दो राज्यों ने चार दिन में चालान से वसूले 1.41 करोड़, पुलिस की बढ़ी कमाई

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: paliwal पालीवाल Updated Thu, 05 Sep 2019 09:02 PM IST
चालान काटते ट्रैफिक कर्मी
चालान काटते ट्रैफिक कर्मी - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें
यातायात नियमों के उल्लंघन पर लगाम लगाने के लिये बने नये कानून के अमल में आने के महज चार दिनों में सिर्फ दो राज्यों हरियाणा और ओडिशा ने चालान के जरिये 1.41 करोड़ रुपये की राशि इकट्ठा की है। अधिकारियों ने गुरुवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि ट्रैफिक पुलिस की कमाई में काफी इजाफा हो गया है। 
विज्ञापन


संसद ने नए कानून को 31 जुलाई को मंजूरी दी थी। राष्ट्रपति ने नौ अगस्त को इस कानून को सहमति प्रदान की जिसके बाद यह एक सितंबर से देश भर में लागू हुआ। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘ओडिशा मोटर वाहन विभाग से प्राप्त सूचनाओं के अनुसार यातायात कानून का उल्लंघन करने को लेकर 4,080 चालान काटे गये जिससे 88.90 लाख रुपये जमा हुए। इसके साथ ही 46 वाहन जब्त किए गए हैं।’ 

दिल्ली, हरियाणा में इतने कटे चालान

हरियाणा में इस दौरान 343 चालान काटे गये और 52.32 लाख रुपये जमा हुए। दिल्ली में नया कानून लागू होने के पहले ही दिन 3,900 चालान काटे गये। नए मोटर वाहन अधिनियम लागू होने के बाद ट्रैफिक नियमों की धज्जियां उड़ाने वालों के खिलाफ पुलिस तो कार्रवाई कर रही है लेकिन चालान की राशि देखकर वाहन चालक अपने वाहनों को ही जब्त करवा रहे है। लेकिन इतने भर से वाहन चालकों की परेशानी खत्म नहीं होने वाली है।

ऐसे वाहन चालकों के लिए ट्रैफिक पुलिस कोर्ट में मामला भेजने की तैयारी कर रही है जहां से कोर्ट इनके मोटर वाहन अधिनियम के उल्लंघन के आधार पर सजा और वाहन नीलामी करेगा। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00