लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Business ›   Business Diary ›   E-Waste Control Policy One charger for all electronic devices including smartphones Tablets

E-Waste Control: स्मार्टफोन, टैबलेट सहित सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के लिए एक ही चार्जर, ई-कचरा में आएगी कमी

एजेंसी, नई दिल्ली। Published by: देव कश्यप Updated Wed, 10 Aug 2022 03:26 AM IST
सार

अभी तक जो ढेर सारे चार्जर की व्यवस्था है, उसे खत्म करने की योजना है। साथ ही इससे ई-कचरा में भी कमी आएगी। हाल में यूरोपीय संघ ने 2024 तक छोटे इलेक्ट्ऱॉनिक उपकरणों के लिए एक यूएसबी सी पोर्ट को अपनाने का नियम लागू करने की बात कही है। इसी तरह की योजना अमेरिका में भी बन रही है। 

सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के लिए एक ही चार्जर (सांकेतिक तस्वीर)।
सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के लिए एक ही चार्जर (सांकेतिक तस्वीर)। - फोटो : iStock
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

आने वाले दिनों में आपको स्मार्टफोन, टैबलेट सहित सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के लिए एक ही चार्जर काम करेगा। उपभोक्ता मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इसके लिए मंत्रालय ने 17 अगस्त को उद्योग की बैठक बुलाई है। इसमें इस बात पर चर्चा की जाएगी कि सभी इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के लिए एक चार्जर लागू करने में क्या दिक्कत हो सकती है। अधिकारी ने कहा कि मोबाइल निर्माता और अन्य संगठनों को इस बैठक में बुलाया गया है। 



ढेर सारे चार्जर की व्यवस्था समाप्त होगी
अधिकारी के मुताबिक, अभी तक जो ढेर सारे चार्जर की व्यवस्था है, उसे खत्म करने की योजना है। साथ ही इससे ई-कचरा में भी कमी आएगी। हाल में यूरोपीय संघ ने 2024 तक छोटे इलेक्ट्ऱॉनिक उपकरणों के लिए एक यूएसबी सी पोर्ट को अपनाने का नियम लागू करने की बात कही है। इसी तरह की योजना अमेरिका में भी बन रही है। 


बदलाव पर देना होगा जोर
अधिकारी ने कहा कि यूरोप और अमेरिका में कंपनियां ऐसी सेवा दे सकती हैं तो फिर भारत में वे ऐसा क्यों नहीं कर सकती हैं? स्मार्टफोन और टैबलेट जैसे पोर्टेबल उपकरणों में एक सामान्य चार्जर ही लगना चाहिए। अधिकारी ने कहा कि भारत इस बदलाव पर अगर जोर नहीं देता है तो ऐसे उत्पादों को यहां डंप किया जा सकता है। फिलहाल ग्राहकों को इसके कारण हर बार एक नया उपकरण खरीदने के बाद एक नया चार्जर भी अलग से खरीदना पड़ता है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और Budget 2022 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00