अपने छोटे बेटे अनिल की शादी पटेल नगर हिसार में की थी। अनिल और उसकी पत्नी की आपस में अनबन के चलते उसकी पत्नी 7 महीने से पटेल नगर में अपने मायके में ही रह रही है। जिसके चलते 4-5 बार पंचायतें हो चुकी थी। दोनों पक्षों में कई बार मारपीट भी हो चुकी है। मामले में पुलिस ने बताया कि मृतक दंपती का बड़ा बेटा सुनील कुमार खेदड़ प्लांट में नौकरी करता है।

केंद्रीय भेड़ प्रजनन केंद्र से सेवानिवृत्त हुए थे ज्ञानचंद
पड़ोसी संतालाल ने बताया कि अनिल की पत्नी लंबे समय से अपने मायके में रह रही है। अनिल अपनी पत्नी व बच्चों को लाना चाहता था। उसके परिजन भेज नहीं रहे थे। अनिल गांव में ही परचून की दुकान चलाता था। उसकी पत्नी अपने 8 साल के लड़के को लेकर अपने साथ गई थी। अदालत में केस चल रहा था। आज सुबह दोनों तारीख पर गए थे। मृतक ज्ञानचंद केंद्रीय भेड़ प्रजनन केंद्र में भेड़ पालक के पद थे। तीन साल पहले ही सेवानिवृत्त हुए थे।
... और पढ़ें

थमने लगी कोरोना की दूसरी लहर: पंजाब में वायरस ने ली 33 मरीजों की जान, हरियाणा में 99 दिन बाद सबसे कम संक्रमित मिले

पंजाब में सोमवार को 629 नए कोरोना संक्रमित मिले और 33 मरीजों की मौत हो गई। अभी अस्पतालों में भर्ती 188 संक्रमितों की हालत गंभीर बनी हुई है। कोरोना के कारण सूबे में अब तक 15602 लोगों की जान जा चुकी है। बीते 24 घंटे में अमृतसर 2, बरनाला 2, बठिंडा 1, फाजिल्का 2, फिरोजपुर 3, गुरदासपुर 1, होशियारपुर 2, जालंधर 3, लुधियाना 1, मानसा 1, मोहाली 1, मुक्तसर 1, पठानकोट 1, पटियाला 5, रोपड़ 1, संगरूर 4 और तरनतारन में 2 मरीजों ने दम तोड़ा।

ब्लैक फंगस के 10 नए मामले
पंजाब में ब्लैक फंगस से सोमवार को 10 नए मामले सामने आए हैं। सूबे में अब तक 441 लोग इस गंभीर बीमारी की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 388 लोग मूलरूप से पंजाब और 53 दूसरे राज्यों के बताए जा रहे हैं। अब तक 50 लोगों की मौत हो चुकी है।

हरियाणा में 99 दिन बाद सबसे कम 268 नए मामले
हरियाणा में 99 दिनों बाद सोमवार को कोरोना के सबसे कम 268 नए केस सामने आए। एक दिन की संक्रमण दर 1 प्रतिशत से घटकर 0.98 प्रतिशत रह गई है। दूसरी लहर की संक्रमण दर 12.79 और कुल संक्रमण दर 8.03 फीसदी है। रिकवरी दर 98.29 प्रतिशत पहुंच गई है और इस समय एक्टिव केसों की संख्या घटकर 4077 रह गई है।

40 की मौत, कुल संख्या नौ हजार के पार
एक तरफ कोरोना के केस कम हो रहे हैं। दूसरी तरफ मरीजों की मौत का सिलसिला लगातार जारी है। मृत्यु दर 1.10 प्रतिशत है। सोमवार को 40 मरीजों की मौत के साथ प्रदेश में कुल मौतों का आंकड़ा 9032 पहुंच गया है। सिरसा 5, हिसार-पानीपत 4-4, कैथल, करनाल, जींद, गुरुग्राम 3-3, फतेहाबाद, झज्जर, भिवानी, यमुनानगर और कुरुक्षेत्र 2-2 और फरीदाबाद, रोहतक, महेंद्रगढ़, पलवल और नूंह में 1-1 मरीज की मौत हुई है।

हरियाणा में सीरो सर्वे आज से 
हरियाणा में मंगलवार से सीरो सर्वे शुरू हो जाएगा। प्रदेश की कुल आबादी में से 20 हजार लोगों को सर्वे में शामिल किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर छह साल से अधिक उम्र के बच्चों को भी सर्वे में शामिल करने का आदेश दिया है। वैक्सीनेशन करवा चुके लोगों को भी सीरो सर्वे में शामिल किया जाएगा ताकि पता चल सकेगा कि वैक्सीन लगने के बाद शरीर में कितनी एंटीबॉडी बन पाई है। सर्वे में 60 प्रतिशत ग्रामीण और 40 प्रतिशत शहरी लोगों को शामिल किया जाएगा। 
... और पढ़ें

नहीं मिली सरकारी मदद: सियाचिन में बेटा हुआ था शहीद, कैंसर पीड़ित मां इलाज को भटक रही...लिखा- 'घर बिकाऊ है'

सियाचिन में अपने प्राणों को न्योछावर कर देने वाले शहीद जवान की कैंसर पीड़ित मां इलाज के लिए भटक रही है। पंजाब सरकार ने परिवार को 50 लाख रुपये और नौकरी देने का एलान किया था लेकिन यह वादा अभी तक अधूरा है। मामला पंजाब के बठिंडा जिले का है। शहीद की मां मनजीत कौर को उसके पति ने घर से निकाल दिया तो अंत में अपने मायके गांव महिराज चली गईं।

मायके वालों के पास उपचार के लिए पैसे न होने पर वह अपना घर बेचने के लिए मजबूर हैं। परिवार ने अपने घर के मुख्य गेट पर लिखा है कि कैंसर पीड़ित माता का उपचार करवाने के लिए घर बिकाऊ है। गांव महिराज निवासी मनजीत कौर की शादी काफी वर्ष पहले गांव महमा सर्जा में हुई थी। शादी के दो वर्ष बाद मनजीत कौर ने बेटे को जन्म दिया जो बड़ा होकर भारतीय सेना में भर्ती हो गया था।
... और पढ़ें

हिसार पुलिस को मिली कामयाबी: चूरू से 17 किलो सोना और 8.92 लाख रुपये लूटकर भागे बदमाशों को उकलाना में दबोचा

शहीद बेटे की तस्वीर के साथ कैंसर पीड़ित मां।
राजस्थान के चूरू से सोमवार को 17 किलो सोना और आठ लाख 92 हजार रुपये लूटकर भागे बदमाशों को हिसार जिले की पुलिस ने देर रात उकलाना के सुरेवाला चौक से दबोच लिया। बदमाश चूरू में मणप्पुरम गोल्ड फाइनेंस कंपनी से सोना और रुपये लूटकर भागे थे। बदमाशों के पीछे राजस्थान की पुलिस भी लगी हुई थी।

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से लूटा गया सोना और नकदी भी बरामद कर ली। इसके साथ ही पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से लूट की वारदात में इस्तेमाल हथियार भी बरामद किए हैं। मिली जानकारी के अनुसार जिले की सीमा से सटे राजस्थान के चूरू शहर में मणप्पुरम गोल्ड फाइनेंस कंपनी की शाखा में करीब तीन बजे चार नकाबपोश युवक घुस गए और सोने पर लोन लेने के बहाने बातचीत करते हुए कर्मचारियों से हथियारों के बल पर करीब 17 किलो सोना और 8 लाख 92 हजार रुपये लूट लिए। 

बदमाशों ने शाखा के कर्मचारियों के साथ मारपीट भी की और हार्ड डिस्क भी ले आए। घटना की सूचना के सूचना मिलने के बाद स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और सीमावर्ती जिलों की पुलिस से संपर्क किया। घटना की सूचना मिलने के बाद हिसार पुलिस की विभिन्न टीमें पूरी तरह से सतर्क हो गईं। इस दौरान हिसार पुलिस की ओर से उकलाना के सुरेवाला चौक पर नाकेबंदी की गई थी, जहां कार में सवार दो आरोपियों को दबोच लिया गया। वहीं, दो आरोपी भाग गए। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के कब्जे से तीन हथियार भी बरामद किए हैं। पकड़े गए आरोपियों की पहचान यूपी के मुजफ्फरनगर निवासी शादाब व पंजाब के डेराबस्सी निवासी अनिश ठाकुर के रूप में हुई है।
... और पढ़ें

चंडीगढ़: सीएम आवास पर भूख हड़ताल करने जा रहे आप नेताओं को पुलिस ने रोका, 15 जून से फिर प्रदर्शन

चुनाव आते ही पंजाब की दलित राजनीतिक गर्माने लगी है। आम आदमी पार्टी के विधायक और कार्यकर्ता सोमवार को पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप में कथित घोटाले को लेकर मुख्यमंत्री आवास पर भूख हड़ताल करने पहुंच गए, जहां उनको पुलिस द्वारा रोककर हिरासत में ले लिया गया।

पुलिस थाने में भी आप नेताओं ने धरना देकर भूख हड़ताल शुरू कर दी। उन्होंने मांग की है कि इस मामले में वित्त मंत्री और समाज कल्याण मंत्री के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया जाए।

आप नेता और नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री आवास कूच किया। आवास से पहले ही प्रदर्शनकारी नेताओं को पुलिस ने रोक लिया और हिरासत में ले लिया। इस दौरान नेताओं की पुलिस से तीखी नोक-झोंक भी हुई।

पुलिस आप विधायकों और नेताओं को हिरासत में लेकर सेक्टर-17 थाने पहुंची। जहां आप नेता मनविंदर सिंह ग्यासपुरा ने भूख हड़ताल शुरू कर दी। नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि कैप्टन सरकार ने दलित वर्ग के दो लाख विद्यार्थियों के वजीफा की रकम में करोड़ों रुपये घोटाला करके विद्यार्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है। 

हरपाल चीमा ने कहा कि जब तक वित्तमंत्री मनप्रीत बादल और समाज कल्याण मंत्री साधु सिंह धर्मसोत के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज नहीं किया जाता तब तक आप का संघर्ष जारी रहेगा। प्रदर्शन के दौरान नेता प्रतिपक्ष की उप नेता बीबी सरबजीत कौर माणूंके, मास्टर बलदेव सिंह जैतों, प्रिंसिपल बुद्ध राम, जगतार सिंह जग्गा हिस्सोवाल, मनजीत सिंह बिलासपुर, कुलवंत सिंह पंडोरी व हलका पायल के इंचार्ज मनविंदर सिंह ग्यासपुरा भी शामिल रहे।
... और पढ़ें

हरियाणा में विरोध का नया अंदाज: विधायकों के पहुंचने से पहले दो जगह किसानों ने किया पार्क व बिजली घर का उद्घाटन

हरियाणा के हांसी में लाला हुक्म चंद जैन पार्क के बाद सोमवार को किसानों ने शहीद भगत सिंह पार्क के पुनर्निर्माण का भी उद्घाटन कर दिया। किसानों ने दोनों पार्क में लगे शिलापट्ट से विधायक का नाम भी हटा दिया। बता दें कि रविवार को किसानों को सूचना मिली थी कि भाजपा विधायक विनोद भयाना सोमवार को लाला हुक्म चंद जैन पार्क के पुनर्निर्माण का उद्घाटन करेंगे। इसकी सूचना मिलते ही किसान पार्क में पहुंचे और महंत इच्छापुरी के हाथों पार्क का उद्घाटन करा दिया। यही नहीं किसान रातभर पार्क में डटे रहे कि कहीं विधायक सुबह-सुबह पार्क में न पहुंच जाएं। 

उधर, सोमवार को किसानों को सूचना मिली कि विधायक आज शहीद भगत सिंह पार्क में पुनर्निर्माण कार्य का उद्घाटन करेंगे। इस सूचना पर सुबह 10 बजे किसान वहां पहुंच गए। पहले तो किसानों ने पार्क की सफाई की और शहीदों की प्रतिमाओं की साफ-सफाई की। इसके बाद बाबा इच्छापुरी महाराज के हाथों पार्क का रिबन कटवाकर उद्घाटन कर दिया। यह पार्क विधायक के आवास से लगभग 100 मीटर की दूरी पर ही है। 
  
किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष कुलदीप खरड़ ने कहा कि जब तक नए कृषि कानून रद्द नहीं किए जाते, तब तक भाजपा के नेताओं का विरोध जारी रहेगा। जहां पर भी भाजपा-जजपा नेताओं का सरकारी कार्यक्रम होगा तो वे उसका डटकर विरोध करेंगे।
... और पढ़ें

हरियाणा: सिरसा में फंदे से लटका मिला हवलदार, ड्यूटी से चल रहा था गैर हाजिर

हरियाणा पुलिस में तैनात गांव फग्गू निवासी हवलदार ने अपने घर में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना के बाद रोड़ी पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पुलिस ने इस संबंध में फिलहाल इत्तफाकिया घटना की कार्रवाई की है। जानकारी के अनुसार गांव फग्गू निवासी बुध सिंह फतेहाबाद की पुलिस लाइन में ईएचसी के पद पर तैनात था। 

पांच जून को उसे ईएचसी के पद से रतिया के विधायक के गनमैन के रूप में तैनात करने का आदेश जारी हुआ था। बताया जा रहा है कि बुध सिंह पांच जून को पुलिस लाइन से रवाना हो गया लेकिन वह विधायक के यहां नहीं पहुंचा। जब विधायक ने पुलिस लाइन में गनमैन के बारे में पूछा तो जवाब मिला कि बुध सिंह के लाइन से आर्डर किए जा चुके हैं। 

ड्यूटी पर न पहुंचने पर 10 जून को फतेहाबाद पुलिस लाइन में उसकी गैर हाजिरी लगा दी गई। बताया गया है कि बुध सिंह का अपनी पत्नी के साथ मनमुटाव चल रहा था। जिस कारण उसकी पत्नी अपने 10 वर्षीय बेटे के साथ मायके में रह रही थी। बुध सिंह ने कुछ दिन पहले अपना घर भी बेच दिया था। 

दोनों बातों के कारण बुध सिंह मानसिक रूप से परेशान चल रहा था। रविवार रात को उसने अपने घर में छत के पंखे से फंदा लगा कर जान दे दी। थाना प्रभारी सुधीर कुमार ने बताया कि पुलिस ने मृतक के पिता व छोटे भाई के बयान पर इत्तफाकिया घटना की कार्रवाई दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है।
... और पढ़ें

कोटकपूरा गोलीकांड: पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल की तबीयत खराब, 16 को एसआईटी के सामने नहीं होंगे पेश

कोटकपूरा गोलीकांड की जांच कर रही नई एसआईटी के समक्ष 16 जून को पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल पेश नहीं हो पाएंगे। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने इसके पीछे उनकी खराब सेहत का हवाला दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री की ओर से एसआईटी को इसकी लिखित जानकारी दे दी गई है। इसमें कहा गया है कि वे ठीक होने के बाद ही जांच में शामिल हो पाएंगे।

अक्तूबर 2015 में हुए कोटकपूरा गोलीकांड मामले में पूछताछ के लिए नई एसआईटी ने पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को समन भेजकर 16 जून को पेश होने को कहा था। इस मामले में मोहाली में पूर्व मुख्यमंत्री से कुछ अहम बिंदुओं पर एसआईटी को पूछताछ करनी थी। रविवार को इसका खुलासा होने के बाद मामले को लेकर राज्य में सियासी हलचल शुरू हो गई थी। सोमवार को अचानक पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की तबीयत खराब हो गई। 

शिअद प्रवक्ता और वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ. दलजीत चीमा ने बताया कि प्रकाश सिंह बादल की सेहत ठीक नहीं है। चिकित्सकीय कारणों से वे नहीं जा पाएंगे। इसकी लिखित जानकारी एसआईटी को दे दी गई है। इतना जरूर है कि बादल इस जांच में पूर्ण रूप से सहयोग करेंगे। आने वाले दिनों में जब उनका स्वास्थ्य ठीक होगा तो वे एसआईटी की जांच में शामिल होंगे।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us