विज्ञापन
विज्ञापन

दिल्ली-मुंबई, दिल्ली-कोलकाता पर 160 किमी की स्पीड से दौड़ेंगी ट्रेनें

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Tue, 22 Oct 2019 08:16 PM IST
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर
ख़बर सुनें

खास बातें

  • ट्रेनों की गति बढ़ाने के लिए 18000 करोड़ रुपये की परियोजना को लागू करेगा रेलवे
  • परियोजना पूरी होने में चार साल का लगेगा समय
  • 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से होगा ट्रेनों का संचालन
रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वी के यादव ने मंगलवार को कहा कि रेलवे दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-कोलकाता रेल कॉरिडोर पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से ट्रेनों का संचालन करने के लिए 18000 करोड़ रुपये की परियोजना को लागू करेगा।  
विज्ञापन
अंतरराष्ट्रीय रेल सम्मेलन -2019 और 13वीं अंतरराष्ट्रीय रेलवे उपकरण प्रदर्शनी का उद्घाटन करने के बाद उन्होंने बताया कि ‘एक बार परियोजना शुरू होने के बाद इसे पूरा होने में कम से कम चार साल लगेंगे।’ यह कार्यक्रम यहां ऐरोसिटी में भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) ने रेलवे के साथ मिलकर आयोजित किया। 

इस रूट पर होगी 320 किमी की गति

रेलवे का उद्देश्य दो श्रेणियों में दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-कोलकाता रेल कॉरिडोर पर 160 किमी प्रति घंटे और बुलेट ट्रेन परियोजना के तहत मुंबई-अहमदाबाद के बीच 320 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हाई स्पीड ट्रेन संचालित करना है।  

वर्तमान में, विभिन्न मार्गों पर ट्रेनों की औसत अधिकतम गति 99 किमी प्रति घंटा है और हाल ही में शुरू की गई दिल्ली-वाराणसी वंदे भारत एक्सप्रेस दिल्ली-कानपुर खंड पर 104 किमी प्रति घंटे की औसत गति को छूती है। रेल मंत्रालय के अनुसार, 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेनों के संचालन के लिए बुनियादी ढांचों में शामिल ट्रैक किनारे बाड़ लगाना, ट्रैक और सिग्नलिंग का नवीनीकरण और मानव रहित स्तर-क्रॉसिंग का कार्य किया जा रहा है। 

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष यादव ने बताया कि ‘वर्तमान में, 28000 किमी विद्युतीकृत है और अगले साल 7,000 किमी का विद्युतीकृत करने का लक्ष्य रखा गया है। रेलवे चरणबद्ध तरीके से 34,000 किमी के ‘अति-व्यस्त और उपयोग किए जाने वाले’ रेल नेटवर्क में एक ‘मल्टी-ट्रैकिंग’ परियोजना को भी लागू करेगा।’ उन्होंने बताया कि देश की लगभग 96 फीसदी ट्रेनों में अतिरिक्त ट्रैक लगाए जाएंगे। सीआईआई की रेल परिवहन और उपकरण प्रभाग के अध्यक्ष आनंद चिदंबरम ने कहा कि यह एशिया की सबसे बड़ी प्रदर्शनी थी।
विज्ञापन

Recommended

सफलता क्लास ने सरकारी नौकरियों के लिए शुरू किया नया फाउंडेशन कोर्स
safalta

सफलता क्लास ने सरकारी नौकरियों के लिए शुरू किया नया फाउंडेशन कोर्स

इस काल भैरव जयंती पर कालभैरव मंदिर (दिल्ली) में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात : 19-नवंबर-2019
Astrology Services

इस काल भैरव जयंती पर कालभैरव मंदिर (दिल्ली) में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात : 19-नवंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2019 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Corporate

वोडाफोन के CEO ने मांगी माफी, बिड़ला समूह ने कहा- दिवालिया हो सकती है Vodafone Idea

वोडाफोन के मुख्य कार्यकारी (सीईओ) निक रीड ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर माफी मांगी है। उन्होंने कहा है कि उनकी बातों को गलत तरीके से पेश किया जा रहा है।

14 नवंबर 2019

विज्ञापन

Rafale Deal की नहीं होगी जांच, SC ने खारिज की पुनर्विचार याचिका, Rahul Gandhi अवमानना मामले में बरी

सुप्रीम कोर्ट से राफेल विमान सौदे में मोदी सरकार को बड़ी राहत मिली है. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई वाली बेंच ने राफेल मामले में दायर की गईं सभी पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया गया है.

14 नवंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election