विज्ञापन
विज्ञापन

अमेजन-फ्लिपकार्ट से सरकार ने मांगा ब्योरा, सुब्रमण्यम स्वामी ने भी दिया बयान

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Mon, 21 Oct 2019 09:29 AM IST
DPIIT sends queries to Amazon Flipkart on FDI norms adherence
ख़बर सुनें
सरकार ने ई-कॉमर्स कंपनियों अमेजन और फ्लिपकार्ट से अपने पांच-पांच शीर्ष विक्रेताओं के नाम, पसंदीदा विक्रेताओं के उत्पादों की सूची और उनको दिए जाने वाले समर्थन का ब्योरा मांगा है। उद्योग संवर्द्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग (डीपीआईआईटी) ने इन कंपनियों को अलग-अलग प्रश्नावली भेजकर इनसे पूंजी संरचना, कारोबारी मॉडल और उत्पाद सूची प्रबंधन प्रणाली से जुड़ी जानकारियां भी मांगी है। 
विज्ञापन
कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) की शिकायतों के बाद इन कंपनियों को प्रश्नावाली भेजी गई है। कैट ने शिकायत में कहा था कि अमेजन और फ्लिपकार्ट की ‘त्योहारी सीजन सेल’ शुरू हो गई है, जो सरकार की एफडीआई नीति का उल्लंघन है। साथ ही आरोप लगाया है कि ये कंपनियां अनुचित गतिविधियों का अनुसरण कर बाजार बिगाड़ने वाली कीमतें पेशकश कर रही हैं। हालांकि, इस संबंध में भेजे गए ई-मेल का अमेजन और फ्लिपकार्ट ने जवाब नहीं दिया है। 

सुब्रमण्यम स्वामी ने किया ट्वीट


 
वहीं सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर कहा है कि जब हम क्रेडिट कार्ड के माध्यम से यूएसए के अमेजन तक पहुंच सकते हैं तो भारत में अमजन को अनुमति देने की आवश्यकता क्या है? व्यापारी हमारी संस्कृति का एक ठोस आधार हैं और अमजन उसे नष्ट कर देगा। अमेजन और फ्लिपकार्ट ही नहीं, बल्कि वॉलमार्ट के साथ भी यही दिक्कत है।

बाजार बिगाड़ने वाली कीमतों की जांच

वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने हाल ही में कहा था कि फ्लिपकार्ट और अमेजन के खिलाफ बाजार बिगाड़ने वाली कीमत मामले की जांच हो रही है। सूत्रों का कहना है कि इन कंपनियों के मंच से जुड़े पेमेंट गेटवे की जानकारियां भी साझा करने को कहा गया है। एफडीआई नीति के प्रमुख प्रावधानों के तहत, ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस मॉडल में 100 फीसदी एफडीआई की अनुमति है। हालांकि, इन्वेंट्री आधारित मॉडल की अनुमति नहीं है। 
विज्ञापन

Recommended

सफलता क्लास ने सरकारी नौकरियों के लिए शुरू किया नया फाउंडेशन कोर्स
safalta

सफलता क्लास ने सरकारी नौकरियों के लिए शुरू किया नया फाउंडेशन कोर्स

इस काल भैरव जयंती पर कालभैरव मंदिर (दिल्ली) में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात : 19-नवंबर-2019
Astrology Services

इस काल भैरव जयंती पर कालभैरव मंदिर (दिल्ली) में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात : 19-नवंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2019 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Personal Finance

Children's Day पर बेटी के नाम इस सरकारी योजना में करें निवेश, मिलेंगे 74 लाख रुपये

बाल दिवस के मौके पर हर मां-बाप अपने बच्चे को ऐसा तोहफा देना चाहते हैं, जो उनका जीवन साकार कर सके। अगर आप न्यूनतम निवेश पर अधिकतम रिटर्न पाना चाहते हैं तो भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही ऐसी कई बचत योजनाएं हैं, जहां पैसा लगाना आपके लिए फायदेमंद रहेगा।

14 नवंबर 2019

विज्ञापन

राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट के लिए संसद के शीतकालीन सत्र में लाया जा सकता है बिल

राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट के लिए संसद के शीतकालीन सत्र में बिल लाया जाएगा। सूत्रों से खबरे है कि इसके लिए सरकार कवायद शुरू कर चुकी है। पूरी खबर इस रिपोर्ट में देखिए।

14 नवंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election