लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Bhiwani ›   Police caught three including Deepak Tinu cousin in Bhiwani

भिवानी में बड़ी सफलता: दीपक टीनू के मौसेरे भाई समेत तीन को पुलिस ने पकड़ा, चोरी की बाइक व हथियार बरामद

संवाद न्यूज एजेंसी, भिवानी (हरियाणा) Published by: ajay kumar Updated Sun, 02 Oct 2022 05:49 PM IST
सार

आरोपी आशीष अवैध हथियार मंगाकर हथियार के बल पर वाहन चोरी, रुपये व मोबाइल फोन लूट की वारदातों को अंजाम दिया करता था। पुलिस ने तीनों को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जिला कारागार भेजने का आदेश दिया गया है।

सीआईए की गिरफ्त में तीनों आरोपी।
सीआईए की गिरफ्त में तीनों आरोपी। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हरियाणा के भिवानी सीआईए प्रथम की टीम ने लॉरेंस बिश्रोई गैंग के कुख्यात गैंगस्टर दीपक उर्फ टीनू की मौसी के लड़के को अवैध पिस्तौल के साथ गिरफ्तार किया है। वहीं टीम ने चोरी की बाइक के साथ उसके दो अन्य साथियों को भी पुलिस ने काबू कर लिया है।



सीआईए टीम ने तीनों आरोपियों से एक देशी पिस्तौल, तीन कारतूस व एक चोरी की अपाचे बाइक बरामद की है। पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ कि तीनों आरोपी हथियार के बल पर वाहन चोरी, मोबाइल फोन व नकदी छीनने की वारदातों को अंजाम देते थे। 


पुलिस अधीक्षक अजीत सिंह ने बताया कि गिरोह बनाकर संगठित अपराध करने वालों के खिलाफ सीआईए को विशेष निर्देश दिया है। इसी के तहत भिवानी सीआईए प्रथम के प्रभारी निरीक्षक योगेश कुमार के नेतृत्व में मिनी बाईपास पर कोंट की तरफ से आ रहे तीन युवकों को रोका। पुलिस ने तीनों से वाहन के कागजात मांगे मगर उनके पास कोई कागजात नहीं मिला।

पुलिस पूछताछ में युवकों ने बताया कि उन्होंने अपाचे बाइक फरवरी में हनुमान गेट से चोरी की थी। आरोपियों की पहचान आशीष निवासी आंबेडकर कॉलोनी, आकाश निवासी शांति नगर और आकाश निवासी हनुमान गेट के रूप में हुई। पुलिस ने आरोपी आशीष से एक देशी पिस्तौल व कारतूस बरामद किया। 

पुलिस ने आरोपी आकाश (शांतिनगर) से दो कारतूस बरामद किए। आरोपी आकाश (हनुमान गेट) से चोरी की अपाचे बाइक बरामद हुई। पुलिस पूछताछ में आरोपी आशीष ने बताया कि अवैध पिस्तौल उसने अपने मौसी के लड़के लॉरेंस बिश्रोई गैंग के गैंगस्टर दीपक उर्फ टीनू हरियाणा से मंगवाई थी।

पिस्तौल को टीनू हरियाणा के कहने पर एक व्यक्ति आरोपी आशीष को देकर गया था। आरोपी आशीष अवैध हथियार मंगाकर हथियार के बल पर वाहन चोरी, रुपये व मोबाइल फोन लूट की वारदातों को अंजाम दिया करता था। पुलिस ने तीनों को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जिला कारागार भेजने का आदेश दिया गया है।
विज्ञापन

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00