Hindi News ›   Automobiles News ›   According to the reports Hyundai motor may end domestic sales of Hyundai Kona EV South Korea Market due to faulty high voltage battery system

Hyundai घरेलू बाजार में बंद कर सकती है अपनी इलेक्ट्रिक SUV की बिक्री, 74 हजार गाड़ियां कर चुकी रिकॉल

ऑटो डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: Harendra Chaudhary Updated Sat, 19 Dec 2020 04:32 PM IST
सार

कोना का हाई वोल्टेज बैटरी सिस्टम गड़बड़ी की मुख्य वजह रहा है। दो सालों में दुनियाभर में कोना की 74 हजार से ज्यादा यूनिट्स को रिकॉल किया जा चुका है। दक्षिण कोरिया, कनाडा और यूरोप में बेची गईं 16 कोना ईवी में तो आग भी लग चुकी है...

Hyundai कोना ड्राइव
Hyundai कोना ड्राइव - फोटो : Hyundai
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

दक्षिण कोरियाई कंपनी ह्यूंदै मोटर्स अपनी इलेक्ट्रिक एसयूवी कोना की बिक्री घरेलू बाजार में बंद कर सकती है। इसकी वजह मानी जा रही है कि कोना की बैटरी में लगातार शिकायतें आ रही हैं और बैटरी आग पकड़ रही है। ऐसी कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं जिनमें बैटरी के साथ ब्रेकिंग सिस्टम में भी दिक्कते आई हैं, जिसके बाद कंपनी ने 74 हजार से ज्यादा गाड़ियों को रिकॉल किया है।

इलेक्ट्रिक कार ह्यूंदै कोना की यूरोपीय बाजार में जबरदस्त मांग है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से ऐसे कई मामले सामने आने के बाद कंपनी इसकी समीक्षा करने में जुटी हुई है। रायटर्स के मुताबिक कंपनी कई विकल्प तलाश रही है और लगातार समीक्षा कर रही है। साथ ही कंपनी मिडसाइज क्रॉसओवर इलेक्ट्रिक एसयूवी Ioniq 5 को भी लॉन्च करने की सोच रही है।

दक्षिण कोरिया के केबल न्यूज चैनल YTN के मुताबिक कंपनी अभी इसकी बिक्री यूरोपीय बाजार में जारी रखेगी। अक्तूबर में ह्यूंदै ने कोना ईवी में शॉर्ट सर्किट के खतरों को देखते हुए कई कारों को रिकॉल किया था। कंपनी का कहना था कि हाई वोल्टेज बैटरी सेल्स के खराब निर्माण की वजह से यह समस्या हुई है। रिकॉल में कंपनी ने न केवल सॉफ्टवेयर अपडेट किया बल्कि बैटरियां भी बदलीं। कंपनी ने यूरोप में सितंबर 2017 से मार्च 2020 के बीच बनी 25,564 कोना ईवी को रिकॉल किया था।

Hyundai Kona Fire
Hyundai Kona Fire - फोटो : insideevs
इसके अलावा कंपनी ने दक्षिण कोरिया में ही 50 हजार कोना ईवी और नेक्सो फ्यूल सेल्स व्हीकल्स को भी रिकॉल किया था, जिनमें इलेक्ट्रॉनिक ब्रेकिंग सिस्टम खराब पाया गया था। हालांकि कंपनी ने यूरोप और दक्षिण कोरिया के अलावा भारक में भी कारों को रिकॉल किया था। यहां कपनी ने 456 यूनिट्स को रिकॉल किया था, जो 01 अप्रैल 2019 से 31 अक्तूबर 2020 के बीच निर्मित हुई थीं।

भारत में रिकॉल करते वक्त कंपनी ने जारी अपने बयान में कहा था कि कंपनी अपनी कोना एसयूवी के हाई वोल्टेज बैटरी सिस्टम (बीएमएस) की जांच करना चाहती है। कंपनी ने इसके बदले ग्राहकों से कोई शुल्क भी नहीं लिया था। हालांकि कंपनी ने यह स्पष्ट नहीं किया है वह भारत में कोना का बेचना जारी रखेगी या बंद करेगी। गौरतलब है कि ह्यूंदै ने अपनी कोना एसयूवी को जुलाई 2019 में उतारा था, जिसमें 39.2 kWh की लीथियम आयन पॉलीमर बैटरी लगी है, जो 134 बीएचपी की पावर और 395 एनएम का टॉर्क देती है। ह्यूंदै का दावा है कि सिंगल चार्च में कोना की ड्राइविंग रेंज 452 किमी है।       

गौरतलब है कि कोना का हाई वोल्टेज बैटरी सिस्टम गड़बड़ी की मुख्य वजह रहा है। दो सालों में दुनियाभर में कोना की 74 हजार से ज्यादा यूनिट्स को रिकॉल किया जा चुका है। दक्षिण कोरिया, कनाडा और यूरोप में बेची गईं 16 कोना ईवी में तो आग भी लग चुकी है। पिछले साल ही कनाडा के मॉन्ट्रियल में रहने वाले एक शख्स की कोना कार ने गैराज में खड़े-खड़े ही आग पकड़ ली थी। धमाका इतनी जोर से हुआ था गैराज का दरवाजा उखड़ गया और सड़क पर जा गिरा। उस दौरान कार चार्जिंग सॉकेट में प्लग नहीं थी और न ही चार्जर से कनेक्ट थी। यह आग कारों के बैटरी पैक में लगी थी।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें ऑटोमोबाइल समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। ऑटोमोबाइल जगत की अन्य खबरें जैसे लेटेस्ट कार न्यूज़, लेटेस्ट बाइक न्यूज़, सभी कार रिव्यू और बाइक रिव्यू आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00