लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Teenager running away from fear of police fell into Satluj river in Punjab

Firozpur News: पुलिस के डर से भागा किशोर सतलुज नदी में गिरा, पीड़ित परिवार ने लगाया धरना

संवाद न्यूज एजेंसी, फिरोजपुर (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Sun, 04 Dec 2022 08:34 PM IST
सार

परिजनों का आरोप है कि पुलिस के कारण उनके बेटे की मौत हुई है। पीड़ित परिवार ने पुलिस के खिलाफ धरना लगाकर इंसाफ की मांग की है। उधर, एसपी हरविंदर सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। जो सच सामने आएगा उसी के मुताबिक कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

अमरजीत सिंह की फाइल फोटो।
अमरजीत सिंह की फाइल फोटो। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन

विस्तार

पंजाब के फिरोजपुर के गांव मल्लू माछी में पुलिस को देख भाग रहा 15 वर्षीय बच्चा सतलुज नदी में गिर गया।। हुआ यूं कि शनिवार शाम तीन दोस्त स्कूल से आकर खेत में अपने परिजनों को चाय देने जा रहे थे। रास्ते में सतलुज नदी के पास आबकारी टीम पुलिस के साथ जांच कर रही थी। इन तीनों को बुलाकर पूछताछ की और लाठी मारी। इसी भय से तीसरा साथी वहां से भागने लगा और नदी में गिर गया। पुलिस उन दो युवकों को पकड़कर अपने साथ ले गई। जब परिजनों को पता चला तो उन्होंने पुलिस के खिलाफ धरना लगा दिया।



गुरदेव सिंह निवासी गांव मल्लू माछी ने बताया कि उसका बेटा कुलविंदर सिंह अपने दोस्त बलविंदर सिंह व अमरजीत सिंह के साथ परीक्षा देकर स्कूल से लौटा था। इसके बाद तीनों खेतों में चाय देने जा रहे थे। रास्ते में सतलुज नदी के पास आबकारी विभाग की टीम मौजूद थी। मुलाजिमों ने उक्त तीनों को बुलाकर पूछताछ की। 


आरोप है कि मुलाजिम ने बलविंदर को लाठी से पीटा। इस भय से अमरजीत वहां से भाग निकला और नदी में गिर गया। बलविंदर व कुलविंदर ने मुलाजिमों को बताया कि उनका साथी नदी में गिर गया है लेकिन मुलाजिमों ने उनकी एक न सुनी। दोनों को गाड़ी में बैठाकर कपूरथला की पुलिस चौकी कबीरपुर ले गए। जब परिजनों को पता चला तो वह पुलिस चौकी पहुंचे। 

पुलिस ने कुलविंदर को उनके हवाले कर दिया और बलविंदर को रिहा नहीं किया। जब पुलिस से अमरजीत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वे तो दो को पकड़कर लाए थे। कुलविंदर ने थाना से बाहर आकर परिजनों को सारी बात बताई। नदी में तलाश कर अमरजीत का शव निकाला गया। परिजनों का आरोप है कि पुलिस के कारण उनके बेटे की मौत हुई है। पीड़ित परिवार ने पुलिस के खिलाफ धरना लगाकर इंसाफ की मांग की है। उधर, एसपी हरविंदर सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। जो सच सामने आएगा उसी के मुताबिक कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00