फोटो -

Home›   City & states›   फोटो -

Dehradun Bureau

अमर उजाला ब्यूरोभगवानपुर। नगर पंचायत के अस्तित्व में आने के तीन साल बाद भी भगवानपुर क्षेत्र विकास की बाट जोह रहा है। स्थिति यह है कि व्यक्तिगत लेखा एकाउंट न खुलने से जहां एक और राज्य एवं 14वें वित्त का बजट नगर पंचायत को नहीं मिल पाने से विकास योजनाएं अटक गई हैं, वहीं कर्मचारियाें को वेतन के भी लाले पड़ गए हैं। हालांकि एकाउंट के बाबत अधिकारियाें का दावा है कि इसकी प्रक्रिया करीब-करीब पूरी कर ली गई है। जल्द ही एकाउंट खुलने के साथ ही इसमें बजट भी आना शुरू हो जाएगा। कस्बा भगवानपुर को अगस्त 2014 में नगर पंचायत का दर्जा मिला था। शुरुआती दौर में अवस्थापन एकाउंट के जरिए नगर पंचायत को करीब सवा करोड़ की धनराशि अलग-अलग किश्तों में जारी हुई। जिनसे नगर पंचायत कार्यालय का निर्माण, नाला-नालियाें का निर्माण, पुलिया का निर्माण एवं पाइप लाइन बिछाने जैसे कुछ काम हो सके थे। इसके बाद से विकास कार्य ठप हो गए। स्थिति यह है कि कस्बे की गलियों में बाजार मुख्य मार्ग पर स्ट्रीट लाइटों की व्यवस्था, सार्वजनिक शौचालय निर्माण, कूड़ा निस्तारण की व्यवस्था, पानी निकासी का अभाव एवं सड़कों की मरम्मत आदि के कार्य नहीं हो सके। नगर पंचायत अधिकारी शंकर कौशल ने बताया कि नगर पंचायत भगवानपुर का अभी तक व्यक्तिगत लेखा बैंक अकाउंट नहीं खुल पाया है, जिसकी वजह से राज्य वित्त व 14 वें वेतन से मिलने वाले योजना की धनराशि नहीं मिल पाई है। उन्होंने बताया कि इस समस्या से निकाय कर्मियाें को वेतन भी नहीं दे पा रहे हैं। इसके अलावा स्ट्रीट लाइटों एवं उपकरण खरीद की योजनाएं भी पूरी नहीं हो पा रही हैं। वर्तमान में करीब आठ माह से नगर पंचायत के 15 मानदेय कर्मचारियों को भुगतान तक नहीं हो पाया है। उन्होंने बताया कि जुलाई माह से उन्हें भी अब तक वेतन नहीं मिल पाया है। हालांकि उन्होंने कहा कि शासन से व्यक्तिगत लेखा बैंक एकाउंट खोलने के लिए सभी जरूरी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। जल्द ही खाता खुलने के बाद समस्याओं का समाधान करा दिया जाएगा।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

शादी की रात खुला पति का ऐसा राज, पत्नी बोली जिंदगी बर्बाद हो गई

ड्रिंक करते समय ये पांच चीजें कतई ना खाएं, जहर बन जाएंगी

बॉबी देओल की इस हीरोइन की ऐसी तस्वीरें आईं सामने, छिपाने को हुईं मजबूर

आप पर मंडरा रहा एक और बड़ा खतरा, अन्य 27 MLA पर लटक रही तलवार

सहवाग बोले- IPL की बदौलत इन गुमनाम चेहरों को मिली पहचान और आज हैं स्टार खिलाड़ी

अक्षय कुमार के आगे झुकी 'पद्मावत' की पूरी टीम, भंसाली जिंदगी भर नहीं भूल पाएंगे ये एहसान