विज्ञापन

बड़ा फैसलाः पीयू ने बर्खास्त किया यौन शोषण का दोषी डॉक्टर, कहीं नौकरी नहीं कर सकेगा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Sun, 04 Nov 2018 10:50 AM IST
सस्पेंड
सस्पेंड
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पंजाब विश्वविद्यालय की सीनेट ने सेक्सुअल हरासमेंट मामले में दोषी पाए गए डॉक्टर को बर्खास्त कर दिया है। अब वह दूसरी जगह नौकरी भी नहीं कर पाएगा। हालांकि इस दौरान दोषी पर पांच माह बाद कार्रवाई होने की निंदा भी की गई। प्रस्ताव पास हुआ कि आगे से ऐसा कोई मामला आता है तो पीड़िता को अधिकतम 30 दिनों में न्याय दे दिया जाएगा। साथ ही 20 दिन में दोषी पर कार्रवाई कर दी जाएगी। मालूम हो कि पीयू का यह दूसरा मामला है, जिसमें शिक्षण कार्य से जुड़े व्यक्ति को बर्खास्त किया गया है।
विज्ञापन
पांच माह पहले पीयू के डेंटल इंस्टीट्यूट के एक डॉक्टर ने एक छात्रा के साथ छेड़खानी की थी। पीड़िता ने छेड़खानी के साथ आरोपी डॉक्टर पर कई गंभीर आरोप लगाए गए थे। इस मामले की जांच के लिए चार सदस्यीय कमेटी बनाई गई थी। सूत्रों का कहना है कि पहले कुछ लोगों ने डॉक्टर को बचाने की कोशिश की, जिससे मामला खिंचता चला आया। इस बीच पीड़ित छात्रा न्याय के लिए इधर-उधर भटकती रही। पिछली सीनेट बैठक में भी जुलाई में यह प्रस्ताव रखा गया था लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। शनिवार को सीनेट की बैठक हुई।

शून्य सत्र में यह मामला एक सीनेटर ने रखा तो जांच रिपोर्ट व अब तक की कार्रवाई देखी गई। सभी सीनेटर ने इस पर एक्शन लेने का दबाव बनाया। आखिर में दोषी पाए गए डॉक्टर देविंदर प्रीत सिंह को बर्खास्त करने का निर्णय लिया गया। सीनेट ने यह सबसे कड़ी कार्रवाई डॉक्टर पर यह की है कि उसे दूसरी जगह नौकरी भी नहीं मिल सकेगी। कार्रवाई की दूसरी श्रेणी में केवल टर्मिनेट किया जाता है लेकिन उसमें दोषी को नौकरी मिल जाती है।

सेक्सुअल हरासमेंट पर यह प्रस्ताव हुए पास
- ऐसे मामले सामने आने के बाद सीनेट की बैठक जल्द से जल्द बुलाई जाएगी
- पीड़िता को कम से कम 20 दिन और अधिकतम 30 दिन में न्याय दिलाया जाए
- हर कॉलेज व रीजनल सेंटर पर एक कमेटी बनाई जाए, जो इस पर निर्णय ले सके

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Shimla

271 कॉलेजों, 16 विश्वविद्यालयों की बंद होगी रूसा ग्रांट

हिमाचल के 271 डिग्री, बीएड कॉलेजों और 16 विश्वविद्यालयों को राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) के तहत मिलने वाली ग्रांट बंद हो सकती है।

14 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

राजस्थान चुनाव: अमित शाह के 'मिशन 180' और कांग्रेस में फूट पर बोले अशोक गहलोत

बुधवार को राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि अमित शाह पहले ‘राजस्थान मिशन 180’ की बात करते थे लेकिन अब उनके नेता राम मंदिर की बात करने लगे हैं।

14 नवंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls
Niine

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree