विज्ञापन
विज्ञापन

शराब पीकर चलाई कार या बाइक, तो लगेगा 10 हजार रुपये जुर्माना, देखें फाइन की पूरी लिस्ट

ऑटो डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 26 Jun 2019 02:30 PM IST
डेमो इमेज
डेमो इमेज
ख़बर सुनें
सरकार जल्द ही मोटर व्हीकल एक्ट को और कड़ा बनाने जा रही है। संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट में जुर्माने और कड़ा किया गया है, साथ ही ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालों को जेल भी भेजा सकता है। हाल ही में कैबिनेट ने संशोधित एक्ट को पास किया है जिसके बाद बिल को संसद में अगले कुछ दिनों में पेश किया जाएगा।
विज्ञापन
वहीं बिल में शराब पी कर वाहनों चलाने वालों पर सख्त प्रावधान रखे गए हैं। यानी की बिल पास होने के बाद नशे में वाहन चलाने वालों को ज्यादा जेब ढीली करनी पड़ेगी। संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट में शराब पीकर ड्राइविंग करने पर 10 हजार रुपये तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। वहीं इमजेंसी वाहनों जैसे एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड और पीसीआर का रास्ता रोकना भारी पड़ सकता है। ऐसा करने पर 10 हजार रुपये तक का जुर्माना ठोका जा सकता है।
 
अपराध वर्तमान में जुर्माना प्रस्तावित जुर्माना राशि
सीट बेल्ट नहीं पहनने पर 100 रुपये 1,000 रुपये
हेलमेट नहीं पहनने पर 100 रुपये 1,000 रुपये और 3 महीने के लिए लाइसेंस निलंबित
इमरजेंसी वाहनों का रोस्ता नहीं देने पर पहले कोई जुर्माना नहीं था 10,000 रुपये
बिना ड्राइविंग लाइसेंस ड्राइविंग 500 रुपये 5,000 रुपये
लाइसेंस निलंबित होने के बाद भी ड्राइविंग 500 रुपये 10,000 रुपये
शराब पीकर ड्राइविंग 2,000 रुपये 10,000 रुपये
स्पीडिंग/रेसिंग 500 रुपये 5,000 रुपये
ओवरलोडिंग 2,000 रुपये और उसके बाद प्रति टन 1000 रुपये 20,000 रुपये और प्रति टन 2,000 रुपये
नाबालिगों द्वारा ड्राइविंग पहले कोई जुर्माना नहीं था दोषी पाये जाने पर 25,000 रुपये और 3 साल की जेल, वाहन का रजिस्ट्रेशन रद्द
 
काफी दिनों से सड़क सुरक्षा कार्यकर्ता की मांग थी कि बिल में कुछ बदलाव करके उसे फिर से पेश किया जाये। पिछली लोकसभा में इस बिल को पास किया गया था, लेकिन लोकसभा भंग होने के बाद नई सरकार ने इसे पुराने स्वरूप में ही पेश करने का फैसला किया। वहीं कुछ विशेषज्ञों ने बिल में परिवहन संबंधी नियमों को वापस लेने और सुरक्षा संबंधी नियमों पर फोकस करने की सलाह दी।

वहीं सरकार ने भी बिल में कोई खास बदलाव नहीं किए हैं। सरकार के सूत्रों को कहना है कि केवल व्याकरण संबंधी खामियां ही ठीक की गई हैं। वहीं चयन समिति ने भी इस बिल को देखा है। वहीं जब किसी बिल की समय सीमा खत्म हो जाती है, तो उसे फिर से कैबिनेट के समक्ष रखा जाता है, जिके बाद उसे संसद में पेश किया जाएगा।

नए बिल में सभी राज्यों में यूनिफॉर्म ड्राइविंग लाइसेंस और व्हीकल रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को ऑनलाइन नेशनल रजिस्टर में शामिल करने की व्यवस्था की गई है। वहीं अगर नाबालिग ड्राइविंग के दोषी पाये जाते हैं तो कार के रजिस्ट्रेशन को खत्म करने के साथ उसकके पैरेंट्स पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। वहीं हिट एंड रन मामलों में 10 लाख रुपये तक का मुआवजा देने की व्यवस्था की गई है।
 
विज्ञापन

Recommended

आखिर भारतीयों को क्यो पसंद है रमी खेलना?
Junglee Rummy

आखिर भारतीयों को क्यो पसंद है रमी खेलना?

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा और घर बैठें पाएं प्रसाद : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा और घर बैठें पाएं प्रसाद : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Auto News

इस धनतेरस घर ले आइये 125cc इंजन वाले सबसे स्टाइलिश स्कूटर, कीमत 59 हजार से शुरू

लेकिन इस रिपोर्ट में हम आपके लिए लेकर आये हैं तीन ऐसे स्कूटर जो अपने 125cc सेगमेंट में बेहद स्टाइलिश हैं। इस धनतेरस अगर आप भी एक ऐसा ही स्कूटर खरीदने का विचार कर रहे हैं तो इस रिपोर्ट पर गौर करें...

23 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

Interview with Sanjay Suri: वेब सीरीज भ्रम में कल्कि और जूही चावला संग नजर आएंगे संजय सूरी

जल्दी ही जी5 पर एक साइकोलॉजिकल थ्रिलर, सस्पेंस से भरी वेब सीरीज देखने को मिलेगी। इसमें मुख्य किरदार निभा रहे हैं संजय सूरी, जूही चावला और कल्कि। संजय सूरी के साथ अमर उजाला ने इसे लेकर की खास बातचीत।

23 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree