लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Haryana new minister Dr Kamal Gupta has not got department yet

हरियाणा मंत्रिमंडल विस्तार: डॉ. कमल को मंत्रालय सौंपे जाने पर फंसा पेच, अनिल विज खफा, प्रदेश अध्यक्ष बोले- कोई नाराजगी नहीं

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़ Published by: ajay kumar Updated Wed, 29 Dec 2021 11:23 AM IST
सार

हरियाणा के नए मंत्री कमल गुप्ता को मंत्रालय सौंपे जाने पर पेंच फंस गया है। उन्हें कौन सा विभाग मिलेगा, यह स्पष्ट नहीं है। मंगलवार को डॉ. कमल गुप्ता ने राजभवन में मंत्री पद की शपथ ली थी। 

डॉ. कमल गुप्ता व अनिल विज।
डॉ. कमल गुप्ता व अनिल विज। - फोटो : फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मंगलवार को हरियाणा में दो विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली। इनमें एक टोहाना से जजपा विधायक देवेंद्र सिंह बबली हैं तो दूसरे हिसार से भाजपा विधायक डॉ. कमल गुप्ता हैं। देवेंद्र सिंह बबली को विकास एवं पंचायत विभाग मिल गया है लेकिन डॉ. कमल के विभागों पर देर रात तक फैसला नहीं हो पाया। कमल गुप्ता आठवें और देवेंद्र सिंह बबली सातवें तल से मंत्रालय चलाएंगे।



शपथ ग्रहण समारोह में मंत्रालय वितरण को लेकर नाराजगी दिखाई दी। गृह मंत्री अनिल विज समारोह से नदारद रहे। अनिल विज के पास स्वास्थ्य के अलावा गृह व शहरी निकाय, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग है। सूत्रों के अनुसार मंत्रिमंडल फेरबदल में इन महकमों में से एक कमल गुप्ता को सौंपने की चर्चा है। 


कमल गुप्ता पेशे से डॉक्टर रहे हैं, इसलिए उन्हें स्वास्थ्य दिए जाने की अटकलें जोरों पर हैं, जिससे विज नाखुश बताए जा रहे हैं। मामला पार्टी आलाकमान के पास भी पहुंचा है। मंगलवार को वह शाम पौने चार बजे सीएम निवास से निकले और फिर सचिवालय गए लेकिन राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह में नहीं पहुंचे। 



मंत्री बनने के इच्छुक विधायक ने भी समारोह से दूरी बनाए रखी। सार्वजनिक उपक्रम ब्यूरो के चेयरमैन व भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला भी गैरहाजिर रहे। वहीं, मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि यह अंतिम मंत्रिमंडल विस्तार है। मंत्रिमंडल में 14 का कोटा पूरा हो गया। 

कोई नाराजगी नहीं, कोविड के दौरान विज का प्रदर्शन सराहनीय: धनखड़
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओपी धनखड़ ने कहा कि मंत्रिमंडल विस्तार या महकमों के नए सिरे से बंटवारे को लेकर कोई नाराजगी नहीं है। कोविड के दौरान अनिल विज का कार्य सराहनीय रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना से लड़ाई में उम्दा कार्य किया।

गठबंधन सरकार में अब पांच जाट मंत्री
भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार में अब पांच जाट मंत्री हो गए हैं। मंत्रिमंडल विस्तार के पहले से डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, रणजीत चौटाला, जेपी दलाल व कमलेश ढांडा मंत्री के तौर पर कार्य करते आ रहे हैं। देवेंद्र बबली के मंत्री बनने के बाद अब इनकी संख्या पांच हो गई है। भाजपा को प्रदेश की जनता ने गैर-जाट के तौर पर अधिकतर सीटें जिताई थी, जबकि पूर्व सरकार में मंत्री रहे कैप्टन अभिमन्यु, ओपी धनखड़ और प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला तक को लुढ़का दिया लेकिन समय का चक्र बदला और गठबंधन सरकार बनी। जिसमें अब 14 के कुल मंत्रिमंडल में पांच जाट मंत्री हैं। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00