लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Business ›   Business Diary ›   RBI imposes curbs on Shushruti Souharda Sahakara Bank Niyamita know all details here

आरबीआई का डंडा: इस को-ऑपरेटिव बैंक पर लगाई पाबंदी, 5000 रुपये से अधिक निकालने पर रोक लगी

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: दीपक चतुर्वेदी Updated Fri, 08 Apr 2022 04:50 PM IST
सार

रिजर्व बैंक ने बेंगलुरु स्थित शुश्रुति सौहार्द सहकारा बैंक नियमिता पर कई तरह की पाबंदिया लगाने की घोषणा की है। आरबीआई की ओर से इस संबंध में जारी एक बयान में कहा गया है कि बैंक बिना उसकी मंजूरी के अब लोन नहीं दे सकता और न ही जमा स्वीकार कर सकता है। यह बंदिशें छह महीने तक लागू रहेंगी। 

आरबीआई
आरबीआई - फोटो : पीटीआई
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) दिशा-निर्देशों की अवहेलना करने के मामले में लगातार सख्त रुख अपनाए हुए है। हालिया दिनों में कई बैंकों पर केंद्रीय बैंक ने जुर्माने की कार्रवाई भी की है। वहीं अब बेंगलुरु के एक कोऑपरेटिव बैंक पर आरबीआई ने पाबंदी लगा दी है। इसके तहत अब ग्राहक इस बैंक से 5,000 रुपये से अधिक नहीं निकाल पाएंगे।



लोन देने पर लगाई गई रोक
रिजर्व बैंक ने बेंगलुरु स्थित शुश्रुति सौहार्द सहकारा बैंक नियमिता पर कई तरह की पाबंदिया लगाने की घोषणा की है। आरबीआई की ओर से इस संबंध में जारी एक बयान में कहा गया है कि बैंक बिना उसकी मंजूरी के अब लोन नहीं दे सकता और न ही जमा स्वीकार कर सकता है। इसके अलावा आरबीआई ने लोन रिन्यूअल पर भी पाबंदी लगा दी है। 


छह माह के लिए लगाई बंदिशें
यह बंदिशें अगले छह महीने तक लागू रहेंगी। आरबीआई की ओर से जारी बयान में कहा गया कि बैंक के सभी बचत खातों, चालू खातों या जमाकर्ताओं के किसी भी दूसरे खाते से कुल राशि में से 5,000 रुपये से अधिक की राशि निकालने की इजाजत नहीं दी जा सकती है। बैंक को अपनी वित्तीय सेहत में सुधार होने तक पाबंदियों के साथ बैंकिंग कारोबार करने की अनुमति दी गई है। परिस्थितियों के अनुसार पाबंदियों में बदलाव किया जाएगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00