लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hypothecation Removal: कार पर लिए लोन को चुकाने के बाद जरूर करें यह काम, नहीं तो बाद में होंगे परेशान

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: समीर गोयल Updated Sun, 04 Dec 2022 02:25 PM IST
For Reference Only
1 of 7
विज्ञापन

देश में ज्यादातर वाहन खरीदते समय लोन जरूर लिया जाता है। वाहन की आरसी पर भी इसकी जानकारी दी जाती है। जिसके कारण बिना लोन चुकाए वाहन को बेचना असंभव होता है। अगर आपने भी अपने वाहन पर लिए गए लोन को चुका दिया है तो एक काम जरूर करना चाहिए। इस काम को ना करने पर आपको बाद में वाहन बेचने में भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

क्या होता है हाइपोथिकेशन

For Reference Only
2 of 7
ज्यादातर लोग नया वाहन खरीदते समय बैंक से लोन लेते हैं। ऐसे में वाहन के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट पर हाइहाइपोथिकेशन दर्ज हो जाता है। इसकी जानकारी आरसी में भी होने के कारण वाहन को बेचना असंभव होता है। अगर वाहन बेचना हो तो हाइपोथिकेशन को हटाना काफी जरूरी हो जाता है।

यह भी पढ़ें - Car Suspension: कार का सस्पेंशन कभी नहीं होगा खराब, जानें फिट रखने का सही तरीका
विज्ञापन

लोन चुकाने के बाद करें यह काम

For Reference Only
3 of 7
अगर आप अपने वाहन को लंबे समय तक रख रहे हैं तो भी आपको लोन चुकाने के बाद लापरवाही नहीं करनी चाहिए। एक बार पूरा लोन वापस करने के बाद आरसी पर चढ़े हुए हाइपोथिकेशन स्टेटस को जरूर हटवाना चाहिए। ऐसा ना करने पर भविष्य में वाहन बेचने में समस्या आती है।

यह भी पढ़ें - Black Smoke: जब कार करने लगे ये काम तो बिल्कुल भी न करें नजरअंदाज, नहीं तो हो सकता है मोटा खर्चा

कैसे हटता है हाइपोथिकेशन

For Reference Only
4 of 7
हाइपोथिकेशन को हटवाना काफी आसान हो गया है। इसके लिए केंद्र सरकार की वेबसाइट परिवहन पर जाकर गाड़ी के रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर लॉगइन किया जा सकता है। लॉगिन करने के बाद ऑनलाइन सर्विसेज का विकल्प चुनना होता है। यहां पर व्हीकल रिलेटिड सर्विस में जाकर हाइपोथिकेशन टर्मिनेशन प्रोसेस के विकल्प को चुनना होता है।

यह भी पढ़ें - High Beam Light: हाई बीम पर चलाते हैं कार तो हो जाएं सतर्क, नहीं तो होगा बड़ा नुकसान
विज्ञापन
विज्ञापन

नए यूजर कैसे करें रजिस्टर

For Reference Only
5 of 7
हाइपोथिकेशन हटवाने के लिए शुरू की गई प्रक्रिया के दौरान ज्यादातर यूजर पहली बार यह प्रक्रिया करते हैं। टर्मिनेशन प्रोसेस के विकल्प को चुनने के बाद रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करना होता है। हालांकि दिल्ली और सिक्किम के अलावा अन्य राज्यों के वाहनों के लिए लॉगिन और रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं होती। एक बार रजिस्टर करने के बाद ऑनलाइन अप्लाई किया जा सकता है। इसके लिए फॉर्म 35 और एनओसी को अपलोड करना होता है। इस फॉर्म और एनओसी को पूरी पेमेंट करने के बाद बैंक से लिया जा सकता है। इस पर वाहन के मालिक और फाइनेंशियर के साइन जरूरी होते हैं।

यह भी पढ़ें - Car Sunroof: क्या आप अपनी कार में भी लगवा सकते हैं सनरूफ, जानें खर्च से लेकर फायदे-नुकसान तक सबकुछ
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00