अस्पताल परिसर में नवजात के शव को नोंच गए कुत्ते, किसी की नजर तक नहीं पड़ी

ब्यूरो/अमर उजाला, कुरुक्षेत्र(हरियाणा) Updated Sat, 10 Feb 2018 09:18 AM IST
found dead body of a new born baby in kurukshetra
लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल परिसर में ही नवजात के शव को दो स्ट्रे डॉग ने नोंच डाला। जिला अस्पताल परिसर में वीटा बूथ से महज 20 कदम की दूरी यह भयानक दृश्य देख वहां तैनात एक निजी कर्मी ने शोर मचा दिया। इसके बाद लोगों को कुत्तों के नवजात के शव को नोंचने की जानकारी मिली।
कुछ ही देर में वहां भीड़ जमा हो गई। भीड़ में से ही किसी ने अस्पताल प्रशासन को इस बारे में सूचित कर दिया। अस्पताल परिसर में नवजात के शव को कुत्तों द्वारा खाने की सूचना मिलते ही चिकित्सा अधिकारियों ने आनन-फानन में एक महिला स्टाफ कर्मी को मौके पर भेजा और शव को वहां से उठवा लिया। हालांकि, तब तक घटनास्थल पर मौजूद लोगों की मदद से शव को नोंच रहे कुत्तों को वहां से भगाया जा चुका था। तब तक स्ट्रे डाग मृत शिशु के नीचे हिस्से को खा चुके थे। सूचना पर पुलिस भी अस्पताल पहुंच गई।

अस्पताल से पहुंचे स्टाफ ने नवराज शिशु का शव एक ट्रे में रखकर जिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में पहुंचाया। वहां एसएमओ डॉ. एसएस अरोड़ा और चिकित्सा अधिकारी डॉ. दीपाली ने नवजात के शव की जांच की और उसे मृत घोषित कर दिया। अस्पताल प्रशासन ने इसके बाद मामले की जानकारी संबंधित पुलिस चौकी को दी।

सूचना पर केयू थाना के प्रभारी नायब सिंह, थर्ड गेट पुलिस के चौकी प्रभारी जयकरण पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और घटनास्थल की जांच की। देर रात तक यह यह पता नहीं चला था कि नवजात लड़का है या लड़की। अस्पताल स्टाफ से मिली जानकारी के अनुसार पिछले तीन दिनों में कोई मृत शिशु की डिलीवरी अस्पताल में नहीं हुई है।
आगे पढ़ें

नवजात की नाल पर लगी हुई थी चिमटी 

Spotlight

Most Read

Gorakhpur

धुरियापार में चाकू से गोदकर युवक की हत्या

पिता ने कहा, बकरी चोरों ने की हत्या, शव लेकर थाने पहुंचे परिवार के लोग, घटनास्थल पर एसपी दक्षिणी भी पहुंचे, आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

25 फरवरी 2018

Related Videos

VIDEO: दो गुटों में चली सरेआम गोलियां, CCTV में कैद हुई वारदात

लुधियाना में दो गुटों के बीच सरेआम गोलीबारी का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो को पंजाब में होने वाले नगर निगम चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

21 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen