लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Extortion sought from film producer in Mohali

फिल्म प्रोड्यूसर से मांगी रंगदारी: गोल्डी बराड़ बोल रहा हूं... जान की सलामती चाहता है तो एक करोड़ देने होंगे

संवाद न्यूज एजेंसी, खरड़ (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Wed, 31 Aug 2022 09:27 AM IST
सार

पंजाबी फिल्म व म्यूजिक इंडस्ट्री से जुड़े लोगों से रंगदारी मांगने के फोन आने का सिलसिला 2018 से शुरू हुआ था। पहले पंजाबी गायक परमीश वर्मा पर सेक्टर-91 में जानलेवा हमला हुआ था। इसमें बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाई थी।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

फिल्म प्रोड्यूसर मोहित बनवैत से एक करोड़ की रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है। रंगदारी मांगने वाले ने खुद को गोल्डी बराड़ बताते हुए कहा कि वह गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का करीबी है। आरोपी ने प्रोड्यूसर को फोन पर उसके घर के नंबर से लेकर गाड़ियों तक के नंबर लिखकर भेजे हैं। रंगदारी न देने पर जान से मारने की धमकी दी है। सदर थाना पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 



पुलिस को दी शिकायत में गांव पालम के रहने वाले मोहित बनवैत ने बताया उसके मोबाइल पर एक कॉल आई। कॉलर ने कहा कि वह गोल्डी बराड़ बोल रहा है। अपनी जान की सलामती चाहता है तो एक करोड़ देने होंगे। यह कहकर फोन काट दिया। फिर उसके व्हाटसएप पर एक नंबर से मैसेज आया। इसमें उसके घर का नंबर और गाड़ियों के नंबर लिखे थे। उसे रिकॉर्डिंग के माध्यम से धमकी भेजी गई।  


साल 2018 से पंजाबी फिल्म व संगीत से जुड़े लोगों को रंगदारी के आ रहे हैं फोन
पंजाबी फिल्म व म्यूजिक इंडस्ट्री से जुड़े लोगों से रंगदारी मांगने के फोन आने का सिलसिला 2018 से शुरू हुआ था। पहले पंजाबी गायक परमीश वर्मा पर सेक्टर-91 में जानलेवा हमला हुआ था। इसमें बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाई थी। इसके बाद गिप्पी गरेवाल की कैरी ऑन जट्टा जब रिलीज हुई थी, तब उन्हें रंगदारी के लिए कॉल आई थी। इस मामले में फेज-आठ के थाने में गैंगस्टर दिलप्रीत बाबा समेत कई लोग पर केस दर्ज हुआ था।

पहले इन लोगों को आई थीं धमकियां
राज्य में मार्च 2022 में जैसे ही चुनाव नतीजे आए थे। इसके बाद से गैंगस्टरों की कॉल्स आने का सिलसिला शुरू हुआ था। इसमें सबसे पहले पूर्व स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू के दोस्त को रंगदारी की कॉल आई थी। इसके बाद उनके सेक्टर-80 स्थित बार के बाहर हवाई फायरिंग हुई थी। इस संबंध में सोहाना थाने में केस दर्ज हुआ था। इसके बाद मेयर अमरजीत सिंह जीती सिद्धू के बिजनेस पार्टनर को रंगदारी के लिए कॉल आई थी। यह कॉल भी बाहर से आई थी। उनकी शिकायत पर मटौर थाने में केस दर्ज हुआ था।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00