लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Business ›   Business Diary ›   SBI raised funds by issuing infrastructure bonds, know where it will be spent?

SBI Bond: एसबीआई ने इन्फ्रा बॉन्ड जारी कर 10,000 करोड़ रुपये जुटाए, चुनावी बॉन्ड जारी करने की भी मिली मंजूरी

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: विवेक दास Updated Sat, 03 Dec 2022 04:12 PM IST
सार

SBI Infrastructure Bond: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की ओर से गुरुवार को खुदरा ई-रुपया जारी करने पर SBI के अध्यक्ष ने कहा कि पायलट रिटेल-CBDC (सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी) टिकाऊ प्रभावों के साथ एक गेम-चेंजर है जो बहुत कम कीमत पर बेहतर मौद्रिक संचरण सुनिश्चित करेगा। 

SBI
SBI - फोटो : Istock
विज्ञापन

विस्तार

देश के सबसे बड़े ऋणदाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने शुक्रवार को 7.51% की कूपन दर पर अपना पहला इन्फ्रास्ट्रक्चर बॉन्ड जारी कर 10,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं। ऋणदाता ने कहा कि यह देश में किसी भी बैंक की ओर से जारी किया गया सबसे बड़ा एकल बुनियादी ढांचा बांड है। इसके साथ ही देश के सबसे बड़े ऋणदाता को वित्त मंत्रालय की ओर से 24वें चरण में, 5 से 12 दिसंबर तक अपनी 29 अधिकृत शाखाओं के माध्यम से चुनावी बांड जारी करने और उसे भुनाने के लिए भी अधिकृत कर दिया गया है।



एसबीआई की ओर से एक्सचेंज फाइलिंग में कहा गया है कि बांड के माध्यम से जुटाई गई राशि का उपयोग बुनियादी ढांचे और किफायती आवास खंडों के वित्तपोषण समेत अन्य दीर्घकालिक संसाधनों को बढ़ाने में किया जाएगा। इन बांडों की अवधि 10 वर्ष है। इस बॉन्ड में 16,366 करोड़ रुपये की बोलियों के साथ निवेशकों ने जबरदस्त रुचि दिखाई और इसे बेस इश्यू के खिलाफ लगभग 3.27 गुना ओवरसब्सक्राइब किया गया। 


इस बॉन्ड के लिए 143 बोलियां लगी यह निवेशक वर्ग के विश्वास को भी प्रदर्शित करता है। बैंक ने 10 साल की अवधि के लिए सालाना देय 7.51% की कूपन दर पर ₹10,000 करोड़ स्वीकार करने का फैसला किया है। यह भारत सरकार की सुरक्षा के अनुरूप 17 बीपीएस के प्रसार का प्रतिनिधित्व करता है, जो उच्च गुणवत्ता वाले क्रेडिट को दर्शाता है। बैंक के इन उपकरणों को घरेलू क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों से एएए की क्रेडिट रेटिंग मिली है।

एसबीआई के अध्यक्ष दिनेश खारा ने कहा, "बुनियादी ढांचे का विकास देश के लिए एक प्रमुख प्राथमिकता है और सबसे बड़ा ऋणदाता होने के नाते एसबीआई सामाजिक, हरित और अन्य बुनियादी ढांचा परियोजनाओं की उन्नति के लिए कदम उठाने में सबसे आगे रहा है। बुनियादी ढांचे के विकास करने की दिशा में ये दीर्घकालिक बॉन्ड बैंक की मदद करेंगे।" इस बीच, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की ओर से गुरुवार को खुदरा ई-रुपया जारी करने पर SBI के अध्यक्ष ने कहा कि पायलट रिटेल-CBDC (सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी) टिकाऊ प्रभावों के साथ एक गेम-चेंजर है जो बहुत कम कीमत पर बेहतर मौद्रिक संचरण सुनिश्चित करेगा। 

वहीं, वित्त मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार भारतीय स्टेट बैंक (SBI) को बिक्री के 24वें चरण में, 5 से 12 दिसंबर तक अपनी 29 अधिकृत शाखाओं के माध्यम से चुनावी बांड जारी करने और भुनाने के लिए अधिकृत किया गया है।

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00