विज्ञापन

चंडीगढ़ः प्राइवेट बीएड कॉलेज अब खुद कर सकेंगे प्रिंसिपल और लेक्चरार की नियुक्ति

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Mon, 27 Jan 2020 11:50 AM IST
विज्ञापन
पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट
पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें

सार

  • पंजाब यूनिवर्सिटी द्वारा जारी 2000 के आदेश को हाईकोर्ट ने किया खारिज।
  • सेल्फ फाइनेंस बीएड कॉलेज एसोसिएशन की याचिका मंजूर करते हुए हाईकोर्ट ने जारी किया आदेश।

विस्तार

पंजाब के अन एडड बीएड कॉलेजों में प्रिंसिपल और लेक्चरार की नियुक्ति के लिए सेलेक्शन कमेटी अनिवार्य करने से जुड़े पंजाब यूनिवर्सिटी के 2000 के आदेश को पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है। हाईकोर्ट ने यह आदेश सेल्फ फाइनेंस बीएड कॉलेज एसोसिएशन की याचिका का निपटारा करते हुए जारी किए हैं।
विज्ञापन
याचिका दाखिल करते हुए हाईकोर्ट को बताया गया कि पंजाब यूनिवर्सिटी ने 2000 में प्रिंसिपल और लेक्चरर की नियुक्ति की नई प्रक्रिया प्राइवेट कॉलेजों पर थोपी थी। याची ने बताया कि नियम के अनुसार प्रिंसिपल और लेक्चरार की नियुक्ति के लिए कमेटी बनाना अनिवार्य किया गया था।

इस प्रिंसिपल की नियुक्ति के लिए बनने वाली कमेटी में गवर्निंग बॉडी के चेयरमैन, गवर्निंग बॉडी का एक मेंबर, पीयू द्वारा नामित तीन लोग तथा डीपीआई पंजाब द्वारा नामित दो लोगों को शामिल करना अनिवार्य किया गया था। वहीं लेक्चरार के लिए गवर्निंग बॉडी के चेयरमैन, प्रिंसिपल के अतिरिक्त पीयू द्वारा नामित तीन लोग तथा डीपीआई पंजाब द्वारा नामित 2 लोगों को शामिल करना अनिवार्य था। 

याची की ओर से कहा गया कि टीएमए पाई फाउंडेशन मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट स्पष्ट कर चुका है कि प्राइवेट संस्थानों को स्टाफ की नियुक्ति की स्वतंत्रता मिलनी चाहिए। हाईकोर्ट ने पीयू के फैसले को खारिज तो किया है लेकिन यह स्पष्ट कर दिया है कि नियुक्ति प्रक्रिया के बाद पीयू के पास इसे मंजूरी के लिए भेजा जाता है पीयू का वह अधिकार बरकरार रहेगा। 
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us