विज्ञापन
विज्ञापन

रैपिड रेल से मिलेगा राजस्थान के कई शहरों को बूस्ट, बढ़ जाएगा रियल एस्टेट का बाजार

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 09 Oct 2019 08:26 PM IST
rapid rail and other infra projects wiil boost real estate market of rajasthan and alwar city
- फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
किसी भी शहर का रियल एस्टेट मार्केट उसके अन्य शहरों व राज्यों के साथ कनेक्टिविटी पर काफी निर्भर करता है। अलवर के संदर्भ में यदि बात करें तो बीते कुछ सालों में इस शहर की कनेक्टिविटी को मजबूती देने के लिए कई परियोजनाएं प्रस्तावित हुईं हैं, जिसके बाद शहर की सूरत पूरी तरह से बदलने के कयास लगाएं जा रहे हैं। साथ ही कई बड़े रियल एस्टेट डेवलपरों ने भी अलवर में अपना प्रोजेक्ट निर्माण करने की घोषणा कर चुके हैं। कनेक्टिविटी बेहतर होने से यहां घरों की मांग भी बढ़ेगी और इस मांग को पूरा करने के लिए शहर का रियल एस्टेट मार्केट भी पूरी तरह से तैयार है। 

रैपिड रेल: 

राजस्थान सरकार ने दिल्ली-गुरुग्राम-एसएनबी आरआरटीएस कॉरिडोर को मंजूरी मिलने के बाद रैपिड रेल के यूपी के मेरठ से चलकर गाजियाबाद होते हुए अलवर तक पहुंचना तय हो चुका है | दिल्ली के सराय काले खां से अलवर तक के 164 किलोमीटर का सफर 55 मिनट में यात्री तय कर सकेंगे। इस रूट पर सर्वे के अनुसार 9.1 लाख लोगों को रोजाना फायदा होगा। इससे अलवर में घर खरीददारों की संख्या बढ़ेगी और लोग ज्यादा से ज्यादा यहां के रियल एस्टेट मार्केट में निवेश करने के लिए आकर्षित होंगे।

दिल्ली-बड़ोदरा एक्सप्रेस वे: 

दिल्ली-बड़ोदरा एक्सप्रेस वे या राष्ट्रीय राजमार्ग 148 एन प्रोजेक्ट का जिले के रामगढ़, रैनी व लक्ष्मणगढ़ के 52 गांव से होकर करीब 72 किलोमीटर की दूरी तय करेगा। प्रोजेक्ट का निर्माण शुरू हो चुका है और निर्माण-कार्य 2 साल में पूरा होना निर्धारित है। अलवर के साथ साथ यह एक्सप्रेसवे प्रदेश के दौसा, सवाई माधोपुर, कोटा व बूंदी जिलों से होकर गुजरेगा। एक्सप्रेसवे के माध्यम से राष्ट्रीय राजधानी से सीधा संपर्क होने की वजह से यह शहर प्रॉपर्टी में निवेश के लिए सबसे उपयुक्त मार्केट साबित होने जा रहा है। 

ग्रीन कार्गो एयरपोर्ट: 

विमानन मंत्रालय द्वारा दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर (DMIC) पर व्यापारिक गतिविधियों के लिए दरवाजे खोलने हुए राजस्थान के अलवर जिले में एक ग्रीन फील्ड कार्गो एयरपोर्ट को मंजूरी दी जा चुकी है। इस परियोजना से क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा, जिससे रोजगार के बड़े अवसर पैदा होंगे। एनसीआर के पास होने और दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर को मजबूती देने के साथ ही यह परियोजना बहुत सारे आर्थिक और निवेश के अवसरों को पैदा करेगी । जिससे अंततः प्रॉपर्टी की मांगों में इजाफा होगा, विशेषकर अफोर्डेबल हाउसिंग को कई गुना बढ़ावा मिलने की उम्मीद है।

दिल्ली से सस्ता है अलवर में घर खरीदना

शहर के कमर्शियल सेगमेंट पर बात करते हुए भूमिका ग्रुप के एमडी उद्धव पोद्दार ने कहा कि, कनेक्टिविटी व इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित होने के साथ ही अलवर रियल एस्टेट में निवेश के लिहाज से एक आदर्श मार्केट बन चुका है।  यहाँ पहले से ही डेवलपर्स द्वारा काफी हाउसिंग प्रोजेक्ट्स बनाये जा चुके है और कई प्रोजेक्ट्स प्रस्तावित हैं, जिससे आने वाले समय यहाँ मॉल आदि की मांग में इजाफा होगा। जिसे पूरा करने के हम यहाँ शहर का सबसे आधुनिक मॉल अर्बन स्क्वायर गलेरिया विकसित कर रहे हैं। अलवर में अभी तक नामी व चुनिंदा ब्रांड्स के लिए एक आर्गनाइज्ड जगह नहीं थी लेकिन अर्बन स्क्वायर गलेरिया मॉल आने के बाद आईनॉक्स समेत कई नेशनल ब्रांड्स इससे जुड़े हैं और पहली बार अलवर मार्केट में प्रवेश कर रहे हैं, जो इस मार्केट की गतिशीलता को दर्शाता है।

बढ़ेगी अफोर्डेबल हाउसिंग की मांग

अलवर के रियल एस्टेट मार्केट पर बात करते हुए रियल एस्टेट कंपनी सिग्नेचर सत्त्वा के फाउंडर व चेयरमैन प्रवीन अग्रवाल कहते हैं कि आने वाले समय में अलवर कई मायनों में रियल एस्टेट सेक्टर के लिए एक उभरता मार्केट साबित हो रहा है।  राजधानी दिल्ली से करीबी और बेहतर संपर्क स्थापित होने से लोग ज्यादा से ज्यादा यहां के रियल एस्टेट मार्केट में निवेश कर रहे हैं। औसतन दिल्ली-एनसीआर में एक नौकरीपेशा व्यक्ति के लिए घर लेना अलवर की तुलना में महंगा है | इसलिए अलवर में अफोर्डेबल हाउसिंग की मांग सबसे ज्यादा बढ़ेगी और सरकार द्वारा इस सेगमेंट के लिए हुई लाभकारी घोषणाओं के बाद हर किसी के लिए अपने घर का सपना पूरा करना आसान होगा |
विज्ञापन
विज्ञापन

Recommended

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण
NIINE

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण

विनायक चतुर्थी पर सिद्धिविनायक मंदिर(मुंबई ) में भगवान गणेश की पूजा से खत्म होगी पैसों की किल्लत 30-नवंबर-2019
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर सिद्धिविनायक मंदिर(मुंबई ) में भगवान गणेश की पूजा से खत्म होगी पैसों की किल्लत 30-नवंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2019 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Business Diary

दिवालिया हो सकती है DHFL, कंपनी पर कुल 85 हजार करोड़ रुपये का कर्ज

देश की सबसे बड़ी हाउसिंग कंपनी दीवान हाउसिंग फाइनेंस कंपनी (डीएचएफएल) दिवालिया हो सकती है। कंपनी इसके लिए नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) में जल्द आवेदन कर सकती है।

19 नवंबर 2019

विज्ञापन

इशारों में भाजपा-शिवसेना को संघ प्रमुख मोहन भागवत की नसीहत

महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना के बीच जारी झगड़े को लेकर आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने इशारों में नसीहत दी है। उनका कहना है की झगड़े से दोनों को नुकसान होगा। देखिए रिपोर्ट

19 नवंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election