लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Honor killing: Parents and brothers killed girl in Bathinda of Punjab

ऑनर किलिंग: प्रेमी से शादी पर अड़ी लड़की तो माता-पिता और भाइयों ने दी खौफनाक मौत

संवाद न्यूज एजेंसी, बठिंडा (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Mon, 08 Aug 2022 08:30 PM IST
सार

जांच अधिकारी दलजीत सिंह ने बताया कि पहले गुरचरण सिंह अपने बेटे और पोतों से डर गया था लेकिन बीते दिनों वह किसी तरह उनके चंगुल से छूटकर पुलिस के पास पहुंचा और मामले की जानकारी दी। पुलिस ने गुरचरण सिंह के बाद सभी लोगों को नामजद कर हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पंजाब के बठिंडा जिले में 25 वर्षीय युवती के प्रेम संबंधों से खफा माता-पिता और दो भाइयों ने मिलकर बेरहमी से हत्या कर दी। वहीं हत्या का राज छिपाने के लिए परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार कर दिया और उसकी अस्थियां पानी में विसर्जित भी कर दीं। मामले में मृतक युवती के दादा की शिकायत पर थाना तलवंडी साबो पुलिस ने पिता मेजर सिंह, मां सर्बजीत कौर, भाई राम सिंह व लक्ष्मण सिंह के खिलाफ हत्या का मामला दर्जकर लिया है। फिलहाल पुलिस ने आरोपी भाई राम सिंह को गिरफ्तार किया है, बाकी फरार हैं। पुलिस दबिश दे रही है। पुलिस का दावा है कि बाकी आरोपियों को जल्द काबू कर लिया जाएगा। 



थाना तलवंडी साबो पुलिस के पास गुरचरण सिंह निवासी गांव नंगला ने शिकायत दी कि उसकी गगनदीप कौर नाम की एक पोती थी, जिसकी उम्र करीब 25 साल थी और कॉलेज में पढ़ती थी। उसकी पोती गगनदीप कौर किसी युवक से प्रेम करती थी और उसके साथ शादी करना चाहती थी लेकिन उसके बेटे मेजर सिंह, बहू सर्बजीत कौर व पोते राम सिंह व लक्ष्मण सिंह उसकी पोती गगनदीप कौर के प्रेम संबंधों के खिलाफ थे और वह उसकी युवक से शादी करवाने से इन्कार कर चुके थे, जबकि उसकी पोती अपने प्रेमी से शादी करने की जिद कर रही थी। इस बात पर घर में झगड़ा होता था।


दो अगस्त को भी इसी बात को लेकर विवाद हो गया। इसके बाद उसके बड़े पोते राम सिंह ने अपने छोटे भाई लक्ष्मण सिंह, पिता मेजर सिंह और मां सर्बजीत कौर के साथ मिलकर पोती की हत्या करने की साजिश रची और रात के समय कमरे में सो रही गगनदीप कौर के मुंह में तकिया रखकर उसकी सांसे बंद कर हत्या कर दी। इसके बाद मामले की किसी को भनक न लग सके, उसकी लाश का अंतिम संस्कार कर अस्थियां पानी में बहाकर सबूत मिटा दिया। 

थाना तलवंडी साबो के एसएचओ और मामले के जांच अधिकारी दलजीत सिंह ने बताया कि पहले गुरचरण सिंह अपने बेटे और पोतों से डर गया था लेकिन बीते दिनों वह किसी तरह उनके चंगुल से छूटकर पुलिस के पास पहुंचा और मामले की जानकारी दी। पुलिस ने गुरचरण सिंह के बाद सभी लोगों को नामजद कर हत्या का मामला दर्ज कर लिया है, जबकि आरोपी राम सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00