विज्ञापन
विज्ञापन

एक माह की प्लानिंग के बाद नरेश गोयल गिरफ्तार, जेट में संदिग्ध लेनदेन की आशंका

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Mon, 27 May 2019 09:22 AM IST
Naresh Goyal arrested from airport after look out notice issued against him
ख़बर सुनें
संकट से जूझ रही जेट एयरवेज के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनीता गोयल को शनिवार को विदेश जाने से रोक दिया गया। सूत्रों के मुताबिक, शनिवार को मुंबई हवाईअड्डे पर आव्रजन अधिकारियों ने गोयल दंपती के विमान को लंदन के लिए रवाना होने से महज एक मिनट पहले रोका। इसके बाद गोयल दंपती को विमान से उतारकर हिरासत में ले लिया गया। दरअसल नरेश गोयल को देश छोड़ने से रोकने की कोशिश लगभग एक महीने पहले से ही शुरू हो गई थी। 

नरेश गोयल के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी

बता दें कि यह कदम कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री के निवेदन पर जारी लुक आउट सर्कुलर (LoC) के अनुसार उठाया गया था। फिलहाल कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री का मुंबई ऑफिस जेट एयरवेज के मामलों की जांच कर रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि विमानन कंपनी जेट के खातों में कई लेनदेन को 'संदिग्ध' पाया गया है। इस मामले में जेट एयरवेज से कोई उत्तर नहीं आया है। 

फ्लाइट से गिरफ्तार हुई गोयल दंपती

गोयल दंपती एमिरात एयरलाइंस की फ्लाइट संख्या ईके-507 में सवार थे, जो दुबई होते हुए लंदन जानी थी। लेकिन आव्रजन अधिकारियों ने दोपहर 3.35 बजे जाने वाली इस फ्लाइट को उड़ान भरने के लिए जाते समय दोबारा पार्किंग-बे में बुलवाने के बाद गोयल दंपती को नीचे उतार दिया। एक एयरपोर्ट अधिकारी ने बताया कि विमान को उड़ान भरने जाते समय दोबारा पार्किंग-बे में वापस बुलाकर दोनों को नीचे उतार दिया गया। सूत्रों ने बताया कि अनीता गोयल के नाम से बुक इस दंपती के चार बड़े सूटकेस भी हवाई जहाज से नीचे उतारे गए। इस कारण हवाई जहाज को करीब एक घंटे से ज्यादा देरी हुई। बाद में करीब 5 बजे विमान इन दोनों को लिए बिना ही उड़ान भर गया। 

नरेश गोयल ने नहीं दिया कोई जवाब

हालांकि गोयल दंपती को रोके जाने के पीछे के असली कारणों का देर रात तक पता नहीं लग पाया। नरेश गोयल ने इस मामले में चुप्पी साध रखी है, जबकि एमिरात एयरलाइंस को ई-मेल से भेजे गए सवाल का जवाब नहीं मिला है। हालांकि पिछले महीने जेट एयरवेज ऑफिसर्स एंड स्टाफ एसोसिएशन के अध्यक्ष किरण पावस्कर ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को एक पत्र दिया था, जिसमें गोयल और जेट एयरवेज के प्रबंधन से जुड़े अन्य निदेशकों व वरिष्ठ सदस्यों के पासपोर्ट जब्त किए जाने की मांग की गई थी। इस मांग के पीछे पिछले कई महीनों से प्रबंधन की तरफ कर्मचारियों को वेतन नहीं दिए जाने को कारण बताया गया था।

एतिहाद और हिंदुजा ग्रुप के साथ करने वाले थे बैठक

सूत्रों के मुताबिक, नरेश गोयल खाड़ी देशों की एयरलाइंस एतिहाद और हिंदुजा ग्रुप के अधिकारियों के साथ बैठक करने के लिए जा रहे थे। इस बैठक में निष्क्रिय हो गई जेट एयरवेज को पुनर्जीवित करने पर चर्चा की जानी थी। बीते सप्ताह की शुरुआत में हिंदुजा समूह ने कहा था कि वह जेट एयरवेज में निवेश के मौके का मूल्यांकन कर रहा है। बता दें कि जेट एयरवेज ने नकदी संकट के चलते 17 अप्रैल को उड़ानों का संचालन बंद कर दिया था। करीब 26 साल पहले जेट एयरवेज की स्थापना करने वाले नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनीता गोयल ने मार्च में कर्जदाताओं के दबाव में कंपनी बोर्ड और चेयरमैन के पद से इस्तीफा दे दिया था।
विज्ञापन
विज्ञापन

Recommended

इन्वर्टिस यूनिवर्सिटी में 'अभिरुचि' से निखारी जाती है छात्रों की प्रतिभा
Invertis university

इन्वर्टिस यूनिवर्सिटी में 'अभिरुचि' से निखारी जाती है छात्रों की प्रतिभा

समस्या कैसे भी हो, हमारे ज्योतिषी से पूछें सवाल और पाएं जवाब मात्र 99 रूपये में
Astrology

समस्या कैसे भी हो, हमारे ज्योतिषी से पूछें सवाल और पाएं जवाब मात्र 99 रूपये में

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2019 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Corporate

कंफर्म टिकट के बाद भी एयर इंडिया के यात्री नहीं भर पाए उड़ान

गुरुवार सुबह एयर इंडिया के यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। एयर इंडिया का सॉफ्टवेयर (सीटा) में आई तकनीकी खराबी के कारण कंपनी के साथ-साथ यात्री भी परेशान हो गए।

18 जुलाई 2019

विज्ञापन

बिजली चोरी रोकने के लिए मोदी सरकार का मेगा प्लान तैयार

बिजली चोरी रोक कर 24 घंटे बिजली सप्लाई करने का बड़ा प्लान नरेंद्र मोदी सरकार ने तैयार किया है। खबरों की माने तो मोदी सरकार 3 स्तरीय प्लान में ईमानदार बिजली ग्राहकों को 24 घंटे बिजली सप्लाई करेगी।

18 जुलाई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree