विज्ञापन

‘ए सिटी विदाउट लव’, एक देश जहां न प्यार और न हमदर्दी

ब्यूरो/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Mon, 07 Mar 2016 11:04 AM IST
थियेटर, प्ले, ड्रामा
थियेटर, प्ले, ड्रामा - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें
एक ऐसा देश जहां लोगों के हंसने पर पाबंदी है, कोई किसी से प्यार नहीं कर सकता और कोई किसी के प्रति हमदर्दी नहीं रख सकता। वहीं अगर इस नियम को किसी ने तोड़ा तो उसे सख्त से सख्त सजा दी जाती है।
विज्ञापन
ये कहानी दिखाई गई पंजाब कला भवन में हुए नाटक ‘ए सिटी विदाउट लव’ के मंचन में। पंजाब कला परिषद की ओर से चल रहे कार्यक्रम के तहत रविवार को रूपक कला केंद्र और वेलफेयर सोसायटी के कलाकारों ने नाटक का मंचन किया।

नाटक एक रूसी लेखक द्वारा लिखित कहानी पर आधारित है। नाटक को लेखक ने उस सदी में लिखा था जब रूस में तानाशाही थी। नाटक का निर्देशन विनोद कुमार शर्मा ने और इसका हिंदी अनुवाद किरण शर्मा ने किया। 

नाटक की कहानी रूस के एक ऐसे शहर की है, जहां सड़क, घर, दरवाजे, खिड़की, कपड़े, वाहन सब कुछ स्लेटी (ग्रे) रंग के हैं। साथ ही इस शहर के लोगों पर कई तरह की पाबंदियां हैं। जैसे कि वे किसी से प्यार नहीं कर सकते, दया या किसी से हमदर्दी जताने की मनाही है।

इसके अलावा यहां फूलों का खिलना, लोगों के हंसने और हंसाने पर सख्त पाबंदी है। यहां तक की अगर शहर के किसी कोने में कोई फूल खिल भी जाए तो उसका एक विचित्र तरीके  से अंतिम संस्कार कर दिया जाता है। शहर में यह सब होता है वहां के मेयर की हुकूमत की वजह से। वह शहर के लोगों को खुद के हिसाब से ढालना चाहता है।

मेयर ने सभी शहरवासियों के दिल पर एक ऐसी मशीन लगाई है जो इंसान के भावुक होने पर बज उठती है। मशीन के बजने पर व्यक्ति को फांसी दी जाती है। वहीं मेयर की बेटी सबसे छिप-छिपकर चिड़िया से खेलती है और कई ऐसे काम करती है जिनकी मनाही है। हालांकि हंसना वह भी नहीं जानती, क्योंकि उसके पिता की पाबंदी के कारण कोई नहीं हंसता। शहर में एक जोकर आता है जो अपने करतब से किसी भी चीज को दोगुना कर देता है।

मेयर उससे अपने धन को दोगुना करवाने के लालच में शहर में आने और रहने की इजाजत देता है। वह जोकर धीरे-धीरे शहर के लोगों से घुल-मिल जाता है और उनमें बदलाव की बयार लाता है। इसी दौरान जोकर की मुलाकात मेयर की बेटी ‘आना’ से होती है और दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगते हैं।

इसकी जानकारी मेयर को लगती है और वह दोनों को बंदी बना लेता है। इस पर वह चिड़िया जिससे मेयर की बेटी खेलती थी, वह दोनों को कैद से भागने में मदद करती है। इसके बाद वह जोकर अपनी बातों से पूरे शहर के लोगों को बदलने में कामयाब होता है और शहर ‘ए सिटी विद लव’ बन जाता है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Related Videos

VIDEO: पति के रोमांस के तरीके से खुश नहीं थी पत्नी, किस करते हुए दी ये बड़ी सजा

दिल्ली में पति के रोमांस के तरीके से नाखुश पत्नी ने भयानक वारदात को अंजाम दे डाला। रात को कमरे से पति की चीख निकली और परिजनों ने जब अंदर जाकर देखा तो वो भी सन्न रह गए।

24 सितंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree