टमाटर के लिए तरस रहा पाकिस्तान, प्याज के लिए बांग्लादेश परेशान

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Published by: ‌डिंपल अलवधी Updated Mon, 18 Nov 2019 01:01 PM IST
price of onion in Bangladesh hits record country Pakistan tomato price hike
विज्ञापन
ख़बर सुनें
पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान और बांग्लादेश में लोग महंगाई से परेशान हैं। एक ओर जहां पाकिस्तान में टमाटर के दाम से जनता परेशान है, वहीं बांग्लादेश में लोग प्याज के लिए तरस रहे हैं। 
विज्ञापन


पाकिस्तान के लोगों का हाल हुआ बेहाल

पाकिस्तान में कई लोगों ने टमाटर खाना बंद कर दिया है। ऐसा इसलिए क्योंकि वहां एक किलो टमाटर का दाम 300 रुपये हो गया है। हालांकि इस संदर्भ में व्यापारियों का कहना है कि पिछले एक दिन में टमाटर का खुदरा दाम 240 रुपये प्रति किलो से कम होकर 200 रुपये प्रति किलो हुआ है। 

पाकिस्तान में लोगों ने जरूरत के हिसाब से एक या दो टमाटर खरीदना शुरू कर दिया है। 250 ग्राम टमाटर के लिए लोग 80 रुपये चुका रहे हैं। 

डॉन अखबार के मुताबिक, ना सिर्फ टमाटर बल्कि पाकिस्तान में प्याज का दाम भी बढ़ा है। विक्रेता एक किलो प्याज 90 से 100 रुपये में बेच रहे हैं। जबकि पहले यह 80 रुपये प्रति किलो के भाव से बिक रहा था। प्याज का खुदरा दाम 70 रुपये प्रति किलो है। 

बांग्लादेश में इतना है प्याज का दाम

बांग्लादेश में प्याज की कीमतों ने आसमान छू लिया है। आप ये जानकर हैरान होंगे कि बांग्लादेश में एक किलो प्याज के लिए लोग 260 टका यानी 220 रुपये चुका रहे हैं। वहीं भारत में एक किलो प्याज का दाम 60 - 70 रुपये के बीच है। आमतौर पर बांग्लादेश में एक किलो प्याज 30 टका यानी करीब 26 रुपये का मिलता था। यानी अब प्याज का दाम 10 गुना बढ़ गया है। 

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने प्याज खाना किया बंद

इसलिए बांग्लादेश की सरकार ने हवाई जहाज से तुरंत प्याज आयात करने का फैसला किया है। यहां प्याज का कितना संकट है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि प्रधानमंत्री शेख हसीना ने मैन्यू से इसे हटा दिया है। हसीना ने प्याज खाना बंद कर दिया है। 

वायु मार्ग से हो रहा आयात

इस संकट को देखते हुए वायु मार्ग से प्याज का आयात किया जा रहा है। बांग्लादेश मे प्याज की कमी भारत द्वारा निर्यात पर लगाए गए प्रतिबंध की वजह से हुई है। भारत ने ज्यादा बारिश की वजह से प्याज की फसल खराब होने के बाद सितंबर के आखिरी महीने में प्याज के निर्यात पर रोक लगा दी थी। 

इसलिए बढ़े प्याज के दाम

शनिवार को प्रधानमंत्री आवास में बने किसी भी व्यंजन में प्याज का इस्तेमाल नहीं हो सका। प्याज की कमी के कारण इसके दाम आसमान छू रहे हैं। भारत से निर्यात रोक दिए जाने की वजह से पड़ोसी देशों में प्याज के दाम बढ़े हैं। 

भारत में ये कदम उठा चुकी है सरकार

भारत में प्याज की कीमतों के मद्देनजर सरकार ने कई कदम उठाए हैं। प्याज की कीमतें थामने के लिए कच्ची और प्रसंस्कृत प्याज के आयात पर पहले ही प्रतिबंध लग चुका है। सरकार कारोबारियों पर स्टॉक लिमिट लगा चुकी है, जिससे जमाखोरी रोकी जा सके। इसके अलावा ग्राहकों को राहत देने के लिए सरकार ने 23.40 रुपये प्रति किलो की दर से प्याज बेचा। सरकार अपने बफर स्टॉक में से 57,000 टन प्याज निकाल चुकी है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00