विज्ञापन
विज्ञापन

रोडवेज बस की टक्कर से बाइक सवार व्यापारी की मौत

farrukhabad Updated Sat, 20 Apr 2019 12:27 AM IST
police taking information
police taking information - फोटो : police taking information
 शहर के कायमगंज बाईपास पर शुक्रवार दोपहर प्लाट से लौट रहे बाइक सवार व्यापारी की रोडवेज बस की टक्कर से मौत हो गई। घटना के बाद चालक बस लेकर मौके से भाग गया। इससे परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया। संदीप हेलमेट नहीं लगाए था।
विज्ञापन
विज्ञापन
शहर के मोहल्ला घमंडीकूंचा निवासी बर्तन व्यापारी संदीप अग्रवाल (50) का शहर से सटे खंदिया गांव के पास प्लाट है। इसमें बाउंड्रीवाल का निर्माण कार्य चल रहा है। निर्माण कार्य देखकर बाइक से वापस लौटते समय संपर्क मार्ग से जैसे ही उन्होंने बाइक मुख्य मार्ग पर मोड़ी इसी बीच पीछे से आई रोडवेज बस ने बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना के बाद चालक बस भगा ले गया। जानकारी पर पहुंचे परिजन घायल संदीप को शहर के निजी अस्पताल ले गए। वहां चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। शव घर पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। पत्नी जूही रो-रोकर बेहाल हो गई। उनके दो पुत्रों में हर्षित (23) व प्रतीक (22) हैं। पुलिस ने व्यापारी के घर पहुंचकर परिजनों से पूछताछ की। बर्तन व्यापारी चार भाइयों में सबसे बड़े थे। उनसे छोटे भाई राजेश, सुदीप व मुकेश अग्रवाल हैं। संदीप की चौक बाजार में बर्तन की दुकान है। परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया। मऊदरवाजा थानाध्यक्ष विनय प्रकाश राय ने बताया कि घटना की तहरीर नहीं दी गई है।

Recommended

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए
Lovely Professional University

एलपीयू ही बेस्ट च्वॉइस क्यों है इंजीनियरिंग और अन्य कोर्सों के लिए

ज्योतिष विशेषज्ञ से पूछें सवाल - कैसा होगा करियर, कैसे चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार।
Astrology

ज्योतिष विशेषज्ञ से पूछें सवाल - कैसा होगा करियर, कैसे चलेगा व्यापार, किसे मिलेगी तरक्की और किसे मिलेगा प्यार।

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

38 साल से नहीं है बिजली, किसान ने ऊर्जा मंत्री के सामने पिया जहर

महाराष्ट्र के बुलढाणा में एक किसान ने प्रदेश के ऊर्जा मंत्री के सामने ही जहर पीकर आत्महत्या की कोशिश की। ये किसान बिजली कनेक्शन की मांग कर रहा था। पिछले 38 सालों से इस किसान के इलाके में बिजली नहीं है।

18 जून 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
सबसे तेज अनुभव के लिए
अमर उजाला लाइट ऐप चुनें
Add to Home Screen
Election