लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Maharashtra ›   Eknath Shinde mentioned in affidavit given to the Election Commission that he still owned his first auto rickshaw

Eknath Shinde: बंगले में हैं बड़ी-बड़ी गाड़ियां, फिर भी एकनाथ शिंदे का नहीं छूटा टेंपो से प्यार, आज भी रखा है सहेज कर

Ashish Tiwari आशीष तिवारी
Updated Sat, 02 Jul 2022 06:49 PM IST
सार

एकनाथ शिंदे ने चुनाव आयोग में दिए गए एफिडेविट में इस बात का जिक्र किया है कि उनके पास गाड़ियों के काफिले के साथ उनका टेंपो भी बरकरार है। हालांकि यह टेंपो उनकी पत्नी के नाम है, लेकिन उनके घर के गैराज की शोभा बढ़ाता है...

एकनाथ शिंदे
एकनाथ शिंदे - फोटो : for reference only
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के पास कहने को तो बड़ी-बड़ी गाड़ियां हैं। लेकिन एकनाथ शिंदे का मुफलिसी के दिनों में मुंबई की गलियों में जिस टेंपो को चलाकर गुजारा होता था, वह आज भी मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की गाड़ियों के काफिले में तैनात है। बकायदा एकनाथ शिंदे ने चुनाव आयोग में दिए गए एफिडेविट में इस बात का जिक्र किया है कि उनके पास गाड़ियों के काफिले के साथ उनका टेंपो भी बरकरार है। हालांकि यह टेंपो उनकी पत्नी के नाम है, लेकिन उनके घर के गैराज की शोभा बढ़ाता है। घर में महंगी गाड़ियों के बीच में टेंपो से प्यार एकनाथ शिंदे को जमीन का नेता बनाता है। ठाणे की गलियों में एकनाथ शिंदे की ऐसी अनगिनत कहानियां बिखरी हुई हैं, जिसे अब लोग उनके मुख्यमंत्री बनने के बाद जुबान पर ला रहे हैं।

मर्सिडीज बेंज EQC के साथ एकनाथ शिंदे
मर्सिडीज बेंज EQC के साथ एकनाथ शिंदे - फोटो : Agency (File Photo)- For Reference Only

शपथपत्र में किया जिक्र

मुफलिसी के दौर में एकनाथ शिंदे के पास रोजी-रोटी का जब कोई जरिया नहीं था, तो वह टेंपो चला कर अपने परिवार का जीवन यापन करते थे। महाराष्ट्र शिवसेना से जुड़े नेता राजकदम धुले कहते हैं कि आज भी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और कद्दावर नेता एकनाथ शिंदे की गाड़ियों के बीच में टेंपो अभी भी है। वे कहते हैं कि यह टेंपो बताता है कि नेता का जमीन से कितना जुड़ाव है। 2019 में हुए विधानसभा चुनाव में चुनाव आयोग को दिए गए अपने शपथपत्र में एकनाथ शिंदे ने अपनी पत्नी के नाम पर टेंपो के साथ एक महिंद्रा अरमाडा ग्रैंड गाड़ी का भी जिक्र किया है। जबकि खुद के नाम पर इनोवा से लेकर स्कॉर्पियो जैसी गाड़ियां हैं। धुले कहते हैं कि एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के एक ऐसे नेता हैं, जो आज भी उन गलियों में जाते हैं जहां पर उनका मुफलिसी का जीवन गुजरा। इलाके के लोगो उन्हें एकनाथ शिंदे नहीं बल्कि "नेकनाथ शिंदे" के नाम से ज्यादा पुकारते हैं।

ऑक्सीजन मैन के नाम से हैं प्रसिद्ध

ठाणे शिवसेना के संभाग प्रमुख बलराव भिड़े का कहना है महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे आज भी अपने उन दो बच्चों की याद में खाने का पहला निवाला निकालते हैं, जिनकी नदी में डूब कर मौत हो गई थी। भिड़े कहते हैं कि राजनीतिक पारी में मोहल्ले के नेता से लेकर पार्षद और उसके बाद विधायक, मंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक का सफर करने वाले एकनाथ शिंदे लोगों के दर्द को कितना समझते हैं, इसका अंदाजा कोविड के दौरान लोगों को हुआ था। एकनाथ शिंदे को लोग ऑक्सीजन मैन के नाम से जानने लगे थे। सांसद बेटे के साथ मिलकर गरीबों के मुफ्त इलाज और उनकी जांच के लिए चलाए जाने वाले चिकित्सा अभियान ठाणे और आसपास के लोगों के लिए नई जिंदगी देने वाला है। भिड़े कहते हैं अब यह अभियान पूरे महाराष्ट्र में चलेगा।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00