लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   30 lakh rupees received from in-laws of accused inspector of Narcotics Control Cell

Firozpur News: नारकोटिक्स कंट्रोल सेल के आरोपी इंस्पेक्टर की ससुराल से मिले 30 लाख रुपये

संवाद न्यूज एजेंसी, फिरोजपुर (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Mon, 26 Sep 2022 12:38 AM IST
सार

पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई करते हुए एएसआई अंग्रेज सिंह, राजपाल सिंह और हवलदार जोगिन्द्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया जोकि अब जेल में बंद हैं। बाजवा को पुलिस रिमांड पर लिया है, उससे पूछताछ चल रही है।

बाजवा के ससुराल से बरामद 30 लाख रुपये की नकदी।
बाजवा के ससुराल से बरामद 30 लाख रुपये की नकदी। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

विजिलेंस टीम ने बर्खास्त नारकोटिक्स कंट्रोल सेल के इंस्पेक्टर परमिंदर बाजवा की निशानदेही पर उसके ससुराल मुक्तसर के गांव समे वाली में दबिश देकर 30 लाख रुपये की नकदी बरामद की है। उल्लेखनीय है कि 20 जुलाई को उक्त इंस्पेक्टर और उसके तीन साथियों ने दो लोगों पर एक किलो हेरोइन व पांच लाख रुपये की ड्रग्स मनी के झूठे केस में फंसाकर उनकी 81 लाख रुपये की धनराशि खुर्द बुर्द कर ली थी। 



जब खुलासा हुआ तो इंस्पेक्टर और उसके साथी फरार हो गए थे। पुलिस ने इंस्पेक्टर के तीन साथियों को हिमाचल के ऊना से काबू किया है और तीन दिन पूर्व बाजवा को राजस्थान के झालागढ़ जिले के रायपुर से गिरफ्तार किया है। बाजवा चार दिन के पुलिस रिमांड पर चल रहा है। अधिकारियों के मुताबिक भंवर लाल निवासी परिक बास, थाना कालू, बीकानेर, राजस्थान ने 20 जुलाई को पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाई थी कि लुधियाना में रहते उसके भाई अशोक जोशी ने अपने गौतम नामक कर्मचारी को टैक्सी ड्राइवर कवलजीत सिंह के द्वारा मोगा से  86 लाख रुपये की अदायगी लेने भेजा था। 


परन्तु उस दिन उक्त इंस्पेक्टर बाजवा ( 348/ फिरोजपुर) ने सहायक सब- इंस्पेक्टर अंग्रेज सिंह ( 145/ फिरोजपुर) और राजपाल सिंह ( 1235/ फिरोजपुर) और हवलदार जोगिन्द्र सिंह ( 145/ फिरोजपुर) के साथ मिलकर उक्त टैक्सी को रोक कर उसके भाई के कर्मचारी और टैक्सी चालक से सारी रकम यानी 86 लाख रुपये जब्त कर लिए थे।  

पुलिस मुलाजिमों ने कर्मचारी गौतम और टैक्सी ड्राइवर से एक किलो हेरोइन और पांच लाख रुपये की ड्रग्स मनी की बरामदगी दिखा थाना फिरोजपुर छावनी में एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत झूठा केस दर्ज कर दिया था। पुलिस ने शिकायत पर कार्रवाई करते हुए एएसआई अंग्रेज सिंह, राजपाल सिंह और हवलदार जोगिन्द्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया जोकि अब जेल में बंद हैं। बाजवा को पुलिस रिमांड पर लिया है, उससे पूछताछ चल रही है।

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00