विज्ञापन

पंजाब यूनिवर्सिटी सिंडिकेट से पहले ही मचा है बवाल, बैठक हुई तो होगा हंगामा

ब्यूरो/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Sat, 09 Jun 2018 02:38 PM IST
Punjab University VC Arun Grover
Punjab University VC Arun Grover
ख़बर सुनें
पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ की सिंडिकेट की विशेष बैठक रविवार को तय हुई है, लेकिन बैठक से पहले ही बवाल होने लगा है। सिंडिकेट के 15 में से आधे से ज्यादा सदस्य बैठक में ना आने की चर्चांए सोशल मीडिया के ग्रुप में चला चुके हैं। जबकि वीसी हार हाल में सिंडिकेट की यह बैठक करवाना चाहते हैं। इस सिंडिकेट में सबसे बड़ा मसला चर्चा के लिए रजिस्ट्रार की एक्सटेंशन का रखा गया है। चूंकि सितंबर में रजिस्ट्रार का कार्यकाल पूरा हो रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
सिंडिकेट में एजेंडा रखा गया है कि रजिस्ट्रार को उनकी उम्र 60 साल होने तक की एक्सटेंशन दी जाए। सिंडिकेट की बैठक पर कुछ संशय बना हुआ है कि अगर सभी सदस्य ना आए तो प्रस्ताव पास कैसे होंगे? रजिस्ट्रार की एक्सटेंशन के अलावा एक दर्जन से ज्यादा प्रस्ताव फैसला लेने के लिए एजेंडा में शामिल किए गए हैं। इसमें एक निजी कॉलेज को एफिलेशन देने और पीयू के हेल्थ सेंटर में मेडिकल ऑफिसर तैनात करने का भी प्रस्ताव है।

सोलर प्लांट पर लग सकती है मोहर
पंजाब यूनिवर्सिटी प्रबंधन साउथ कैंपस में 500 किलोवाट के सोलर एनर्जी प्लांट को लगाने पर काम कर रहा है। इसकी मंजूरी के लिए मामला सिंडिकेट में रखा गया है। बिजली के लगातार बढ़ते दबाव को देखते हुए इस प्रपोजल को बनाया है। अगर यह प्लांट शुरू हो जाता है तो बिजली के बिल में हर महीने करीब 90 हजार की बचत होगी। इसके बनने से बिजली की कमी से जूझ रही पीयू को काफी हद तक राहत भी मिलेगी। इसको तैयार करने का काम बाहरी कंपनी को दिया जाएगा और रखरखाव भी कंपनी करेगी।

बदले में पीयू को बेहद सस्ते दामों पर यानि 3.44 रुपये यूनिट बिजली मिलेगी। पीयू को इसके लिए सिर्फ जगह उपलब्ध करवानी होगी। 1 किलोवाट सोलर बिजली उत्पादन के लिए करीब 100 वर्ग फीट जगह की जरूरत होती है। ऐसे में 500 किलोवॉट सोलर प्लांट के लिए करीब 50 हजार वर्ग फीट जगह की जरूरत होगी। इसके लिए साउथ कैंपस के यूआइईटी के ब्लॉक 1 व 2, बीएमएस ब्लॉक 1 व 2 और डेंटल इंस्टीट्यूट की छत का चयन किया गया है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Chandigarh

कड़ा फरमानः स्कूलों से बाहर अब बच्चों से कोई भी काम कराया तो गुरु जी की खैर नहीं, संभल जाएं

अब गुरु जी विद्यार्थियों से स्कूलों के बाहर किसी भी तरह का काम नहीं करा सकेंगे। रैली निकालने जैसे काम भी नहीं करा सकेंगे, कड़ा फरमान जारी किया गया है।

13 दिसंबर 2018

विज्ञापन

दिग्विजय सिंह ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को दिखाई ताकत, कमलनाथ को ऐसे दिलाई कुर्सी

राजनीति के चाणक्य दिग्विजय सिंह ने एक बार फिर अपनी प्रबंधन कला दिखाई है। म.प्र. और भोपाल को भरपूर समय देकर दिग्विजय ने जो चाहा वह किया।

14 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree