लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   A Shopkeeper commits suicide in Rohtak of Haryana

Rohtak: जेई ने सवा 10 लाख लेने के बाद भी नाम नहीं की दुकान, दुकानदार ने बेटे को वीडियो भेज दे दी जान

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, रोहतक (हरियाणा) Published by: ajay kumar Updated Tue, 16 Aug 2022 02:24 PM IST
सार

मरने से पहले दुकानदार ने दो पेज का सुसाइड नोट भी छोड़ा है। साथ ही एक वीडियो क्लिप भी मोबाइल पर भेजी है। पुलिस ने आरोपी जेई के खिलाफ केस दर्जकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

वीडियो से ली गई मृतक की स्क्रीनशॉट तस्वीर।
वीडियो से ली गई मृतक की स्क्रीनशॉट तस्वीर। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हरियाणा के रोहतक जिले में एक दुकानदार ने जेई से कथित तौर पर प्रताड़ित होकर फांसी लगाकर जान दे दी। मरने से पहले एक वीडियो क्लिप अपने बेटे के व्हाट्सएप नंबर पर भेजी। वीडियो में दुकानदार राजेश कह रहा है कि उसके इस कदम का जिम्मेदार जेई है। पुलिस ने मामला दर्जकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। मामला कलानौर के वार्ड नंबर 12 का है।



पुलिस के मुताबिक कलानौर निवासी सुमन ने शिकायत दी है कि उसकी सिलाई की दुकान है। जबकि पति राजेश ने हार्डवेयर की दुकान खोल रखी थी। उसका पति कई दिन से परेशान चल रहा था। उसने पूछा तो बताया कि जेई से उसने इस दुकान का सौदा 12 लाख में किया था। अब जेई दुकान मेरे नाम करवाने से मना कर रहा है और पैसे वापस करने से भी मना कर रहा है। जबकि वह उससे 10 लाख 15 हजार रुपये ले चुका है। 


डायरी के पेज नंबर 88 पर इसका विवरण लिखा हुआ है। जब भी उसका पति जेई के पास जाता तो वह उसे धमका कर वापस भेज देता था। इसी परेशानी के चलते 15 अगस्त को उसके पति ने दुकान के अंदर फांसी लगा ली। मरने से पहले उसके पति ने दो पेज का सुसाइड नोट भी छोड़ा है। साथ ही एक वीडियो क्लिप भी मोबाइल पर भेजी है। पुलिस ने आरोपी जेई के खिलाफ केस दर्जकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00