विज्ञापन
विज्ञापन

सड़क पर उतरे तीन लाख कर्मचारी, बैंकिंग सेवाएं बाधित होने से ग्राहकों को हुई परेशानी

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Tue, 22 Oct 2019 06:41 PM IST
bank strike caused disruption to customers, three lakh employees took part
- फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
सरकार के बैंक विलय के विरोध में बैंक कर्मचारी संगठनों ने मंगलवार को देशव्यापी हड़ताल रखी। इस दौरान सरकारी बैंकों के करीब तीन लाख कर्मचारियों ने कामकाज ठप रखा और सड़कों पर उतर आए। हड़ताल से चेक भुगतान और जमा-निकासी जैसी बैंकिंग सेवाएं आंशिक रूप से बाधित रहीं, जिससे त्योहारों से पहले ग्राहकों को समस्या का सामना करना पड़ा।
विज्ञापन
कर्मचारी संगठनों का कहना है कि सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के 10 बैंकों का विलय कर चार बड़े बैंक बना रही है। कहने को तो यह विलय है, लेकिन देखा जाए तो यह छह सरकारी बैंकों की हत्या जैसा है। देश में कुल बैंकिंग संपत्तियों में से दो तिहाई तो सरकारी बैंकों के पास ही है। 

अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संगठन के महासचिव सीएच वेंकटचलम ने कहा कि कर्मचारियों के कामकाज बंद रखने से नकदी जमा-निकासी, चेक भुगतान, एटीएम संचालन जैसी सेवाओं पर असर पड़ा है। उन्होंने कहा कि हमारी तैयारी आंदोलन का स्तर और बड़ा करने की थी, जिसमें कम से कम 10 लाख कर्मचारियों को शामिल किया जाना था, ताकि सरकार पर विलय के फैसले को बदलने के लिए दबाव बनाया जा सके। 

उन्होंने कहा कि सरकार इससे पहले एसबीआई, देना बैंक, विजया बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा के विलय का कदम उठा चुकी है, जिससे करीब 3,000 बैंक शाखाएं बंद हो चुकी हैं। अब विलय के नए कदम से भी 2,000 शाखाओं के बंद होने का खतरा है। उन्होंने आरोप लगाया कि बड़े कारोबारियों के कर्ज नहीं चुकाने का खामियाजा बैंकों और कर्मचारियों को भुगतना पड़ रहा है। हड़ताल में बैंक एम्प्लाइज फेडरेशन ऑफ इंडिया के सदस्य भी शामिल रहे। 

विलय प्रक्रिया पर असर नहीं : बैंक

एक सरकारी बैंक के सीईओ ने कहा कि कर्मचारी संगठनों की हड़ताल का असर बैंकों की विलय प्रक्रिया पर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि इससे पहले एसबीआई और बैंक ऑफ बड़ौदा की विलय प्रक्रिया के दौरान भी इसी तरह के विरोध के स्वर उठे थे, जो धीरे-धीरे शांत हो गए। लिहाजा इस तरह के हड़ताल से विलय की योजना कतई प्रभावित होने वाली नहीं है। 
विज्ञापन

Recommended

सफलता क्लास ने सरकारी नौकरियों के लिए शुरू किया नया फाउंडेशन कोर्स
safalta

सफलता क्लास ने सरकारी नौकरियों के लिए शुरू किया नया फाउंडेशन कोर्स

इस काल भैरव जयंती पर कालभैरव मंदिर (दिल्ली) में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात : 19-नवंबर-2019
Astrology Services

इस काल भैरव जयंती पर कालभैरव मंदिर (दिल्ली) में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात : 19-नवंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2019 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Corporate

Vodafone-Idea को हुआ कॉर्पोरेट इतिहास में सबसे बड़ा 50,921 करोड़ रुपये का घाटा

समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) की वजह से वोडाफोन आइडिया को दूसरी तिमाही में 50, 921 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है।

14 नवंबर 2019

विज्ञापन

'मरजावां' के स्टार कास्ट से खास बातचीत, सिद्धार्थ ने बताई फिल्म की खासियत

सिद्धार्थ मल्होत्रा और तारा सुतारिया की फिल्म मरजावां 15 नवंबर को रिलीज होने वाली है। लेकिन उससे पहले फिल्म की स्टार कास्ट से खास बातचीत।

14 नवंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election