विज्ञापन

छात्र संघ चुनाव जीतने की रणनीति बना रहे पीयू के संगठन, 15 हजार वोटरों पर निगाहें

योगेंद्र त्रिपाठी, अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Sat, 11 Aug 2018 09:53 AM IST
punjab university
punjab university
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पंजाब यूनिवर्सिटी में छात्र संगठन वोटों के लिए प्रचार तेजी से कर रहे हैं। नए स्टूडेंट्स और पीएचडी स्कालर्स के सहारे चुनाव जीतने की रणनीति सभी छात्र संगठन तैयार कर रहे हैं। अगर जिस ओर इनका वोट जाएगा, उस दल की जीत पक्की हो जाएगी।
विज्ञापन
इसलिए छात्र संगठन इनके मुद्दे को लेकर धरना प्रदर्शन, भूख हड़ताल, विभागों में आने वाली परेशानियों को दूर करने की मांग पीयू प्रशासन से कर रहे हैं। छात्र संगठन के सदस्य विभाग के सामने प्रचार कर रहे हैं। इनकी मांगो को लेकर वाइस चांसलर दफ्तर के सामने धरना प्रदर्शन, भूख हड़ताल कर इनकी मांग पूरी करने का प्रयास कर रहे हैं। 

 पीयू में कुल स्टूडेंट्स की संख्या पंद्रह हजार है। इसमें एमफिल, पीएचडी के कुल स्टूडेंट्स 2500 और नए स्टूडेंट्स पीयू के सभी कोर्सों में तीन हजार के करीब आए हैं। पांच हजार स्टूडेंट्स जिस ओर वोट करेंगे, उस छात्र संगठन की जीत तय होगी। इसलिए स्टूडेंट्स इन वोटरों की मांग को पूरी करने के लिए हर हथकंडे अपना रहे हैं। 

 पंजाब यूनिवर्सिटी में 68 डिपार्टमेंट हैं। हिंदी, अंग्रेजी, पंजाबी, समाज शास्त्र, राजनीति शास्त्र सहित अन्य विभागों में आने वाले नए स्टूडेंट्स के मुद्दे के लेकर छात्र संगठन की ओर से प्रदर्शन किया गया। की वोट लेने के लिए छात्र संगठनों की ओर से काउंसलिंग से लेकर हॉस्टल दिलाने में इनकी मदद की जा रही है।

 इसके अलावा छात्र हित की बात सभी संगठन कर रहे हैं। पीयू छात्र संघ चुनाव की अभी तारीख तय नहीं हो पाई है। इसके बाद भी छात्र संगठन सोई, पुसू, एबीवीपी, एसएफएस छात्र संगठन अपनी ताकत का प्रदर्शन कर रहे हैं। छात्र संगठन स्टूडेंट्स सेंटर, फैकल्टी के बाहर भी स्टूडेंट्स से मिल रहे हैं। स्टूडेंट्स को बेहतर सुविधा दिलाने के लिए स्टूडेंट्स संगठन की ओर से उठाए जा रहे हैं। 

सोई के प्रेसिडेंट कैंडीडेट इकबाल सिंह ने बताया कि वह स्टूडेंट्स को बेहतर सुविधाएं दिलाने का प्रयास कर रहे हैं। वहीं एसएफएस के प्रवक्ता हरमन सिंह ने बताया कि हम स्टूडेंट्स की सुविधाओं को लेकर पीयू प्रशासन से मांग करेंगे। 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Shimla

जेबीटी में फेल प्रशिक्षुओं को गोल्डन चांस, बोर्ड ने लिया निर्णय

स्कूल शिक्षा बोर्ड ने जेबीटी बैच 2013-15 भाग-2 और जेबीटी बैच 2015-17 भाग-1 के फेल हुए परीक्षार्थियों को गोल्डन चांस दिया है।

16 अक्टूबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

देखें हेमा के प्यार में किस कदर दीवाने हुए थे धर्मेंद्र

अभिनेता धर्मेंद्र और ड्रीमगर्ल की लव स्टोरी बिल्कुल भी आसान नहीं है। हेमा मालिनी से शादी करने के लिए पहले से शादीशुदा अभिनेता ने बहुत पापड़ बेले। मैं आपको आज बताउंगी कि कैसे कंप्लीट हुई धर्मेंद्र और हेमा मालिनी की लव स्टोरी

16 अक्टूबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree