ऐप में पढ़ें

कार्मिकों ने बांह पर काली पट्टी बांधकर जताया विरोध

हल्द्वानी ब्यूरो
Updated Tue, 12 Feb 2019 10:57 PM IST
कार्मिकों ने बांह पर काली पट्टी बांधकर जताया विरोध
विज्ञापन
अल्मोड़ा। पुरानी पेंशन बहाली करने समेत दस सूत्री मांगों को लेकर उत्तराखंड अधिकारी-कर्मचारी-शिक्षक समन्वय मंच के आह्वान पर विभिन्न विभागों के कर्मचारियों,अधिकारियों और शिक्षकों ने बांह पर काला फीता बांधकर विरोध दर्ज कराया।
विज्ञापन


कार्मिक पुरानी पेंशन बहाल करने, पदोन्नति में शिथिलीकरण, एसीपी का लाभ 10,16, 26 वर्ष में दिए जाने, हेल्थ स्मार्ट कार्ड बनाने समेत दस सूत्री मांगों को लेकर आंदोलित हैं। कार्मिकों गत 31 जनवरी को सामूहिक अवकाश लेकर प्रदर्शन भी कर चुके हैं। मांगों का समाधान नहीं होने पर मंगलवार को कार्मिकों ने बांह पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताया। मुख्य शिक्षा अधिकारी कार्यालय प्रांगण में कार्मिकों ने नारेबाजी कर प्रदर्शन भी किया। मुख्य संयोजक पंकज कांडपाल और पुष्कर सिंह भैसोड़ा ने कहा कि 13 फरवरी को भी बांह पर काला फीता बांधकर विरोध जारी रहेगा।


मांग पूरी नहीं हुई तो 15 फरवरी को सायं पांच बजे जिला मुख्यालय और शाखा इकाईयों द्वारा कैंडल मार्च निकाला जाएगा। 24 फरवरी को जिला मुख्यालय में पांच बजे रैली निकालकर डीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजेंगे। सीईओ कार्यालय में प्रदर्शन में पुष्कर भैसोड़ा, बलवीर भाकुनी, मुकेश जोशी, देवेंद्र पाठक, राजेश डालाकोटी, योगेंद्र बिष्ट, कमल बिष्ट, बलवंत तड़ागी, गोपाल भाकुनी, अर्जुन नेगी, अविनाश पडियार, गौरव बिष्ट, जगदीश ंसिंह, गोकुल सिंह आदि ने भाग लिया।

उधर आंदोलन के समर्थन में हुई कार्मिकों की एक अन्य बैठक में मुख्य संयोजक पंकज कांडपाल, सीएस नैनवाल, धीरेंद्र कुमार पाठक, चंद्रमणि भट्ट, बीसी कांडपाल, आरपी पांडे, पीएस बोरा, श्याम रावत, महेंद्र वर्मा, ललित मोहन, मुकेश रावत, महिपाल राना, प्रकाश रौतला, महेंद्र गुसाई, कमला बिष्ट, पूरन सिंह, सुरेश बवीर आदि ने भाग लिया।
विज्ञापन
विज्ञापन

Latest Video

MORE