बोहरा दंपति की गिरफ्तारी पर तीन अक्तूबर तक रोक लगी

Home›   Crime›   बोहरा दंपति की गिरफ्तारी पर तीन अक्तूबर तक रोक लगी

Haldwani Bureau

लोहाघाट (चंपावत)। एक साथ दो पदों में रहने के मामले में आरोपी प्रीति बोहरा और उनके जिला पंचायत सदस्य पति पुष्कर सिंह बोहरा की गिरफ्तारी पर तीन अक्तूबर तक रोक लग गई है। ये दोनों आरोपी लंबे समय से फरार चल रहे थे। एक सितंबर को बोहरा दंपति के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ था। उल्लेखनीय है कि शासन के निर्देश के बाद डीएम डॉ.अहमद इकबाल ने चंपावत की एसडीएम सीमा विश्वकर्मा से मामले की जांच करवाई। जांच रिपोर्ट में चौडला ग्राम पंचायत में 2010 से 2015 के बीच आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व लोक साक्षरता केंद्र की प्रेरक पद पर प्रीति द्वारा एक साथ काम करने की पुष्टि हुई थी। इसके बाद प्रभारी बाल विकास अधिकारी कमला मर्तोलिया ने 24 अगस्त को आरोपी महिला कर्मी प्रीति, तत्कालीन ग्राम प्रधान व मौजूद जिला पंचायत सदस्य पुष्कर सिंह बोहरा, प्रधानाध्यापक पीतांबर दत्त भट्ट, तत्कालीन बाल विकास परियोजना अधिकारी चंद्रा खड़ायत, तत्कालीन बाल विकास की मुख्य सेविका गीता राजपूत के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पंचेश्वर के कोतवाल डीएल वर्मा ने बताया कि सभी पांचों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 467, 468 व 409 के तहत मुकदमा दर्ज है। एक सितंबर प्रीति बोहरा और पुष्कर सिंह बोहरा के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हुआ था उन्होंने बताया कि उच्च न्यायालय ने इनकी गिरफ्तारी के खिलाफ तीन अक्तूबर तक तक के लिए स्थगनादेश (स्टे) दिया है। उन्होंने बताया कि लंबे समय से फरार चल रहे बोहरा दंपति द्वारा गिरफ्तारी के खिलाफ उच्च न्यायालय का स्थगनादेश थाने में दे दिया है। तीन अक्तूबर के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
Share this article
Tags: ,

Most Popular

एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने देखी अनुष्‍का की हनीमून फोटो, फिर तुरंत दिया कुछ ऐसा रिएक्‍शन

अनुष्‍का-विराट की हनीमून फोटो पर 1 घंटे में 9 लाख से ज्यादा लाइक, तेजी से हो रही वायरल

विराट-अनुष्का की शादी में एक मेहमान का खर्च था 1 करोड़, पूरी शादी का खर्च सुन दिमाग हिल जाएगा

क्या आप जानते हैं क‌ितने पढ़े-ल‌िखे हैं कांग्रेस के 49वें अध्यक्ष राहुल गांधी, नाम भी बदलना पड़ा

संसद परिसर में हुआ कुछ ऐसा कि आडवाणी के लिए भीड़ से बाहर आए राहुल और पकड़ लिया उनका हाथ

बेटी के बैग में इस्तेमाल हुए कंडोम देख मां ने कर दिया केस, अब कोर्ट ने लिया ऐसा फैसला