लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Punjab ›   Amritsar News ›   Two arrested with 15 bullets in Chandigarh

Chandigarh News: यूट्यूब से लॉक तोड़ना सीख उड़ाते थे वाहन, दो काबू, 15 बुलेट बरामद

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़ Published by: ajay kumar Updated Wed, 30 Nov 2022 12:04 AM IST
सार

एसपी सिटी ने बताया कि सनंदर सिंह का पिछला कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है लेकिन अमृतपाल के खिलाफ फिरोजपुर में झगड़े व ट्रेसपासिंग के केस दर्ज हैं। गैंग का सरगना सुखप्रीत सिंह है। उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

चंडीगढ़ में चोरों से 15 बुलेट बरामद।
चंडीगढ़ में चोरों से 15 बुलेट बरामद। - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

यूट्यूब से बुलेट का लॉक तोड़ना सीखकर वाहन चुराने वाले गिरोह के दो गुर्गों को चंडीगढ़ के सेक्टर-36 थाना पुलिस ने दबोचा है। आरोपियों से पुलिस ने चोरी की 15 बुलेट बरामद की हैं। आरोपियों की पहचान तरनतारन के गांव सबराह निवासी सनंदर सिंह (19) और जिला फिरोजपुर (पंजाब) के गांव अमीर शाह वाला निवासी अमृतपाल सिंह के रूप में हुई है। इसी के साथ पुलिस ने बुलेट चोरी के छह मामलों को सुलझा लिया है। हालांकि गिरोह का सरगना सुखप्रीत अभी पुलिस की पकड़ से दूर है। उसकी तलाश की जा रही है। 



पुलिस ने दोनों आरोपियों को जिला अदालत में पेश किया, जहां से उनको पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। एसपी सिटी श्रुति अरोड़ा ने बताया कि 23 नवंबर को गांव कजहेड़ी के 66 केवी स्टेशन मोड़ के नजदीक पुलिस ने नाकाबंदी कर रखी थी। इसी दौरान बुलेट नंबर पीबी-65एवी-9479 पर जा रहे एक युवक को रोका गया। 


पुलिस पूछताछ में उसने अपना नाम सनंदर सिंह बताया। पुलिस ने जब मोटरसाइकिल के दस्तावेज मांगे तो वह नहीं दिखा सका। जांच में पता चला कि बुलेट को वह सेक्टर-42 से चोरी कर लाया था। गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में उसने बताया कि वह अमृतपाल सिंह व सुखप्रीत सिंह के साथ मिलकर बुलेट चोरी करता है। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने अमृतपाल को गिरफ्तार कर लिया। 

आरोपियों से बरामद बुलेट से सेक्टर-39 थाने के तीन, सेक्टर-36 थाने के दो केस और सेक्टर-49 थाने का एक केस सुलझ गया है। शेष नौ बुलेट को पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 102 के तहत कब्जे में ले लिया है। रिमांड पर चल रहे सनंदर को बुधवार और अमृतपाल को शुक्रवार को दोबारा अदालत में पेश किया जाएगा।

चोरी की बुलेट खुद ले जाते थे तरनतारन
पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि चोरी के बाद बुलेट लेकर वह लोग तरनतारन चले जाते थे और वहां पर उसे सस्ते दाम पर लोगों को बेचने का झांसा देते थे। 15 से 20 हजार रुपये की टोकन मनी लेकर शेष रुपये बाद में देने को कहते थे। इसके बाद ही दस्तावेज देने की बात कहते थे। टोकन मनी लेकर आरोपी फरार हो जाते थे। पुलिस के अनुसार, आरोपी नशे की लत और अपने शौक पूरे करने के लिए बुलेट चुराते थे। 

अमृतपाल के खिलाफ फिरोजपुर में दर्ज हैं केस 
एसपी सिटी ने बताया कि सनंदर सिंह का पिछला कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है लेकिन अमृतपाल के खिलाफ फिरोजपुर में झगड़े व ट्रेसपासिंग के केस दर्ज हैं। गैंग का सरगना सुखप्रीत सिंह है। उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है। सुखप्रीत ने भी दर्जनों बुलेट चोरी करके बेची हैं। उसकी गिरफ्तारी के बाद भी कई बुलेट की बरामदगी हो सकती है। ज्ञात हो कि इससे पहले भी सेक्टर-36 थाना पुलिस ने ही बुलेट चोरों को पकड़ा था। हाल ही में बुलेट चोरी वारदात शहर में काफी तेजी से बढ़ी है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00